देश-दुनिया की 10 बड़ी ख़बरें जो आज आपको जाननी चाहिए

मनोहर पर्रिकर (फाइल फोटो)

मनोहर पर्रिकर (फाइल फोटो)

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का 63 की उम्र में रविवार को निधन हो गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2019, 7:03 AM IST
  • Share this:
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का लंबे वक्त तक पैनक्रियाटिक कैंसर से जूझने के बाद रविवार शाम निधन हो गया. उनके सम्मान में आज राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया गया है. आज शाम उनका अंतिम संस्कार होगा. इसके अलावा और क्या हैं आज की सुर्खियां, पढ़ें -

मनोहर पर्रिकर का निधन, राष्ट्रीय शोक का ऐलान, आज शाम होगा अंतिम संस्कार

# गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का 63 की उम्र में रविवार को निधन हो गया.



# पर्रिकर लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे. वह पैनक्रियाटिक कैंसर से जूझ रहे थे.
# पर्रिकर के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया कि रक्षा मंत्री के तौर पर पर्रिकर ने जो फैसले लिए उनके लिए देश हमेशा उनका आभारी रहेगा.
यहां क्लिक करके पढ़ें कैसा था पर्रिकर का व्यक्तित्व?

 

कौन बनेगा मनोहर पर्रिकर का उत्‍तराधिकारी, बीजेपी और साथी दलों ने की अलग-अलग बैठकें

# मुख्‍यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद उनके उत्‍तराधिकारी को चुनने की प्रकिया शुरू हो गई है.

# इसके लिए बीजेपी कोर कमिटी की बैठक हो रही है.

# वह गोवा फॉरवर्ड पार्टी, महाराष्‍ट्र गोमांतक पार्टी और निर्दलीयों के साथ गठबंधन सरकार चला रहे थे.
यहां क्लिक करके पढ़ें गोवा के सियासी समीकरण



PM मोदी-अमित शाह समेत BJP नेताओं ने ट्विटर पर बदले नाम, सब हो गए 'चौकीदार'

# पीएम मोदी ने शनिवार को #MainBhiChowkidar से प्री-पोल कैंपेन की शुरुआत की.

# उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट किया. वीडियो में वह कह रहे हैं, 'आपका चौकीदार मजबूती से खड़ा है और देश की सेवा कर रहा है.'

# लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र अपनी 'चौकीदार' छवि को देखते हुए पीएम अपने पर्सनल ट्विटर हैंडल का नाम बदलकर 'चौकीदार नरेंद्र मोदी' कर लिया है.
यहां क्लिक करके विस्तार से पढ़ें पूरी ख़बर

लोकसभा चुनाव: बंगाल में कांग्रेस और लेफ्ट में नहीं बनी बात, गठबंधन टूटा

# लोकसभा चुनाव के लिए पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और वामपंथी दलों में गठबंधन को झटका लगा है.

# बंगाल कांग्रेस के अध्यक्ष सोमेंद्र नाथ मित्रा ने वाम दलों से समझौते के प्रस्‍ताव को खत्‍म करने का ऐलान किया है.

# उनका आरोप है कि वाम दल बेवकूफ बना रहे हैं और शर्तें थोप रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि उनकी पार्टी अकेले चुनाव लड़ेगी. लेफ्ट ने बिना सलाह मशविरे के बंगाल की 25 सीटों पर उम्‍मीदवारों का ऐलान कर दिया. इसके चलते उन्‍होंने अकेले ही बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस का सामना करने का फैसला किया है.
यहां क्लिक करके पढ़ें कैसे बिगड़ी बात?

BJP के इन मंत्रियों की बदलेगी सीट, महागठबंधन के खिलाफ यहां से ठोकेंगे ताल!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज