लाइव टीवी

रेप के इन वीभत्स मामलों से दहल गया था देश

News18Hindi
Updated: December 7, 2019, 12:40 PM IST
रेप के इन वीभत्स मामलों से दहल गया था देश
प्रतीकात्मक तस्वीर

पिछले कुछ वर्षों में रेप और गैंगरेप (rape and gangrape) के कई वीभत्स मामले सामने आए हैं. कुछ चर्चित मामलों की बात करें तो नवंबर 1973 में अरुणा शानबाग रेप केस मामला काफी चर्चित रहा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 7, 2019, 12:40 PM IST
  • Share this:
रेप और गैंगरेप (rape and gang rape) के आएदिन होने वाले मामलों पर देश उबल रहा है. हैदराबाद गैंगरेप (Hyderabad Gangrape) ने सबको सन्न कर दिया. लोगों के गुस्से का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जब गैंगरेप के आरोपी पुलिस एनकाउंटर (police encounter) में मारे गए तो लोगों ने पुलिसकर्मियों पर फूल बरसाए. पूरे देश में जश्न मनाया गया. उन्नाव गैंगरेप की घटना पर भी पूरा देश सकते में है. अब लोग इस मामले के आरोपियों को हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों की तरह एनकाउंटर में मार दिए जाने की बात कर रहे हैं. पूरे देश में इन घटनाओं को लेकर जबरदस्त आक्रोश है.

पिछले कुछ वर्षों में रेप और गैंगरेप के कई वीभत्स मामले सामने आए हैं. कुछ चर्चित मामलों की बात करें तो नवंबर 1973 में अरुणा शानबाग रेप केस मामला काफी चर्चित रहा था. अरुणा शानबाग मुंबई के किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल में नर्स थी. अरुणा शानबाग का हॉस्पिटल के ही एक वॉर्ड बॉय सोहनलाल भरथा वाल्मिकी ने बुरी तरह से रेप किया. रेप और हमले ने अरुणा शानबाग के दिमाग को गंभीर चोट पहुंचाई. अरुणा कोमा में चली गई. 42 साल तक कोमा में रहने के बाद 2015 में अरुणा शानबाग का निधन हो गया.

जब रेप और मर्डर के मामले में मिली थी फांसी
1990 में हुआ हेतल पारिख रेप केस मामला भी काफी चर्चित रहा था. कोलकाता में एक 14 साल की लड़की की रेप करके हत्या कर दी गई थी. मामले के आरोपी धनंजय चटर्जी को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई. 2004 में धनंजय चटर्जी को फांसी पर लटका दिया गया. वो 13 साल में पहली फांसी थी.

 

unnao and hyderabad like brutal rape cases know some well known violence against women
रेप के मामलों पर महिलाओं का विरोध प्रदर्शन


1996 का प्रियदर्शिनी मट्टू केस भी सुर्खियों में रहा था. प्रियदर्शिनी मट्टू लॉ स्टूडेंट थी. मट्टू दिल्ली के अपने फ्लैट में मृत पाई गई थीं. बाद में पता चला कि उनके साथ रेप भी हुआ था. इस मामले में प्रियदर्शिनी मट्टू के दोस्त संतोष कुमार सिंह को आरोपी बनाया गया. पूर्व सीनियर पुलिस अधिकारी के बेटे संतोष कुमार सिंह को कोर्ट ने सबूतों के अभाव में बरी कर दिया.बाद जनता के दबाव पर मामले की दोबारा जांच हुई. उसके बाद संतोष सिंह को फांसी की सजा सुनाई गई, जो बाद में आजीवन कारावास में बदल दी गई.

निर्भया रेप मामले पर उबल पड़ा था पूरा देश
रेप और गैंगरेप के हर बड़े मामले के बाद 2012 के निर्भया केस को जरूर याद किया जाता है. दिल्ली में दिसंबर 2012 में 23 साल की एक छात्रा का चलती बस में गैंगरेप हुआ था. गैंगरेप इतने वीभत्स तरीके से किया गया था कि पीड़िता के प्राइवेट पार्ट्स में रॉड घुसा दी गई थी. गैंगरेप में बुरी तरह से जख्मी पीड़िता की बाद में मौत हो गई.

इस मामले में एक नाबालिग के साथ 5 आरोपी पकड़े गए. एक आरोपी ने मामले के ट्रायल के दौरान ही फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. नाबालिग आरोपी 3 साल तक सुधारगृह में रहने के बाद छूट गया. बाकी के 4 आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई गई है. लेकिन सजा पर राष्ट्रपति के मुहर का इंतजार है.

unnao and hyderabad like brutal rape cases know some well known violence against women
रेप की घटनाओं पर विरोध प्रदर्शन


जनवरी 2018 में हुआ कठुआ रेप और मर्डर केस ने भी पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था. कश्मीर के कठुआ में 8 साल की एक मुस्लिम लड़की को मंदिर में बंधक बनाकर रखा गया. बच्ची को ड्रग्स देकर एक हफ्ते तक बंधक बनाकर रखा गया और उसके साथ बार-बार बलात्कार हुआ. बाद में पत्थर से कुचलकर उसकी हत्या कर दी गई. इस मामले में 6 लोगों पर दोष साबित हुआ है. इसमें एक पुजारी और तीन पुलिस अफसर भी शामिल हैं. तीन आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है.

जुलाई 2018 में चेन्नई का एक रेप केस सुर्खियों में रहा. 12 साल की एक लड़की के साथ 7 महीने तक रेप होता रहा. इस मामले में 18 लोगों पर आरोप तय हुए. इन लोगों ने ड्रग्स देकर लड़की के साथ लगातार बलात्कार किया था. फिर एक खाली अपार्टमेंट ले जाकर लड़की के साथ मारपीट भी करते थे.

ये भी पढ़ें: एनकाउंटर के बाद हैदराबाद पुलिस को फॉलो करने होंगे सुप्रीम कोर्ट के ये गाइडलाइन
क्या पुलिस के पास किसी आरोपी की जान लेने का अधिकार है?
तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के रूप में मशहूर हैं पुलिस कमिश्नर सज्जनार
गैंगरेप के आरोपियों का क्यों हुआ एनकाउंटर, पुलिस ने बताई ये वजह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 12:40 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर