अपना शहर चुनें

States

खिड़कियां खोलने से लेकर स्मार्टफोन चलाने तक, वे काम जो US के राष्ट्रपति नहीं कर सकते

राष्ट्रपति बतौर  वाइट हाउस में रहना कोई हंसी-खेल नहीं (Photo-flickr )
राष्ट्रपति बतौर वाइट हाउस में रहना कोई हंसी-खेल नहीं (Photo-flickr )

अमेरिकी राष्ट्रपति (president of America) को भले ही दुनिया का सबसे ताकतवर शख्स माना जाए लेकिन कई ऐसी सामान्य बातें हैं, जो उन्हें करने की मंजूरी नहीं होती.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 10:48 PM IST
  • Share this:
वाइट हाउस में अपने कार्यकाल के दौरान राष्ट्रपति को सुरक्षा के लिहाज से काफी संभलकर रहना होता है. यही कारण है कि नेशनल सिक्योरिटी एजेंसी राष्ट्रपति के लिए भी 'क्या नहीं करना है' की लिस्ट बनाए रखती है.

ताजा मामला राष्ट्रपति बाइडन से जुड़ा है
बाइडन लॉकडाउन के समय से कसरत के लिए पेलोटॉन बाइक इस्तेमाल करते आए हैं. काफी हाई-टेक ये बाइक अब विवाद का मसला बनी हुई है. एक एक साइंस मैगजीन Popular Mechanics ने इस बाइक में इंस्टॉल्ड फीचर्स को बाइडन की सुरक्षा पर खतरा बताया. इसके बाद बाइडन तो वाइट हाउस पहुंच गए लेकिन ये बाइक अब भी सुरक्षा एजेंसियों की निगरानी में है. दरअसल बाइक में कैमरा, माइक्रोफोन और टैबलेट जुड़ा हुआ है. अब एजेंसियों को डर है कि हैक होने पर राष्ट्रपति की गोपनीय बातें फैल सकती हैं.

पहले भी होते रहे विवाद 
ये तो हुई बाइडन की बात, लेकिन वाइट हाउस में रहना कोई हंसी-खेल नहीं. इससे पहले भी राष्ट्रपति के लिए कई बातें पर विवाद होता आया है कि वे क्या-क्या नहीं कर सकते हैं. जैसे राष्ट्रपति अपने दोस्तों के साथ सामान्य फोन या वीडियो कॉल पर गप्पें नहीं लगा सकते हैं. सीक्रेट सर्विस इसके लिए एक सुरक्षित लाइन मुहैया कराती है. ऐसे में जाहिर है कि अचानक मन होने पर दोस्तों या परिवार को फोन करने जैसी कोई सुविधा राष्ट्रपति के पास नहीं.



white hous
राष्ट्रपति अपने दोस्तों के साथ सामान्य फोन या वीडियो कॉल पर गप्पें नहीं लगा सकते हैं - सांकेतिक फोटो




ओबामा पहले थे जो स्मार्टफोन रख सके 
ज्यादातर राष्ट्रपतियों को स्मार्टफोन और यहां तक कि ईमेल्स भी इस्तेमाल करने की मंजूरी नहीं मिल सकी. पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ऐसे पहले ज्ञात राष्ट्रपति रहे, जिन्होंने ईमेल का इस्तेमाल शुरू किया. यहां तक कि ओबामा ने अपने पास स्मार्टफोन रखने के लिए नेशनल सिक्योरिटी एजेंसी (NSA) से भी बातचीत की और मंजूरी पाई. हालांकि ओबामा के फोन से सारे बिल्ट-इन फीचर हटा दिए गए थे और उन्हें केवल 10 नंबर सेव करने की इजाजत मिल सकी थी.

ये भी पढ़ें: चीन में मीठे पानी की सबसे बड़ी झील 'पोयांग' को लेकर क्यों मचा हल्ला?   

फिल्म देखने नहीं जा सकते
सामान्य लोगों की तरह अमेरिकी राष्ट्रपति फिल्म या नाटक देखने नहीं जा सकता. अगर राष्ट्रपति को फिल्म देखने का मन कर तो वाइट हाउस में ही उन्हें ये सुविधा दी जाती है. हां बाहर जाकर दोस्तों या परिवार के साथ खाना खाया जा सकता है लेकिन इसके लिए राष्ट्रपति को पहले से ही सीक्रेट सर्विस को बताना और मंजूरी लेनी होती है.

ये भी पढ़ें: रूसी राष्ट्रपति पुतिन का आलीशान सीक्रेट महल, जहां किसी का भी पहुंचना नामुमकिन है

राष्ट्रपति नहीं टाल सकता सीक्रेट सर्विस की बात
यहां ये समझ लें कि खुफिया एजेंसी अगर किसी बात सुरक्षा के लिहाज से संवेदनशील कह दे तो उसे टालना राष्ट्रपति के भी बूते की बात नहीं. रही बात बाहर जाकर खाने की, तो भी अगर मंजूरी मिल जाए तो पूरी सुरक्षा साथ चलती है और साथ ही साथ राष्ट्रपति का आधिकारिक फूड टेस्टर भी साथ रहता है. ये वो शख्स होता है जो राष्ट्रपति का खाना देखकर, सूंघकर और चखकर बताता है कि वो सुरक्षित है.

रेस्त्रां जाने के लिए राष्ट्रपति को पहले से ही सीक्रेट सर्विस को बताना और मंजूरी लेनी होती है- सांकेतिक फोटो (pixabay)


एक बड़ी समस्या है ड्राइव पर जाना
राष्ट्रपति तो छोड़े, पूर्व राष्ट्रपतियों को भी अकेले ड्राइव करने की इजाजत नहीं होती है. इसपर समय-समय पर बात होती रही. पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ड डब्ल्यू बुश ने इसपर काफी हो-हल्ला भी किया था लेकिन बात वहीं आकर अटक गई कि ये राष्ट्रपति की सुरक्षा ही नहीं, बल्कि उसके पास राष्ट्रपति काल के दौरान आने वाली संवेदनशील सूचनाओं की भी सुरक्षा का सवाल है. लिहाजा, ड्राइविंग का अधिकार किसी पूर्व राष्ट्रपति के पास भी नहीं है.

स्कूल भी नहीं जा पाते हैं
राष्ट्रपतियों के पास सामान्य अभिभावकों की तरह के अधिकार भी नहीं रह जाते हैं. जैसे अगर राष्ट्रपति या पूर्व राष्ट्रपति अपने बच्चों के स्कूल या पेरेंट-टीचर मीट जैसे मौकों पर जाना चाहें तो वे चाहकर भी ये नहीं कर सकते हैं. इसकी वजह वही है- सुरक्षा. यहां तक कि बच्चों के स्कूल तक में उनकी अलग से सुरक्षा की जाती है. यही कारण है कि कई राष्ट्रपतियों के बच्चे वाइट हाउस के भीतर ही पढ़ाए गए.

भवन या कार की बंद खिड़कियां 
इन सबसे ऊपर जो सबसे अजीब बात है, वो है खिड़कियां खोलने पर पाबंदी. पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा ने एक बार इंटरव्यू के दौरान कहा था कि वे सबसे ज्यादा इसी बात से नाखुश रहती हैं. तब ओबामा राष्ट्रपति थे. बता दें कि वाइट हाउस में कोई खिड़की खुली हुई नहीं रहती है और न ही कार में जाते-आते खिड़कियां खोली जाती हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज