लाइव टीवी

अमेरिका में उबर में हुए महिलाओं से यौन हिंसा के 3,045 मामले

News18Hindi
Updated: December 6, 2019, 1:11 PM IST
अमेरिका में उबर में हुए महिलाओं से यौन हिंसा के 3,045 मामले
उबर ने अपनी सर्विस के दौरान हुए क्राइम के आंकड़े जारी किए हैं

उबर (Uber) ने अपनी सर्विस का इस्तेमाल किए जाने के दौरान हुए अपराध (crime) के आंकड़े जारी किए हैं. उबर के मुताबिक उनकी सर्विस का इस्तेमाल किए जाने के दौरान साल 2018 में अमेरिका (america) में 3,045 यौन हिंसा (sexual assault) के मामले दर्ज किए गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 6, 2019, 1:11 PM IST
  • Share this:
दुनिया के हर हिस्से में कैब सर्विस (cab service) ने सफर को आसान बनाया है. ओला (Ola) और उबर (Uber) जैसी कैब कंपनियां पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम (public transport system) की रीढ़ बन चुकी हैं. हालत ये है कि कल्पना करना मुश्किल है कि अगर पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम से ऐसी कैब कंपनियां गायब हो जाएं तो क्या हाल होगा.

भारत में भी ओला और उबर जैसी कैब कंपनियां छोटे शहरों तक में अपनी सर्विस दे रही हैं. लेकिन हाल के दिनों में इन कैब कंपनियों को लेकर कुछ विवाद भी सामने आए हैं. कई बार सुरक्षा के मापदंडों की अनदेखी के आरोप लगे हैं. कैब सर्विस का इस्तेमाल करने के दौरान अपराध की घटनाएं हुई हैं. खासकर महिलाओं के साथ हुए अपराध ने एक सवाल खड़ा कर दिया है कि क्या कैब से सफर करना सुरक्षित है?

भारत में भी इस तरह की कैब सर्विस में महिलाओं के साथ छेड़खानी से लेकर रेप तक की घटनाएं हुई हैं. ज्यादातर मामलों में ड्राइवर की जिम्मेदारी मानी गई. सवाल है कि क्या कैब कंपनियों की इस बारे मे कोई जिम्मेदारी नहीं बनती?

उबर ने अमेरिका में हुए यौन हिंसा के आंकड़े जारी किए

उबर ने अपनी सर्विस का इस्तेमाल किए जाने के दौरान हुए अपराध के आंकड़े जारी किए हैं. उबर के मुताबिक उनकी सर्विस का इस्तेमाल किए जाने के दौरान साल 2018 में अमेरिका में 3,045 सेक्सुअल असॉल्ट (यौन हिंसा) के मामले दर्ज किए गए. कुल 9 लोगों की मौत हुई, जबकि 58 लोग कार क्रैश में मारे गए.

उबर का मानना है कि जिस बड़े पैमाने पर उनकी कैब कंपनी अपनी सर्विस दे रही है, उस लिहाज से अपराध का आंकड़ा बहुत ही कम है. अमेरिका में उबर ने पिछले साल लोगों को 1.3 बिलियन सवारी उपलब्ध करवाई. इतनी बड़ी संख्या में सवारी के लिहाज से अपराध का आंकड़ा सिर्फ 0.0002 फीसदी बैठता है. इस आंकड़े के साथ उबर अपने सुरक्षित सफर का दावा कर रही है.

uber says 3045 sex assaults were reported in us rides last year
अमेरिका में उबर में सफर करने के दौरान साल 2018 में 3,045 यौन हिंसा के मामले सामने आए
न्यूयॉक पुलिस अपने यहां सफर के दौरान हुए अपराध के आंकड़े रखती है. पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक 2018 में सफर करने के दौरान रेप और यौन अपराध के 533 मामले दर्ज किए हैं.

अपराध पर उबर के आंकड़ों में कितनी सच्चाई?
अपने आंकड़ों के साथ उबर सुरक्षित कैब सर्विस देने का दावा कर रही हैं. हालांकि खुद उबर के अधिकारी इसे मानने को तैयार नहीं हैं. न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक उबर के एक टॉप एक्जीक्यूटिव ने कहा है कि कंपनी के आंकड़ों पर विश्वास करना मुश्किल है. एक अधिकारी ने बताया कि उबर जिस समाज को अपनी सेवाएं प्रदान कर रही है, आंकड़े उसी को प्रतिबिंबित करती हैं.

उबर कैब सर्विस प्रदान करने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है. कम से कम इतनी बड़ी कंपनी को अपनी जिम्मेदारियों का बखूबी पता होना चाहिए. ऐसी कंपनियों को अपने यहां होने वाली अपराध, चाहे वो सेक्स क्राइम ही क्यों न हो, उसके प्रति पारदर्शी होना चाहिए.

अमेरिका तक में ऐसी दिक्कत है कि कई कैब कंपनियां बिना ड्राइवर की ज्यादा जांच परख किए कार की चाबी दे देती हैं. अमेरिका के बड़े शहरों में कैब सर्विस इस्तेमाल करने के दौरान सेक्स क्राइम के मामले बढ़े हैं. कई कैब कंपनियां इस मामले में मुकदमा झेल रही हैं.

भारत में चर्चित रहा था उबर में हुआ एक रेप
2017 में उबर में सफर करने के दौरान भारत में हुए एक सेक्स क्राइम की बहुत चर्चा हुई थी. महिला ने रेप और यौन हिंसा की शिकायत दर्ज करवाई थी. बाद में उसने उबर पर भी मुकदमा ठोक दिया. महिला ने आरोप लगाया कि उबर ने उसके मेडिकल रिकॉर्ड्स के साथ छेड़छाड़ की थी. बाद में उसने कंपनी के साथ सेटलमेंट कर लिया.

uber says 3045 sex assaults were reported in us rides last year
कैब में महिलाओं की सुरक्षा का सवाल बड़ा है


सिर्फ इसी हफ्ते अमेरिका में उबर की सर्विस का इस्तेमाल करने के दौरान 19 महिलाओं ने यौन हिंसा की शिकायत दर्ज करवाई है. हालांकि उबर की ओर से कहा जाता है हाल के वर्षों में कंपनी ने सुरक्षा के कड़े और हाईटेक टेक्नोलॉजी वाले इंतजाम किए हैं. उबर नियमित तौर पर अपने ड्राइवरों के रिकॉर्ड्स खंगालता है. ड्राइवरों की क्रिमिनल हिस्ट्री खंगाली जाती है. उबर का दावा है कि साल 2018 में कंपनी ने सिर्फ अमेरिका में अपने 40 हजार ड्राइवर निकाल दिए. ये लोग उबर की ऑटोमेटेड टेक्नोलॉजी जांच में फेल रहे थे.

रेप के मामलों पर उबर का कहना है कि 92 फीसदी मामलों में रेप की पीड़िता सवारी थीं. लेकिन इन मामलों में ड्राइवर्स ने भी दूसरी तरह की यौन हिंसा की शिकायत की थी. कंपनी का कहना है कि साल 2017 में यौन हिंसा के 2,936 और साल 2018 में 3,045 मामले दर्ज हुए.

ये भी पढ़ें: बाबरी विध्वंस: जब कल्याण सिंह ने कहा था- रोक निर्माण पर लगी है, विध्वंस पर नहीं
नित्यानंद की तरह आप भी खरीद सकते हैं आईलैंड, बस इतनी रकम चाहिए
जब सोनिया गांधी के साथ चाय पीने के बाद जयललिता ने गिरा दी थी वाजपेयी सरकार
जानिए पुनर्जन्म पर क्या बोले सुप्रीम कोर्ट के जाने-माने जज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2019, 1:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर