स्वामी उवाचः सुब्रमण्यम के 13 विवादित बयान

बीजेपी नेता अक्सर अपने बयानों के लिए सुर्खियों में रहते हैं...लेकिन अक्सर पार्टी के खिलाफ लगा देते हैं निशाना

News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 4:13 PM IST
स्वामी उवाचः सुब्रमण्यम के 13 विवादित बयान
वरिष्ठ बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी
News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 4:13 PM IST
बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम तीखे और विवादित बयान देने के लिए जाने जाते हैं. वो हर विषय पर बोलते हैं. हर बात पर ऐसी प्रतिक्रिया देते हैं कि अक्सर नया बखेड़ा ही खड़ा हो जाता है. जरूरी नहीं कि उनके निशाने पर विपक्षी हों. उनकी बोल बंदूक से निकली गोली का शिकार कौन होगा-अक्सर ये कह पाना भी मुश्किल होता है. यहां तक की कई बार उनकी अपनी पार्टी और उसके नेता भी उनके निशाने पर आ जाते हैं.
स्वामी अक्सर ट्विटर पर भी बेबाक प्रतिक्रियाएं देकर भी सुर्खियों में आते रहे हैं. उनके जीवन में ये हमेशा हुआ कि उन्होंने दोस्तों को दुश्मन बनाया और दुश्मनों को दोस्त...यानि कहा जा सकता है कि वो अपेक्षित भी हैं.

पिछले कुछ महीनों में तमाम मुद्दों पर दिए गए सुब्रमण्यम स्वामी के विवादित बयान

1. राजीव की हत्या से सोनिया को फायदा हुआ

"सोनिया गांधी ने राजीव गांधी की हत्यारी नलिनी की बेटी की इंग्लैंड में हुई शिक्षा का खर्च उठाया. यहां तक की नलिनी को इंदिरा गांधी यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप दी गई. मुझे समझ नहीं आता कि वो इतनी उदारता क्यों दिखा रहे हैं. लगता है कि कहीं कुछ गड़बड़ तो है. राजीव गांधी की हत्या से सबसे ज्यादा फायदा सोनिया गांधी को हुआ था."

2. सावरकर को बुद्धू कहा
"मैं कभी सावरकर से जुड़े कार्यक्रमों में नहीं जाता, क्योंकि वे बुद्धू थे. सावरकर की नासमझी के कारण जवाहर लाल नेहरू को सबसे ज्यादा फायदा हुआ, जो एकदम एंटी हिंदू थे."

3. जेटली घमंडी हैं
"कालेधन के मामले में मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कई बार उपाय बताए कि वो राशि कैसे भारत आएगी. लेकिन वित्त मंत्रालय पहुंचते ही मेरा पत्र रद्दी में डाल दिया गया. इसकी वजह मंत्रालय में मौजूद वित्त मंत्री अरुण जेटली का घमंडी होना है."

बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (फाइल फोटो)


4. गौतम अडानी पर निशाना
"सरकारी क्षेत्र में एनपीए के सबसे बड़े कलाकार गौतम अडानी हैं. ये वक्त उन्हें जवाबदेह बनाने का है. अगर ऐसा नहीं हुआ तो मैं अडानी के खिलाफ जनहित याचिका दायर करुंगा. कई ऐसी चीजें हैं, जिनसे अडानी दूर भाग रहे हैं. कोई उनसे सवाल भी नहीं पूछ रहा. अडानी अपनी सरकार के करीबी होने की छवि बना रहे हैं. वो सरकार के लिए शर्मिदगी का कारण बन सकते हैं."

5. लेनिन को आतंकवादी था
"लेनिन एक आतंकवादी था. लेनिन तो विदेशी है, एक प्रकार से आतंकवादी है. ऐसे व्यक्ति की हमारे देश में मूर्ति? उस मूर्ति को कम्युनिस्ट पार्टी के हेडक्वार्टर के अंदर रख सकते हैं और पूजा करें."

6. महबूबा ने आतंकियों के सामने सरेंडर किया
"महबूबा ने आतंकियों के आगे सरेंडर कर दिया है. उन्होंने मेजर आदित्य पर एफआईआर कर गलत किया था. ये बात अब सुप्रीम कोर्ट ने भी कह दी है. एफआईआर करने से पहले महबूबा मुफ्ती को आर्म्ड फोर्सेज स्पेशल पावर एक्ट (ASPA) के रूल 7 को पढ़ लेना चाहिए था. इसकी एक लंबी प्रक्रिया है. इसके लिए उन्हें केंद्र से अनुमति लेनी चाहिए थी. रक्षा मंत्री को भी ASPA एक्ट को पढ़ लेना चाहिए था, नहीं तो लॉ मिनिस्ट्री से सलाह लेनी चाहिए. "

7. प्रणय रॉय विदेश भाग सकते हैं
"प्रणय रॉय विदेश भाग सकते हैं, लिहाजा सरकार को उनके खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी करनी चाहिए. मैं पीएम को एक पत्र लिखकर ED और ITD को कहना चाहूंगा कि प्रणय रॉय के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी की जाए, वह दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन भाग सकते हैं."

Subramanian Swamy, सुब्रमण्यम स्वामी, MLA salary issue, एमएलए सैलरी, bjp government, बीजेपी सरकार, pm narendra modi, पीएम नरेंद्र मोदी
बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (फाइल फोटो)


8. पीएनबी वित्त मंत्रालय चुप क्यों
"पीएनबी महाघोटाले पर सिर्फ अरुण जेटली ही नहीं, बल्कि पूरा वित्त मंत्रालय चुप है. रिजर्व बैंक के बोर्ड में बैठने वाले बैंकिंग सेक्रेटरी भी चुप हैं."

9. श्रीदेवी की हत्या हुई
"जब श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई पहुंचा तो मुंबई पुलिस ने श्रीदेवी का पोस्टमार्टम करने से क्यों मना कर दिया? वो शराब नहीं बीयर पीती थीं, उनकी हत्‍या हुई."

10. मैं मोदी के खिलाफ नहीं बोलता
"मैं मोदी के ख़िलाफ़ कभी नहीं बोलता हूं. वो मेरे दोस्त हैं. मैं जो कहता हूं उसे पार्टी चार-पांच महीने बाद लागू करती है. मैं पार्टी के हित में बोलता हूं. गुजरात में बहुमत आया है. मैंने 105 सीट कहा था, लेकिन 99 सीटें मिलीं. जिसने 150 कहा था उससे पूछो कि क्यों नहीं आईं. अगर उससे पूछोगे तो कह देगा कि जुमला है."

11. बीजेपी के नेता वेस्टर्न कपड़ों में क्यों
"वेस्टर्न कपड़े विदेशियों द्वारा थोपी गई चीजों का ही एक हिस्सा है. वेस्टर्न कपड़े भारतीय मौसम के अनुकूल नहीं हैं.वेस्टर्न ड्रेस विदेशों द्वारा थोपी गई है. बीजेपी को यह पार्टी अनुशासन के तौर पर लागू करना चाहिए कि पार्टी के सभी मंत्री भारतीय मौसम के अनुकूल कपड़े पहनें."

12. बीजेपी में शराब बैन हो
"संविधान का आर्टिकल 49 कहता है कि शराब को बैन कर देना चाहिए, हालांकि मैं ऐक्शन पैनल में नहीं हूं लेकिन बीजेपी को पार्टी में अनुशासन के तौर पर शराब पर बैन लगा देना चाहिए."

13. ताजमहल इतिहास का हिस्सा
ताजमहल, लालकिला, इंडिया गेट, संसद, राष्ट्रपति भवन जैसी हसीन इमारतें विदेशी शासकों की बनवाई हुई हैं. ये हमारी सांस्कृतिक विरासत का हिस्सा नहीं बल्कि इतिहास की घटना की गवाह मात्र हैं. लिहाज़ा इनको इसी रूप में देखना और नई पीढ़ी को दिखाना चाहिए.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर