दीवाली पर 10 बजे के बाद फोड़े हैं पटाखे तो हो सकती है ये सज़ा

वकीलों का कहना है कि आईपीसी की धारा 188 जमानती है लेकिन ट्रायल चलता है. दोषी पाए जाने पर छह माह की कैद या एक हजार रुपये तक का जुर्माना या दोनों हो सकता है

News18Hindi
Updated: November 8, 2018, 1:02 PM IST
दीवाली पर 10 बजे के बाद फोड़े हैं पटाखे तो हो सकती है ये सज़ा
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: November 8, 2018, 1:02 PM IST
इस दीपावली  अगर आपने रात 10 बजे के बाद पटाखे फोड़े हैं तो छह महीने तक की कैद या एक हजार रुपये तक का जुर्माना या दोनों हो सकता है. रात दस बजे के बाद पटाखे चलाने पर कोर्ट की रोक के बावजूद दिल्ली-एनसीआर में लोगों ने जमकर पटाखे फोड़े, जिससे प्रदूषण बढ़ गया है.

ये भी पढ़ें- धुएं की चादर में ढकी दिल्ली, दीवाली पर तय वक्त के बाद भी फोड़े गए पटाखे)

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पटाखे जलाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन करने पर आइपीसी की धारा 188 (सरकारी आदेश को न मानना) के तहत मामला दर्ज होता है. यह जमानती धारा है. थाने से ही जमानत मिल सकती है.

वहीं एडवोकेट सुरेंद्र सिंह भाटी का कहना है कि इस धारा के उल्लंघन पर मैजिस्ट्रेट के सामने ट्रायल चलता है. दोषी पाए जाने पर छह महीने तक की कैद या एक हजार रुपये तक का जुर्माना या दोनों हो सकता है. यह मामला जमानती जरूर है, लेकिन समझौतावादी नहीं है.

supreme court, firecrackers, Delhi-ncr, Diwali, Pollution, pollution in delhi, सर्वोच्च न्यायालय, पटाखे, दिल्ली-एनसीआर, दीवाली, प्रदूषण, दिल्ली में प्रदूषण,       सुप्रीम कोर्ट ने 10 बजे के बाद पटाखे चलाने पर रोक लगाई है

नोएडा में 31 लोगों को कोर्ट की अवमानना करने के आरोपों में गिरफ्तार किया गया. उन्हें जमानत दे दी गई. ये लोग 10 बजे के बाद पटाखे चला रहे थे. ईस्ट दिल्ली इलाके में 40 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

सुप्रीम कोर्ट ने व्यवस्था दी थी कि रात 10 बजे से लेकर सुबह 6 बजे के बीच आवाज करने वाले पटाखों पर पूरी तरह से रोक रहेगी. रिहायशी इलाके में दिन के समय 55 डिसाइबल और रात के समय 45 डिलाइबल से ज्यादा शोर मचाना गैर कानूनी बताया गया. जबकि कई क्षेत्रों में पटाखों से शोर 125 डेसिबल तक हुआ. डॉक्टरों का कहना है कि मनुष्य के कान 80 डेबिबल तक बर्दाश्त कर लेते हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें - पटाखा बैन: 5 साल के तीन बच्चों की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया फैसला
कौन हैं वे जिनके साथ एक दशक से दीपावली मनाते हैं CM योगी आदित्यनाथ?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 8, 2018, 11:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...