Viral: भा गया बड़े चांद का छोटे सूरज को ढकने वाला वीडियो, बाद में पता चला सच

यह वीडियो (Video) कम्प्यूटर द्वारा बनाया गया बताया जा रहा है.  जिससे लोग सच मान रहे थे. (तस्वीर: Twitter/Whatsapp Video grab)

यह वीडियो (Video) कम्प्यूटर द्वारा बनाया गया बताया जा रहा है. जिससे लोग सच मान रहे थे. (तस्वीर: Twitter/Whatsapp Video grab)

सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हुए चंद्रमा (Moon) के इस वीडियो (Video) को लोग बहुत पसंद कर रहे हैं और इसके असली ना होने पर हैरानी भी जता रहे हैं.

  • Share this:

इस समय सोशल मीडिया (Social Media) पर एक वीडियो जम कर वायरल हो रहा है. इस वीडियों में एक बहुत बड़ा सा चंद्रमा (Moon) निकलता दिखाई दे रहा है जो कुछ ही सेकेंड्स के बाद बहुत छोटे सूर्य को ढक लेता है. इस वीडियो में बताया जा रहा है कि यह घटना आर्कटिक (Arctic) क्षेत्र की है जो रूस और कनाडा के बीच में दिन के समय हो रही हैं. बुधवार से वायरल हुए इस वीडियो को कई लोगों ने सच मान लिया और बाद में सच्चाई सामने आने पर हैरानी भी जताई.

बड़ा चंद्रमा और छोटा सूरज

इस विडियो में चंद्रमा का आकार पृत्वी पर उदित होने वाले चंद्रमा से काफी बड़ा दिखाई दे रहा है. लोग इसके आर्कटिक इलाके में रूस और कनाडा के बीच के क्षेत्र की घटना बता रहे हैं. इसे वीडियो के शेयर करते समय लोग यह भी कह रहे हैं कि इसे देखने के लिए कनाडा या रूस जाने की जरूरत नहीं हैं.

30 सेकंड में 5 सेकंड का ग्रहण
इस वीडियों में चंद्रमा 30 सेकेंड के लिए निकलता दिखाई दे रहे है और जल्दी ही वजह अपने आकार से छोटे दिखाई देने वाले सूर्य को 5 सेंकेड के लिए ढक लेता है जैसा कि सूर्य ग्रहण के समय होता है. लेकिन सूर्यग्रहण का इसमें कोई जिक्र नहीं हो रहा है. एक यूजर ने तो इसे ग्लोरी ऑफ गॉड एंड इट्स क्रिएशन तक कहा है.

Canada, Russia, Viral Video, Moon, Sun, Arctic, Aleksey, Twiter Computer Generated image,
यह वीडियो (Video) कई लोगों ने सच मान कर और बाद मे सच्चाई बताकर ट्विटर और सोशल मीडिया पर शेयर किया था. (तस्वीर: Twitter Screen Shot)

सच जानने पर ऐसी प्रतिक्रिया



इस वीडियो के बारे में पत्रकार उमाशंकर सिंह ने अपने ट्वीट में बताया है कि यह वास्तव में एक कम्प्यूटर जनित तस्वीर है जिसे एक एल्क्सी नाम के सीजीआई कलाकार ने बनाया है. लोग इसे बहुत पसंद कर रहे हैं. कई लोगों ने तो इसे सच मानकर शेयर किया था, लेकिन बाद में इसकी सच्चाई मालूम होने पर हैरानी भी जताई. कई लोगों ने एलेक्से नाम के कलाकार की तारीफ भी की.

बिग बैंग के बाद के अंधकार युग की जानकारी देगा चंद्रमा से नासा का टेलीस्कोप

फेक भी कहा गया

इस वीडियो को लेकर कई यूजर्स ने उन लोगों की क्लास भी लगाई जिन्होंने इस सच मान कर या बता कर ये वीडियो शेयर किया था. कुछ यूजर्स ने तो इस पर कोरोना काल में घर बैठे ही कनाडा और रूस के बीच की घटना का आनंद लेने की बात कह दी. वहीं इसे सीधे सीदे फेक कहकर खारिज करने वालों की कमी भी नहीं थी.

 Research, Canada, Russia, Viral Video, Moon, Sun, Arctic, Aleksey, Twiter Computer Generated image,
हाल ही में चंद्रमा (Moon) के अलग-अलग रंगों की तस्वीरें भी खूब देखी जा रही हैं. (फाइल फोटो)

क्यों सच सा लगा

इस वीडियों में दिख रहा है कि चंद्रमा आसमान में बहुत ही ऊंचाई पर गया था और सूर्य भी ढलते हुए सूरज की स्थिति में था जो वास्तव में ध्रुवों और उनके आसपास दिन में लंबे समय के रहता है. वहीं केवल तीस सेंकेंड का समय इसमें तेजी के प्रभाव की तरह दिखाया है जिस तरह फिल्मों  लंबी और धीमी घटनाओं को बहुत ही तेजी से दिखाया जाता है जैसे फूल का खिलना और सूरज का ऊग कर डूबना. वहीं कई जगह पूर्णिमा पर चंद्रमा आकार से बड़ा भी दिखता है.

पहली बार देखे गए ब्रह्माण्ड में इतनी ऊर्जा से भरे प्रकाश के कण

इस वीडियो में चंद्रमा का आकार ही जरूरत से ज्यादा ही बड़ा दिख रहा है, लेकिन कलाकार ने चंद्रमा को पूरी तरह से असली की तरह दिखाया है. संयोग ही कहें या फिर पूर्व नियोजन, यह वीडियो भी पूर्णिमा के आसपास ही वायरल हुआ है जब महीने में एक बार चंद्रमा पृथ्वी से पूरा का पूरा दिखाई देता है. इस समय पूर्णिमा के अलग अलग रंग की तस्वीरें भी खूब वायरल हो रही हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज