Astronauts के साथ अंतरिक्ष में गया छोटा डायनासोर, जानिए क्या थी इसकी वजह

Astronauts के साथ अंतरिक्ष में गया छोटा डायनासोर, जानिए क्या थी इसकी वजह
अमेरिकी अंतरिक्ष यात्रियों के साथ डायनासोर का खिलौना भी गया था. (स्क्रीन ग्रैब ट्विटर)

हाल ही में स्पेस एक्स के ड्रैगन क्रू (Dragon Crew) में दो अंतरिक्ष यात्रियों के साथ एक डायनासोर (Dinosaur) का खिलौना भी दिखाई दिया. इसका वीडियो वायरल हो गया है.

  • Share this:
नई दिल्ली:  दो दिन पहले ही अंतरिक्ष में अमेरिका की धरती से दो अंतरिक्ष यात्री एक निजी व्यवसायिक अंतरिक्ष यान से ISS के लिए रवाना हुए. इसके अगले दिन दोनों ही यात्रियों ने सफलतापूर्वक ISS में प्रवेश किया. इस यात्रा को वैसे तो कई लिहाज से अहम माना जा रहा है, लेकिन इसमें एक डायानासोर की चर्चा जोरों पर है.

वायरल हुआ डायनासोर का वीडियो
इस यात्रा में अमेरिका के अनुभवी यात्री डॉग हर्ले और रॉबर्ट बेहनकेन शामिल थे. दोनों ने 19 घंटे का सफर तय करने के बाद ISS में प्रवेश किया. दोनों ही यात्रियों का यान में बैठने के बाद के क वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें उनके साथ एक छोटा से डायनासोर का खिलौना तीसरे यात्री के तौर पर दिखाई दे रहा है.

सब कुछ छोड़ डायनासोर की हो रही है चर्चा



इस प्रक्षेपण को दो प्रमुख वजह से खास माना जा रहा था. पहला, यह अमेरिकी धरती से अंतरिक्ष यात्रियों की उड़ान 9 साल बाद हुई है. दूसरा, यह अंतरिक्ष यात्रियों का दुनिया में पहली निजी व्यवसायिक यात्रा है. इन अहम बातों के पीछे छोड़ लोग इन छोटे से चमकदार डायनासोर की चर्चा कर रहे हैं



Space
स्पेस एक्स का ड्रैगन क्रू कैप्सूल में दो नासा अंतरिक्ष यात्री ISS गए हैं.


आ गई ट्वीट की बाढ़
यह खिलौना कैप्सूल में तैरता दिखाई दे रहा था. इसी की वीडियो क्लिप ट्विटर पर वायरल हो गई. लाखों लोगों ने इसे देखा. कई लोगों ने इसके पीछे की वजह जानने की भी कोशिश की. तो किसी ने इस खिलौने की किस्मत की तारीफ की



तो फिर क्या वजह है इसके अंतरिक्ष में जाने की
दरअसल इस खिलौने की दोनों अंतरिक्ष यात्रियों के साथ जाने की एक खास वजह है. यह खिलौना जीरो-जी इंडिकेटर है, यानि यह बताता है कि ग्रैविटी का स्तर शून्य हो गया है. कैप्सूल के अंदर के वैज्ञानिकों को इसी बात से पता चला कि कब ग्रैविटी का मान शून्य हो गया यानि कि वे कब पृथ्वी के गुरुत्व से मुक्त हो गए हैं

क्या पहली बार हुआ है ऐसा
नहीं. दरअसल इस तरह के खिलौने अंतरिक्ष यात्रियों के साथ अंतरिक्ष में जाते रहते हैं. यह वैज्ञानिकों के लिए जानने का सबसे आसान तरीका है कि कब उनका यान गुरुत्व से मुक्त हो कर अंतरिक्ष में पूरी तरह से पहुंच गया है. इतना ही नहीं ऐसा भी नहीं है कि डायनासोर का खिलौना पहली बार ही अंतरिक्ष गया है.  इससे पहले साल 2013 में जब अंतरिक्ष यात्री कैरेन नायबर्ग, जो हर्ले की पत्नी हैं, ISS गईं थी, तब वे भी अपने बेटे के लिए सिले गए डायनासोर के खिलौने को अपने साथ ले गईं थीं.

 



तो फिर डायनासोर ही क्यों
दोनों ही अंतरिक्ष यात्री बेहनकेन और हर्ले बेटों के पिता हैं. और दोनों ही लड़कों को डायनासोर खूब पसंद हैं.  प्रक्षेपण से पहले दोनों ही बच्चों ने अपने सारे डायनासोर खिलौने एक साथ ही रखे थे जिसमें यह चमकीला एपाटोसॉरस उनके पिताओं को कंपनी देने के लिए चुना गया. बेहनकेन का कहना था, यह हमारे लिए सुपरकूल चीज थी कि हम अपने बच्चों के लिए यह कर सके. उम्मीद है कि वे इससे बहुत ही ज्यादा एक्साइटेड हो जाएं जब वे अपने खिलौनों को उड़ते देखेंगे.

यह भी पढ़ें:

2 Asteroid के नमूने लेकर लौटेंगे 2 अंतरिक्ष यान, रोचक है इनका इतिहास

एक Nan device ने कराई कोशिका के अंदर की यात्रा, जानिए कैसे हुआ यह कमाल

एक अरब साल ज्यादा पुरानी हैं पृथ्वी की Tectonic Plates, जानिए क्या बदलेगा इससे

वैज्ञानिकों ने देखा अब तक का सबसे चमकीला, तेज FBOT, जानिए क्या है यह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading