Home /News /knowledge /

प्रेग्नेंसी की कौन सी स्टेज पर प्रभावित करता है जीका वायरस

प्रेग्नेंसी की कौन सी स्टेज पर प्रभावित करता है जीका वायरस

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

दूसरे ट्रिमेस्टर (second trimester) में इस वायरस का असर बच्चे पर 8% होने का खतरा बताया गया है.

    जीका वायरस गर्भवती महिलाओं को जल्दी संक्रमित करता है. जीका वायरस से माइक्रोकेफेली बीमारी होती है. इससे प्रभावित बच्‍चे का जन्‍म आकार में छोटा और अविकसित दिमाग के साथ होता है. इससे होने वाले ग्‍यूलेन-बैरे सिंड्रोम शरीर के तंत्रिका तंत्र पर हमला करता है, जिससे चलते लोग लकवा मार जाता है.

    ये भी पढ़ें- भारत के कौन से राज्य के कितने लोगों में पाया गया जीका वायरस

    नेशनल हेल्थ एजेंसी सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (Centers for Disease Control and Prevention) के मुताबिक, जिन औरतों में प्रेग्नेंसी के शुरुआती तीन महीनों में ये वायरस पाया गया. उन 12 में से 1 में ये चांस रहता है कि उनका भ्रूण 8% जीका इन्फेक्टेड बर्थ डिफेक्ट के साथ जन्म ले.

    ये भी पढ़ें- 1947 में यहां पाया गया था जीका वायरस का पहला मामला

    वहीं दूसरे ट्रिमेस्टर (second trimester) में इस वायरस का असर बच्चे पर 8% होने का चांस रहता है. और तीसरे ट्रिमेस्टर में इसका असर होना 4% बताया गया है.

    इफेक्टेड व्यक्ति के खून में जीका वायरस कुछ हफ्तों तक ठहरता है. ये फ्यूचर में बेबी बर्थ को इफेक्ट करेगा या नहीं अभी ऐसी कोई रिसर्च नहीं आई है. हालांकि ये साफ है कि ब्लड से वायरस पूरी तरह खत्म होने के बाद, बच्चा कंसीव करने पर किसी तरह का इंफेक्शन नहीं होगा.

    ये भी पढ़ें- भारतीय डॉक्टर की खोज जीका वायरस के तोड़ में कैसे मददगार है

    ये वायरस एडीज प्रजाति के मच्छरों के काटने से ही फैलता है जो दिन में ही काटते हैं. जीका वायरस फ्लाविविरिडए वायरस फैमिली से है. इस वायरस का आरएनए अलग होता है.

    ये भी पढ़ें- मच्छरों के अलावा और कैसे फैलता है जीका वायरस, क्या हैं इससे खतरे

    Tags: Health News, Health tips, Zika Virus

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर