केवल पानी पीकर कितने दिन तक जिंदा रह सकते हैं आप

हम केवल सूरज की किरणों और हवा से ऊर्जा पाकर जीवित नहीं रह सकते. हमारे शरीर को चलने फिरने, काम करने और जीवित रहने तक के लिए खाने और पानी की ज़रूरत होती है.

News18Hindi
Updated: September 4, 2018, 12:38 PM IST
केवल पानी पीकर कितने दिन तक जिंदा रह सकते हैं आप
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: September 4, 2018, 12:38 PM IST
गुजरात में पाटीदार समाज के नेता हार्दिक पटेल अपनी अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल के ग्यारहवें दिन पर पहुंच गए हैं. ग्यारह दिन से कुछ खाया नहीं है, सिर्फ पानी पिया है. आखिर कब तक केवल पानी पिए ज़िंदा रहा जा सकता है?

हम केवल सूरज की किरणों और हवा से ऊर्जा पाकर जीवित नहीं रह सकते. हमारे शरीर को चलने फिरने, काम करने और जीवित रहने तक के लिए खाने और पानी की ज़रूरत होती है.

आप बिना भोजन के कितने समय तक जी सकते हैं, कई कारकों पर निर्भर करता है. इच्छा और दृढ़ संकल्प निश्चित रूप से एक हिस्सा होता है लेकिन वे बहुत लम्बे समय साथ नहीं देते. भूख हड़ताल को धार्मिक नेताओं या राजनीतिक कैदियों के एक बडे़ औजार के रूप में जाना जाता है. गांधी ने अपने 70 के दशक में 21 दिनों तक उपवास किया था. जंगलों  में खो गए लोग भी खाने के बिना लंबे समय तक जीवित रहे हैं.

चिकित्सकीय रूप कहें तो, अधिकांश डॉक्टर इस बात से सहमत हैं कि स्वस्थ मनुष्य बिना भोजन के आठ सप्ताह तक जा सकते हैं जब तक उनके पास पानी हो लेकिन उससे ज़्यादा नहीं. लोग लंबे समय तक भी बिना भोजन के रहे हैं और ठीक रहे हैं. मजबूत होने और अच्छे स्वास्थ्य से आप लंबे समय तक जीवित रह सकते हैं, लेकिन  शरीर की अतिरिक्त वसा भी आपको जीवित रहने में मदद करती है.  शरीर जीवित रहने और काम करने के लिए वसा, कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन के रूप में आवश्यक ऊर्जा का भंडार इकठ्ठा करता है.

खाना छोड़ते ही क्या होता है?
आप जैसे ही खाना छोड़ते हैं कार्ब पहली चीज है जो बिना भोजन के रहने पर खर्च होती है. वसा इसके बाद आगे बढ़ता है खर्च होने लगता है, जो बताता है कि ज़्यादा फैट यानि वसा वाले लोग लोग लंबे समय तक जीवित क्यों रह सकते हैं. फिर आखिर में प्रोटीन जाते हैं. यदि आप इस स्थिति तक पहुंचते हैं कि आपके शरीर को प्रोटीन का उपयोग करना पड़े तो मूल रूप से इसका अर्थ यह होता है कि आपका शरीर खराब स्तिथि में हैं.

Loading...
बगैर पानी के कितना जी सकते हैं

हमारा शरीर  लगभग 60 प्रतिशत पानी सी ही बना होता है और शरीर के हर एक जीवित सेल को काम करने के लिए पानी लगातार चाहिए होता है.

पानी हमारे जोड़ों के लिए लुब्रीकेंट का काम करता है, हमारे शरीर के तापमान को पसीने के ज़रिये मौसम के अनुसार ठीक रखता है और सब टॉक्सिक तत्व भी बाहर निकालता रहता है.

एक आम इंसान पानी की एक बूंद के बगैर एक हफ्ते रह सकता है लेकिन अगर गर्मी ज़्यादा हो तो यह समय और भी कम हो सकता है. जॉर्ज  वाशिंगटन यूनिवर्सिटी में बायोलॉजी की प्रोफेसर  रैंडल पैकर का कहना है की,  यह एक हफ्ते की लिमिट उन लोगों पर आज़माई गई है जो अपने जीवन के अंतिम पड़ाव पर थे और उन्होंने खाना पीना छोड़ दिया था. एक हफ्ता ज़्यादा से ज़्यादा दिन गिनती हुए लिया गया है, औसत 4 दिन से ज़्यादा का नहीं होगा.

ड्यूक विश्वविद्यालय के क्लाउड पियंटैडोसी का कहना है, "आप औसत तापमान पर बिना पीने के 100 घंटे तक रह सकते हैं।" "अगर तापमान कम है, तो आप थोड़ी और देर तक रह सकते हैं लेकिन अगर आप सीधे सूर्य की रोशनी के संपर्क में हैं, तो यह समय काम होता है।"

डिहाइड्रेशन का खतरा
हमारा शरीर लगातार पानी खोता  रहता है, यही कारण है कि दिन में एक बार पानी  का गिलास पीना शरीर को भरने के लिए पर्याप्त नहीं होता है. जब हम पसीन छोड़ते हैं तो साथ ही हम पानी खो देते हैं. बाथरूम जाने से लेकर सांस छोड़ने में भी पानी हमारे शरीर से बाहर आता रहता है.

पैकर ने 2002 में  लेख में लिखा, "अत्यधिक परिस्थितियों में एक वयस्क प्रति घंटे 1 से 1.5 लीटर पसीना खो सकता है।" "अगर वह खोया पानी नहीं बदला जाता है यानि उसकी पूर्ती नहीं की जाती है, तो शरीर की तरल पदार्थ की कुल मात्रा जल्दी गिर सकती है और, सबसे खतरनाक रूप से, रक्त की मात्रा गिर सकती है."



जब आपके शरीर में ब्लड सर्कुलेशन काम होता है, तो रक्तचाप उन स्तरों पर पहुँचता है जो घातक हो सकते हैं. जब हम पसीना बंद करते हैं तो शरीर का तापमान भी बढ़ता है.

रोचेस्टर मेडिकल सेंटर विश्वविद्यालय के मुताबिक डिहाइड्रेशन "आपके शरीर के वजन का 10% से अधिक का नुकसान आपको इमरजेंसी की स्थिति में ला सकती है," और यदि उलट नहीं किया जाता है तो मृत्यु हो सकती है."

जल स्रोत
राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान द्वारा बनाए गए वेबसाइट के मुताबिक, हमें भोजन से कुछ पानी मिलता है, "लेकिन पीने का पानी आपका मुख्य और पानी का सबसे अच्छा स्रोत है।"

रस या दूध जैसे अन्य पेय पदार्थ शरीर को हाइड्रेटेड रखने में भी मदद करते हैं. एकमात्र तरल पदार्थ जिसे आप दूर रहना चाहते हैं वह शराब है क्योंकि यह वास्तव में शरीर को अत्यधिक पेशाब करने पर मजबूर करती है जो सामान्य से अधिक पानी खोने का कारण बनता है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर