कौन से नंबर का बच्चा होता है सबसे ज्यादा समझदार, जानिए क्या कहता है साइंस?

पहले बच्चे को माता-पिता का पूरा अटेंशन मिलता है और उनकी केयर भी बेहतर तरीके से होती है. इससे उनका दिमाग का विकास अच्छी तरह हो पाता है.

News18Hindi
Updated: January 30, 2019, 8:20 AM IST
कौन से नंबर का बच्चा होता है सबसे ज्यादा समझदार, जानिए क्या कहता है साइंस?
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: January 30, 2019, 8:20 AM IST
क्या बर्थ ऑर्डर का असर बच्चों की समझदारी पर पड़ता है? आप इस सवाल का जवाब हां में दें या न में लेकिन साइंस कहता है कि हां बर्थ ऑर्डर का असर इंजेलीजेंसी पर होता है. साल 2018 में नेशनल ब्यूरो ऑफ इकॉनोमिक रिसर्च (NBER) की रिपोर्ट में कहा गया था कि पहला बच्‍चा सबसे ज्यादा इंटेलिजेंट और स्कूल में अपने सिबलिंग से आगे होता है.

रिसर्च में कहा गया था कि फर्स्ट बोर्न चाइल्ड का IQ भी ज्यादा  होता है. इससे पहले भी कई रिसर्च में इस बात का दावा किया जा चुका है कि सिबलिंग में जो सबसे बड़ा होता है वह ज्यादा इंटेलिजेंट होता है. अब सवाल उठता है कि ऐसा क्यों होता है? तो चलिए आपको इसकी वजह बताते हैं-

पैरेंट्स का पूरा अटेंशन मिलना



पहले बच्चे को माता-पिता का पूरा अटेंशन मिलता है और उनकी केयर भी बेहतर तरीके से होती है. इससे उनका दिमाग का विकास अच्छी तरह हो पाता है. कुछ थ्योरीज बताती हैं कि पहले बच्चे को संभालते-संभालते पैरेंट्स फेड अप हो जाते हैं और दूसरे बच्चे को उस तरह की केयर नहीं मिलती जैसे पहले बच्चे को मिलती है. इसलिए बाद में पैदा हुए बच्चे पीछे रह जाते हैं.

ये भी पढ़ें: इस साल ज्यादा बच्चे पैदा करना चाहते हैं चीनी, ये है वजह

ये अनुशासन का मामला है

कई थ्योरी कहती हैं कि माता-पिता पहले बच्चे को अनुशासन में रहने के लिए ज्यादा फोर्स करते हैं. पहले बच्चे को दूसरों को सामने उदाहरण पेश करने के लिए कहा जाता है, जिस कारण वह अधिक जिम्मेदारी से चीजों को लेते हैं और उनकी सफलता की संभावना बढ़ जाती है.
Loading...

मिडिल ऑर्डर के बच्चे भी होते हैं खास

भले ही फर्स्ट बोर्न चाइल्ड का IQ अधिक हो लेकिन रिपोर्ट्स बताती हैं कि बाद में पैदा हुए बच्चों को भी कुछ एडवांटेज मिलते हैं. जैसे वे अधिक सोशल होते हैं. वे  एक्सट्रोवर्ट और सेंटिमेंटल भी होते हैं और दूसरों को जल्दी माफ कर देने वाले होते हैं.

ये भी पढ़ें: बच्चा Left Hand होगा या Right, जन्म के नौ महीने के बाद लगेगा पता

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर