Home /News /knowledge /

भारत के वो राज्य जहां कोरोना से नहीं हुई कोई मौत

भारत के वो राज्य जहां कोरोना से नहीं हुई कोई मौत

भारत के कई राज्य अब भी ऐसे हैं जहां मौत के कोई मामले सामने नहीं आए हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

भारत के कई राज्य अब भी ऐसे हैं जहां मौत के कोई मामले सामने नहीं आए हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रोज आ रहे संक्रमित मामलों (Covid-19 Infection Cases) के बीच भारत की स्थिति गंभीर होती जा रही है. कई राज्य में संक्रमण के मामले तेजी से सामने आए हैं. देश में मौतों की संख्या 872 हो चुकी है. लेकिन इस बीच कुछ ऐसे भी राज्य हैं जहां एक भी मौत नहीं हुई है.

अधिक पढ़ें ...
    भारत में कोरोना वायरस की वजह से अब संक्रमण के करीब 28 हजार मामले सामने आ चुके हैं. अब तक 6100 लोग ठीक हो चुके हैं और 872 लोगों की मौत हो चुकी है. इस वक्त भारत में एक्टिव की केस की संख्या तकरीबन 21 हजार है. रोज आ रहे संक्रमित मामलों के बीच भारत की स्थिति गंभीर होती जा रही है. कई राज्य में संक्रमण के मामले तेजी से सामने आए हैं. मामलों की संख्या सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में है. राज्य में अब तक संक्रमण के 6650 मामले सामने आए हैं जबकि 342 मौतें अकेले यहीं हुई हैं. हालांकि भारत के कई राज्य अब भी ऐसे हैं जहां मौत के कोई मामले सामने नहीं आए हैं.

    उत्तराखंड
    देवभूमि के नाम से मशहूर उत्तराखंड में कोरोना के अब तक 50 मामले सामने आ चुके हैं. लेकिन अब तक राज्य में इस महामारी की वजह से एक भी मौत नहीं हुई है. इन 50 मामलों में 28 मरीज ठीक भी हो चुके हैं. इस वक्त राज्य में एक्टिव केस की संख्या 22 है. राज्य में कोरोना का पहला मामला 16 मार्च को ही सामने आया था. स्पेन के स्टडी टूर पर गए एक ट्रेनी फॉरेस्ट ऑफिसर राज्य के पहले कोरोना पॉजिटिव केस हैं.

    छत्तीसगढ़
    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अगुवाई वाले छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के अब तक 37 मामले सामने आए हैं. इनमें 32 मरीज ठीक होकर घर वापस जा चुके हैं. इस समय राज्य में सिर्फ 5 एक्टिव केस हैं. 19 मार्च को छत्तीसगढ़ में लंदन से लौटी 24 वर्षीय एक युवती के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि की गई थी. छत्तीसगढ़ में संक्रमितों की बड़ी अनुपातिक संख्या के मुकाबले में उनके स्वस्थ्य होने की दर देश में सबसे बेहतर है. छत्तीसगढ़ कोरोना के शुरुआती समय में ही खतरा पनपने लगा था. एक समय ऐसा भी आया, जब एक क्षेत्र में सामुदायिक संक्रमण का खतरा भी दिखा, लेकिन छत्तीसगढ़ ने मल्टी डायमेंशनल कंट्रोल की प्रक्रिया अपना कर इस पर अब तक नियंत्रण बनाए रखा है.

    कोविड-19, कोविड-19 अपडेट, कोरोना वायरस, गौतमबु्द्ध नगर, COVID-19, COVID-19 Update, Coronavirus, Gautambuddha Nagar

    चंडीगढ़
    दो राज्यों की राजधानी और केंद्र शासित चंडीगढ़ में कोरोना वायरस से एक भी मौत नहीं हुई है. चंडीगढ़ में इस महामारी के कुल 30 केस सामने आए हैं जिनमें 17 अब तक ठीक हो चुके हैं. केवल 13 एक्टिव केस हैं जिनका इलाज चल रहा है. चंडीगढ़ में कोरोना की पहली मरीज एक लड़की थी जो कुछ ही दिनों पहले इंग्लैंड से वापस लौट कर आई थी. पहला केस 19 मार्च को सामने आया था. चंडीगढ़ पर शुरुआत से खतरा बना हुआ था क्योंकि पंजाब और हरियाणा दोनों ही जगह कोरोना फैलने का खतरा बना हुआ था. लेकिन इसे प्रशासनिक सफलता ही कहा जा सकता है कि यहां अब तक कोरोना वायरस की वजह से अब तक एक भी मौत नहीं हुई है.

    अंडमान एंड निकोबार
    केंद्र शासित प्रदेश अंडमान और निकोबार में कोरोना के कुल 33 मामले सामने आए हैं जिनमें 22 अब तक ठीक हो चुके हैं. 11 लोगों का इलाज चल रहा है. 26 मार्च को यहां कोरोना से पहला व्यक्ति संक्रमित पाया गया था. यह शख्स 24 मार्च को हवाई जहाज के जरिए चेन्नई से यहां पहुंचा था.

    लद्दाख
    नए बने केंद्रशासित प्रदेश लद्दाख में कोरोना के कुल 20 मामले सामने आए हैं जिनमें 14 ठीक चुके हैं. अब महज 6 लोगों का इलाज चल रहा है. लद्दाख ने कोरोना का पहला मामला आने के बाद ही त्वरित कार्रवाई करते हुए न सिर्फ प्रदेश की सीमाएं सील कर दी थीं बल्कि उन गांवों को भी पूरी तरह से क्वारंटाइन कर इस बीमारी के आगे फैलने पर रोक लगा दी थी.

    Coronavirus
    प्रतीकात्मक तस्वीर


    गोवा, मणिपुर, त्रिपुरा
    गोवा, मणिपुर और त्रिपुरा तीनों ही अब कोरोना मुक्त घोषित हो चुके हैं. इन तीनों ही राज्यों में कोरोना से कोई मौत नहीं हुई है. गोवा में सामने आए 7 संक्रमित ठीक हो चुके हैं. मणिपुर और त्रिपुरा में आए दो-दो मरीज अब ठीक हो चुके हैं. मणिपुर और त्रिपुरा तो उत्तर पूर्व के दूरस्थ इलाकों में पड़ते हैं लेकिन गोवा पर कोरोना के संक्रमण के मास स्प्रेड का काफी ज्यादा खतरा था. यहां बाहर से आने वाले सैलानियों की संख्या भी बहुत ज्यादा होती है.

    पुडुचेरी, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम
    पुडुचेरी में कोरोना के कुल 8 मामले ही सामने आए जिनमें 5 अब तक ठीक हो चुके हैं. 3 लोगों का इलाज चल रहा है. अरुणाचल में सामने आया एक मामला ठीक हो चुका है वहीं मिजोरम में सिर्फ 1 केस ही सामने आया जिसका इलाज अभी जारी है.

    ये भी देखें:

    दुनियाभर के विमानों में अब कोरोना के बाद कौन सी सीट रखी जाएगी खाली

    तानाशाह किम जोंग की एक ट्रेन रिजॉर्ट के पास दिखी, बाकी स्पेशल ट्रेनें कहां हैं

    जानिए क्या है कोरोना का सबसे घातक प्रकार, जो गुजरात और मप्र में बरपा रहा है कहर

    अंग्रेजों के वक्त भी होता था लॉकडाउन, मिलती थी महीनेभर की सैलरी मुफ्त

    Tags: Corona Virus, Coronavirus in India, COVID-19 pandemic

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर