जो बाइडन के अमेरिकी राष्ट्रपति बनते ही किस विवाद में फंसे उनके बेटे

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन अपने बेटे हंटर बाइडन के साथ (Photo-news18 English via twitter)

हंटर बाइडन (Hunter Biden) को लेकर विवादास्पद खबरों का आना नई बात नहीं. उन्हें नशे के आरोप में सेना से निकाला जा चुका है. साथ ही एक बार खुफिया जानकारियों से भरा उनका लैपटॉप भी जब्त किया गया.

  • Share this:
    अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) के बेटे हंटर बाइडन की टैक्स में गड़बड़ी को लेकर जांच चल रही है. वैसे हंटर को लेकर इस जांच के संकेत पहले से मिलते रहे हैं. चुनाव अभियान के दौरान भी मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने नवनिर्वाचित राष्ट्रपति बाइडन और उनके बेटे पर चीन और यूक्रेन में पैसों की भारी हेराफेरी के आरोप लगाए थे.

    अमेरिका के डेलावेयर राज्य में हंटर पर यूक्रेन में पैसों के लेनदेन को लेकर कई बातें संदेह के घेरे में हैं. बीबीसी ने न्यूयॉर्क टाइम्स के हवाले से एक संदिग्ध ई-मेल का जिक्र किया है. इस मेल में यूक्रेनी ऊर्जा कंपनी बरिश्मा (Burisma) के एक अधिकारी ने हंटर को अपने पिता जो बाइडन से मुलाकात करवाने के लिए शुक्रिया कहा है. इस मुलाकात के लिए हंटर को कथित तौर पर भारी रकम दी गई थी. साथ ही साथ हंटर इस कंपनी में बोर्ड सदस्य भी हैं. ये बात पहले भी पकड़ाई में आई लेकिन यूक्रेन ने इस बारे में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

    biden and hunter
    हंटर पर यूक्रेन में पैसों के लेनदेन को लेकर कई बातें संदेह के घेरे में हैं (Photo-news18 English)


    बिडेन के चुनाव कैंपेन के दौरान ट्रंप के आरोपों के जवाब में कहा कि उनके ऑफिशियल शेड्यूल को जांच लिया जाए, जिसमें ऐसी किसी मुलाकात का जिक्र नहीं है. दूसरी ओर कई मीडिया कंपनियां कुछ और ही कहती हैं. जैसे पॉलिटिको के मुताबिक यूक्रेनी कंपनी और जो बाइडन के बीच हंटर बाइडन की मध्यस्ता में कोई अनौपचारिक बातचीत हुई थी, जिसका जिक्र बाइडन के ऑफिशियल शेड्यूल में नहीं रखा गया.

    ये भी पढ़ें: Explained: वो रहस्यमयी बीमारी, जिसमें US के राजदूतों को सुनाई देने लगीं अजीबोगरीब आवाजें

    यहां समझ लें कि यूक्रेन रूस (तत्कालीन सोवियत संघ) का हिस्सा रहा है. ऐसे में दुश्मन देश अमेरिका से किसी डील में उसका जुड़ना सीधे अमेरिका की सुरक्षा से समझौता हो सकता है. यही वजह है कि यूक्रेनी कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में बाडइन के बेटे हंटर का होना कोई बढ़िया संकेत नहीं माना जा रहा. हंटर कंपनी में साल 2014 में आए और साल 2019 के मध्य में कंपनी छोड़ दी. ये इसलिए भी हो सकता है कि उस दौरान अमेरिकी चुनावी चेहरे तय हो रहे थे और बाइडन पर इस तरह का आरोप उन्हें राष्ट्रपति पद के कमजोर उम्मीदवार बना सकता था.

    biden and hunter
    एक बिजनेस डील के दौरान खुद जो बिडेन अपने बेटे के साथ चीन गए थे (Photo-news18 English via Reuters)


    वैसे हंटर को लेकर विवादास्पद खबरों का आना कोई नई बात नहीं. उनपर चीन में भी पैसों के बड़े निवेश की बात कई बार आ चुकी है. उनका का चीन में बड़ा कारोबार है, जिसकी लागत खरबों में है. पॉलिटिफैक्ट वेबसाइट के मुताबिक हंटर ने साल 2008 में चीन में व्यापार की शुरुआत की थी.

    ये भी पढ़ें: किसान आंदोलन का 100 साल पुराने 'पगड़ी संभाल जट्टा' आंदोलन से क्या रिश्ता है? 

    इसपर बाद में एक कंसर्वेटिव लेखक पीटर स्वेजर ने एक किताब भी लिखी थी. "Secret Empires: How the American Political Class Hides Corruption and Enriches Family and Friends" नाम की इस किताब में खुलकर बताया गया है कि कैसे हंटर ने अपने पिता के राजनैतिक ओहदे का इस्तेमाल करते हुए चीन में अपना व्यापार मजबूत किया. बता दें कि हंटर ने कथित तौर पर ये सारी शुरुआत ओबामा के दौर में की, जब उनके पिता उप-राष्ट्रपति थे.

    ये भी पढ़ें: Coronavirus: क्यों अब किसी भी नई बीमारी की वैक्सीन बनने में कम समय लगेगा?  

    एक बिजनेस डील के दौरान खुद जो बिडेन अपने बेटे के साथ चीन गए थे. उसके 10 दिनों के भीतर ही हंटर को चीन के सरकारी बैंक- बैंक ऑफ चाइना से 1.5 बिलियन डॉलर की डील मिली. ट्रंप बार-बार चीन से इसी डील का हवाला देते हैं. कथित तौर पर अपने बेटे की डील के कारण ही बिडेन चीन के खिलाफ उतने सख्त नहीं हो पाते.

    जो बाइडन के राष्ट्रपति बनते चीन के साथ संबंधों के आरोप में फंसे उनके बेटे- सांकेतिक फोटो (Pixabay)


    हंटर का साल 2017 का एक ई-मेल बताता है कि उन्हें एक चीनी खरबपति से सालाना 10 मिलियन फीस केवल इंट्रोडक्शन यानी परिचय के लिए मिलती थी. ये किसके परिचय थे और इसका मतलब क्या है, ये फिलहाल तक मीडिया में नहीं आ सका है. इसके अलावा चीन की एक ऊर्जा कंपनी से भी हंटर जुड़े रहे. मेल में इसका भी जिक्र है.

    ये भी पढ़ें: वो देश, जहां सैनिकों को मिलता है जहरीले सांपों का खून, मानते हैं ताकत का स्त्रोत  

    फॉक्स न्यूज के मुताबिक हंटर पर लगातार इस तरह के आरोपों के बीच पिता बाइडन ने पल्ला झाड़ने की कोशिश की. उन्होंने साफ किया कि बेटे के कारोबार का उनसे कोई मतलब नहीं. वहीं हंटर हमेशा पिता के हवाले से बात करते या फिर उनकी सलाह लेते भी दिखे.

    हंटर बाइडन को नशे के आरोप में सेना से निकाला जा चुका है. साथ ही एक बार वाइट हाउस की खुफिया जानकारियों से भरा उनका लैपटॉप भी जब्त हुआ था. ये उस दौर की बात है, जब जो बाइडन ओबामा के दौरान उप-राष्ट्रपति थे.हालिया टैक्स जांच के पीछे ऐसी कई वजहें गिनाई जा रही हैं, जो इशारा करती हैं कि एक खास पीरियड के दौरान बाइडन के बेटे हंटर ने टैक्स में घोटाला किया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.