Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    अमेरिकी चुनाव में कितना खर्च होता है पैसा और कहां से आता है ये

    इस बार अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव (US Presidential Election) में उम्मीद से बहुत ही ज्यादा खर्चा हो रहा है.
    इस बार अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव (US Presidential Election) में उम्मीद से बहुत ही ज्यादा खर्चा हो रहा है.

    अमेरिका (US) में हो रहे राष्ट्रपति चुनाव (Presidential Election) में इस बार अनुमान से कहीं ज्यादा पैसा खर्च (Expenditure) हो रहा है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 30, 2020, 11:49 AM IST
    • Share this:
    अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव (US Presidential election) में मतदान (Voting) आगामी 3 नवंबर को होने जा रहा है. यह चुनाव दुनिया का सबसे खर्चीला चुनाव (expensive election) माना जाता है. इसके लिए प्रचार सालों पहले ही शुरू हो जाता है. पिछले कुछ चुनावों से अरबों डॉलर खर्च होते रहे हैं. इस बार के चुनाव (Election) में खर्चा काफी ज्यादा हो रहा है, लेकिन इस बार यह कुछ अलग तरह का है.

    पिछले चुनाव से कितना ज्यादा
    2016 में हुए पिछले चुनाव में कुल खर्चा का आंकलन 6.5 बिलियन डॉलर आंका गया था. इस बार का चुनाव अब तक का सबसे खर्चीला चुनाव होने जा रहा है. पिछले चुनाव चक्र की तुलना में दो गुना होने का अनुमान है. एक रिसर्च ग्रुप को उम्मीद है कि इस बार चुनाव का खर्चा हाल के पिछले अनुमान से 3 अरब डॉलर ज्यादा तक पहुंच जाएगा.

    सुप्रीम कोर्ट में भी हुई जंग
    सेंटर फॉर रिस्पोंसिव पॉलिटिक्स का कहना है कि इस चुनाव के मतदान से पहले के महीनों में असामान्य रूप विशाल पैसे की आवन ने अमेरिका के सुप्रीम कोर्ट में एक जंग छेड़ दी है. इसमें पहले से जो 11 अरब डॉलर का खर्चे का अनुमान लगाया गया था, अब वे बढ़ा दिया गया है.



    कितना होगा इस बार का खर्चा
    इस सेंटर का कहना है कि 2020 चुनावों में कुल खर्चा 14 अरब डॉलर तक पहुंच कर खर्च के सारे रिकॉर्ड तोड़ देगा. डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन अमेरिकी इतिहास के पहले ऐसे उम्मीदवार होंगे जिनका जमा किया डोनेशन एक अरब डॉलर के पार होगा. उनके अभियान में 14 अक्टूबर तक  938 मिलियन डॉलर रिकॉर्ड डोनेशन जमा कर लिया था. वहीं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 596 मिलियन डॉलर जुटाए.

    JOE BIDEN US PRESIDENTIAL ELECTION
    राष्ट्रपति चुनाव में जो बाइडेन (Joe Biden) ने इस बार एक अरब से ज्यादा का दान जमा किया है.( फाइल फोटो AP Photo/Julio Cortez)


    कोरोना का भी हुआ असर
    गौरतलब है कि इस बार कोरोना वायरस के कारण चुनावी गतिविधियां उस सक्रियता से नहीं हो पाई हैं जितनी कि होती रही हैं इस बार आम दानकर्ताओं से लेकर अरबपतियों तक ने कम दान दिया है. इस बार  महिलाएं ज्यादा दान कर रही हैं, अमेरिकी उन उम्मीदवारों को ज्यादा दान दे रहे हैं जिनके ऑफिस उनके इलाके में नहीं हैं.

    अगर जो बाइडेन राष्ट्रपति बने तो कैसे होंगे व्हाइट हाउस में उनके पहले 100 दिन

    क्या करता है यह सेंटर
    सेटंर फॉर रिस्पॉन्सिव पॉलिटिक्स एक गैरे पार्टी का स्वतंत्र और नॉन प्रॉफिट संगठन है. इसका कहना है कि इस चुनाव का खर्च पिछले दोनों चुनाव को खर्चों से अधिक होने जा रहा है. यह सेंटर अमेरिकी राजनीति में होने वाले खर्चों की जानकारी रखता है और चुनाव केसाथ लोक नीति पर इसका प्रभाव होता है.

    Donald Trump, Us Election 2020
    अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव (US Presidential Election) में डेमोक्रेट्स ने इस बार बहुत ज्यादा दान जुटाया है.. फोटो: AP


    2018 का रिकॉर्ड टूटने को है
    ग्रुप के निदेशक का कहना है कि साल 2018 में लोगों ने रिकॉर्ड चंदा दिया था लेकिन 2020 में यह रिकॉर्ड भी टूटता हुआ दिखाई दे रहा है. दस साल पहले किसी राष्ट्रपति उम्मीदवार को एक अरब डालर का दान मिलना कल्पना समझा जाता था, लेकिन इस बार यह हकीकत में बदल गया है.इस चुनाव में नेशनल ग्रुप्स का खर्चो में खासा प्रभाव रहता है केवल अक्टूबर के महीने में ही इन ग्रुप में करीब 1.2 अरब डॉलर खर्च किए हैं. इन समूहों ने इस बार बाइडेन की लिए ट्रम्प के मुकाबले ज्यादा खर्चा किया है. इसी तरह के ट्रेंड साल 2018 में भी दिखा था.

    US Election 2020: क्या जो बाइडेन का समर्थन कर रहे हैं वैज्ञानिक

    साल 2020 में डेमेक्रेट उम्मीदवार और ग्रुप्स ने 5.5 अरब डॉलर जबकि रिपब्लिकन्स ने 3.8 अरब डॉलर खर्च किए हैं. इससे पहले डेमोक्रेट्स को इतना अंतर कभी नहीं मिला था. वहीं दोनों पार्टियों को छोटे दानकर्ताओं से भी पहले से ज्यादा दान मिला है, लेकिन यहां भी डेमोक्रेट्स ने 1.7 अरब का दान हासिल किया जबकि रिपब्लिकन्सने एक अरब डॉलर का ही दान हासिल किया.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज