• Home
  • »
  • News
  • »
  • knowledge
  • »
  • Coronavirus: यूपी का वो आईएएस, जिसने कोरोना रोकने के लिए कर दिया एक बड़ा काम

Coronavirus: यूपी का वो आईएएस, जिसने कोरोना रोकने के लिए कर दिया एक बड़ा काम

यूपी के आईएएस प्रशांत शर्मा की डिजाइन की हुई वेबसाइट के जरियेे कोरोेना वायरस के कम्‍युुनिटी ट्रांसमिशन को रोका जा सकेगा.

यूपी के आईएएस प्रशांत शर्मा की डिजाइन की हुई वेबसाइट के जरियेे कोरोेना वायरस के कम्‍युुनिटी ट्रांसमिशन को रोका जा सकेगा.

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के अधिकारी प्रशांत शर्मा ने ऐसी वेबसाइट (Website) बनाई है, जिस पर कुछ सवालों के जवाब देते ही आपको पता चल जाएगा कि आप कोरोना वायरस (Coronavirus) पॉजिटिव हैं या नहीं. ये वेबसाइट सरकार को भी संक्रमण फैलने के खतरे से आगाह करेगी.

  • Share this:
    कोरोना वायरस (Coronavirus) से मुकाबले के लिए दुनियाभर में आम से लेकर खास तक हर व्‍यक्ति अपनी क्षमता के मुताबिक मदद कर रहा है. उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आईएएस अधिकारी प्रशांत शर्मा (IAS Prashant Sharma) ने कोरोना वायरस के खिलाफ मुकाबले में अपने तकनीकी हुनर का इस्‍तेमाल किया है. उनकी बनाई वेबसाइट में मौजूद खास टूल्‍स के जरिये सरकार से लेकर आम लोगों तक सभी को कोरोना वायरस के फैलने के खतरे से आगाह किया जाएगा. उनकी ये वेबसाइट लोगों को संक्रमण से बचाव के सुझाव भी देती है. शर्मा ने उस इंटरेक्टिव टूल को भी अपनी वेबसाइट में शामिल है, जिसका इस्‍तेमााल कोरोना के मरीजों का पता लगाने के लिए ब्रिटेन (Britain) की नेशनल हेल्‍थ सर्विस (NHS) भी कर रही है.

    बेवसाइट में दिया है खुद कोरोना टेस्‍ट करने का विकल्‍प
    आईएएस प्रशांत शर्मा की वेबसाइट के जरिये कोरोना वायरस के कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन (Community Transmission) को भी रोका जा सकता है. दरअसल, अगर किसी व्‍यक्ति को संदेह है कि वो संक्रमित (Infected) हो चुका है तो वो इस वेबसाइट की मदद से खुद अपना कोरोना टेस्‍ट (Corona Test) कर सकता है. इसके लिए उसे coronajankari.in पर जाकर 'क्‍या आपको कोरोना संक्रमण के लक्षण हैं? स्‍वयं परीक्षण करें' के ऑप्‍शन पर क्लिक करना होगा. यहां उसे अपना पिन कोड, जेंडर, उम्र, खांसी-जुकाम, सांस लेने में समस्‍या जैसे कुछ सवालों के जवाब देने होंगे. साथ ही यूजर को बताना होगा कि क्‍या वो विदेश से लौटा है या विदेश यात्रा कर लौटे किसी व्‍यक्ति के संपर्क में आया था. इसके बाद वेबसाइट सभी जवाबों के आधार पर आकलन कर बता देगी कि उस व्‍यक्ति में संक्रमण है या नहीं.

    यूजर्स को अपने कोरोना वायरस की जांच के लिए coronajankari.in पर जाकर 'क्‍या आपको कोरोना संक्रमण के लक्षण हैं? स्‍वयं परीक्षण करें' के ऑप्‍शन पर क्लिक करना होगा.


    वेबसाइट ऐसे रोकेगी कोरोना का कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन
    वेबसाइट में यूजर को इंटरेक्टिव टूल्‍स का इस्‍तेमाल करते हुए अपना पिन कोड भी डालना होता है. इससे प्रशासन को उस व्‍यक्ति के क्षेत्र के बारे में सटीक जानकारी मिल जाएगी. अब मान लीजिए किसी एक ही पिन कोड पर कई लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाते हैं तो प्रशासन उस क्षेत्र में संक्रमण को लेकर तुरंत सक्रिय हो जाएगा. उस इलाके के लोगों को कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन के बारे में आगाह कर दिया जाएगा.

    साथ ही प्रशासन समय रहते इलाके में कोरोना टेस्‍ट और इलाज (Treatment) के लिए ठोस कदम उठा सकेगा. इससे कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन को रोका जा सकेगा. प्रशांत शर्मा ने ये वेबसाइट देश के उत्‍तर और मध्‍य के हिंदीभाषी इलाकों को ध्‍यान में रखकर हिंदी में बनाई है. यानी देश के 40 से 50 करोड लोग इस वेबसाइट से फायदा उठा सकते हैं.

    यूजर्स को कई तरह के सुझाव भी देती है वेबसाइट
    वेबसाइट पर कोरोना से संबंधित जानकारियों के अलावा सरकारी दिशानिर्देश, हेल्‍पलाइन नंबर और परीक्षण केंद्रों की जानकारी भी उपलब्‍ध कराई गई है. आईएएस प्रशांत शर्मा ने यह वेबसाइट पत्‍नी पॉलोमी पाविनी शुक्‍ला के सहयोग से तैयार की है. इंटरेक्टिव टूल्‍स के जरिये परीक्षण करने वालों को ये वेबसाइट कई तरह के सुझाव भी देती है. टेस्‍ट के बाद उन्‍हें बताया जाता है कि उन्‍हें हेल्‍पलाइन पर फोन करना चाहिए या सीधे अस्‍पताल जाना चाहिए या घर पर ही क्‍वारंटीन होने से फायदा मिल जाएगा.

    प्रशांत शर्मा 2012 बैच के आईएएस अधिकारी हैं. उन्‍हें अपने इनोवेटिव आइडियाज और तकनीकी समझ के लिए पहचाना जाता है. उन्‍होंने 2016 में भी यूपी के लोगों के लिए एक ऐप Ask UP बनाया था. इस ऐप की मदद से पता चला कि 54 प्रतिशत लोग सिर्फ सरकारी योजनाओं की जानकारी हासिल करने के लिए सरकारी विभागों के चक्‍कर काटते रहते हैं. ऐप की मददद से ऐसे लोग घर बैठे ही सरकारी योजनाओं की जानकारी हासिल कर सकते हैं.

    9 new cases of coronavirus in Andhra Pradesh number of infected reached 534
    देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 12,668 हो गई है. इनमें 414 की मौत हो गई है.


    देश में अब तक 12,668 कोरोना संक्रमित मरीज
    प्रशांत शर्मा के बनाए Ask UP ऐप के जरिये पता किया जा सकता है कि ड्राइविंग लाइसें, राशन कार्ड, आय प्रमाणपत्र, जाति प्रमाणपत्र बनने में कितने लगते हैं. इनके लिए कहां आवेदन करना होगा. आवेदन करते समय कौन-कौन से दस्‍तावेज लगाना जरूरी है. प्रशांत शर्मा गोंडा, कानपुर, बरेली, लखनऊ और अमेठी में सेवाएं दे चुके हैं. बता दें कि देश में कोरोना संक्रमितों (COVID-19) की संख्या 12,668 हो गई है. गुरुवार को महाराष्ट्र में 165, गुजरात में 105, मध्य प्रदेश मे 42, राजस्थान में 25, उत्तर प्रदेश में 19 और पश्चिम बंगाल में 18 मरीज मिले. अब तक 1,489 ठीक हुए हैं और 414 की मौत हो गई है. दूसरे फेज के लॉकडाउन का आज दूसरा दिन है.

    ये भी देखें:

    Coronavirus: दिल्‍ली में प्‍लाज्‍मा थेरेपी से सुधरी संक्रमित की हालत, जानें कैसे होता है इलाज

    जानें कोरोना वायरस के कारण खसरा समेत इन जानलेवा बीमारियों की रोकथाम पर पड़ रहा है असर

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज