लाइव टीवी

Corona: गुमराह कर रहे हैं कई वीडियो, साबुन से फल-सब्जी धोने की दे रहे हैं सलाह

Vikas Sharma | News18Hindi
Updated: March 29, 2020, 5:48 PM IST
Corona: गुमराह कर रहे हैं कई वीडियो, साबुन से फल-सब्जी धोने की दे रहे हैं सलाह
कोरोना केखतरे के बावजूद फल सब्जियां साबुन से धोकर इस्तेमाल करना गलता है.

कोरोना वायरस (Corona Virus) की वजह से सोशल मीडिया (Social Media) पर कई तरह की भ्रामक जानकारियां फैलाई जा रही है. इसमें एक सलाह यह भी है कि फल सब्जियों को इस्तेमाल से पहले साबुन के पानी से धोना चाहिए जो कि गलत है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 29, 2020, 5:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रसार के डर से लोगों को इन दिनों बहुत सी सावधानियां बरतनी पड़ रही है. यहां तक की सोशल मीडिया (Social Meida) पर भी कई तरह की सलाह वायरल हो रही हैं जिसमें कई भ्रामक जानकारियां भी परोसी जा रही है. इनमें से एक खाना बनाने और खाने से पहले फल-सब्जियां धोने को लेकर भी है.

पहले भी दी जाती थी फल सब्जी धोने की सलाह
आम तौर पर कहा जाता है कि खाने से पहले फल और खाना पकाने से पहले सब्जियां पानी से अच्छी तरह धो लेना चाहिए. ऐसा कोरोना वायरस के खौफ के दौरान कितना ज्यादा जरूरी हो गया है, इस बारे में सोशल मीडिया, खासकर वाट्स एप पर कई तरह की जानकारियां आ रही हैं इनमें से एक में बताया गया है कि फल और सब्जियां इस्तेमाल से पहले साबुन और पानी से धोना चाहिए, लेकिन ऐसा करना सही नहीं है.

वायरल वीडियो दे रहे हैं इस तरह की भ्रामक जानकरी



सोशल मीडिया पर इस तरह के कई वीडियो वायरल हो रहे हैं जिनमें ‘डॉक्टर’ इस तरह की सलाह दे रहे हैं. लेकिन लाइव साइंस में प्रकाशित खबर के मुताबिक खाद्य वैज्ञानिकों का मानना है कि ऐसा करना सही नहीं हैं.



सोशल मीडिया पर कुछ बातों को ध्यान रख कर लोग अफवाहों को वायरल होने से रोक सकते हैं. People can stop fake news from being viral by little attentiveness
सोशल मीडिया पर कुछ बातों को ध्यान रख कर लोग अफवाहों को वायरल होने से रोक सकते हैं.


साबुन अब भी है बहुत नुकसानदेह
नॉर्थ कैरोलीना स्टेट यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर बेनजामिन चॉपमैन का मानना है,” हम 60 सालों से जानते हैंकि घरेलू साबुन कितना टॉक्सिक होता है. डिश सोप को पीने या खाने से मतली (Nausea) हो सकती है. यह पेट तक खराब कर सकता है. पेट इस तरह के पदार्थों को झेल नहीं सकता है” चॉपमैन  का कहना है कि इसके बजाए लोगों को नल के नीचे बहते ठंडे पानी से फल सब्जियां धोनी चाहिए.

और भी हैं कई जानकारी जिनके बारे में स्पष्टता नहीं
इस लेख में  इसी तरह की अन्य छोटी छोटी सलाहों के बारे में भी चर्चा की गई है जिससे लोगों में में कई तरह के भ्रम फैल रहे हैं. लेख में एक निजी डॉक्टर का वीडियो को हवाला भी दिया गया है जिसमें उन्होंने कुछ सावधानियां बरतने को कहा है, इसमें उन्होंने पहले बाजार से खरीद कर लाई गई ग्रॉसरीज को तीन दिन तक स्टोर में रखने की  बात कही है. इसके साथ ही उस डॉक्टर  ने उन पैकेट्स को भी सैनेटाइज करने की सलाह दी है जिसमें खाने का सामान रखा हो.

लॉकडाउन के दौरान लोगों को बहुत सावधान होने की जरूरत है.
लॉकडाउन के दौरान लोगों को बहुत सावधान होने की जरूरत है.


सतहों के बारे में ऐसा कह रही है नई रिसर्च
हाल ही में न्यू इंग्लैंड जनरल ऑफ मेडिसीन का कहना है कि कार्डबोर्ड पर वायरस चौबीस घंटे तक रह सकता है तो वहीं प्लास्टिक और स्टेनलेस स्टील पर वह 72 घंटे तक रह सकता है. चॉपमैन का कहना है कि फूड कंटेनर्स (खाने के पैकेट) को फ्रिज में रखने से पहले क्वारेनटीन करने और सैनेटाइज करना जरूरी नहीं हैं. उन्होंने कहा, “हमारे पर ऐसा कोई प्रमाण नहीं है कि खाना या खाने की पैकेजिंग कोरोना वायरस को फैला रहे हैं.”

हाथ धोने की सलाह है सही
फिर भी उस वीडियो में हाथ धोने के मामले में जो सलाह दी गई है, उससे चॉपमैन सहमत होते हैं फिर भी कहते हैं कि हाथ धोना भले ही जादूई न हो, जैसा की वीडियो में सलाह दी गई है, यह प्रभावी तो है. फिर भी तरीका और समय इस मामले में बहुत निर्णायक हो जाते हैं.

भारत में भी हो रहे हैं भ्रामक वीडियो वायरल
गौरतलब है कि भारत में भी सोशल मीडिया में कई तरह के वीडियो वायरल हो रहे हैं जिसमें डॉक्टर सहित लोग खुद तरह तरह की सलाह और देसी इलाज का मशविरा दे रहे हैं. इस मामले में लोगों को बहुत सावधान होने की जरूरत है और सही और विश्वसनीय स्रोत पर ही निर्भर होने की जरूरत है.

Corona virus cases in US are growing faster
अमेरिका में कोरोना वयारस के संक्रमण के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं.


सही स्रोत से ले जानकारी
फिलहाल जिस तरह की सलाह दी जा रही हैं, उनमें साफ सफाई का जितना ज्यादा ध्यान रखा जाए उतना ज्यादा अच्छा होगा. चीजों और लोगों से संपर्क जितना संभव हो नहीं के बराबर रखें. भ्रम होने की स्थिति में अपने डॉक्टर से फोन पर बात कर अपना भ्रम दूर कर सकते हैं.

यह भी देखें:

Coronavirus: ये टेस्ट बताएगा भारत में कोरोना के मरीजों की असल संख्या

दुनिया में कोरोना के खिलाफ मलेरिया की दवाइयों को इतनी अहमियत क्यों?

कोरोना: लॉकडाउन में बढ़ीं थैलेसीमिया मरीजों की मुश्किलें, नहीं मिल पा रहा खून

इस देश के मौलवी जल, जंगल, जमीन और दुनिया बचाने को जारी करवाते हैं फतवे

लॉकडाउन के दौरान फेक न्यूज या अफवाहें वायरल करने से कैसे बचें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 29, 2020, 11:27 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading