होम /न्यूज /नॉलेज /राजनीति, बिज़नेस या मुकदमों से जूझना, अब क्या होगा ट्रंप का भविष्य?

राजनीति, बिज़नेस या मुकदमों से जूझना, अब क्या होगा ट्रंप का भविष्य?

डोनाल्ड ट्रंप इलस्ट्रेशन.

डोनाल्ड ट्रंप इलस्ट्रेशन.

महाभियोग (Impeachment) का खतरा पूरी तरह टला नहीं है. ट्रायल में देर ज़रूर हुई है, लेकिन इसकी आशंका खत्म नहीं हुई है. यही ...अधिक पढ़ें

    अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति (Former President of US) डोनाल्ड ट्रंप की व्हाइट हाउस से विदाई कुछ इस तरह की रही कि ‘बड़े बेआबरू होकर तेरे कूचे से हम निकले’. ट्रंप प्रशासन (Trump Administration) में उप राष्टप्रति रहे माइक पेंस तक ट्रंप के विदाई समारोह (Farewell Program) में नहीं पहुंचे और वो नए राष्टप्रति जो बाइडन (Joe Biden) के समारोह में शरीक हुए. इसी तरह और भी कुछ रिपब्लिक नेताओं ने ट्रंप के कार्यक्रम (Trump Farewell Event) से मुंह मोड़ लिया, ‘हम किसी न किसी रूप में लौटेंगे’ कहकर फ्लोरिडा चले गए ट्रंप के सामने अब कैसा जीवन होगा?

    अपने इस जुमले से राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं का संकेत देने वाले ट्रंप के लिए राहें अब इतनी आसान नहीं होंगी. कई विवादों में घिरे रहे ट्रंप राजनीति या खानदानी कारोबार में से कोई विकल्प चुन सकते हैं, लेकिन इन दोनों ही क्षेत्रामें में उन पर सरकार की तरफ से कई तरह की जांचों का दबाव रह सकता है. ऐसे में ट्रंप के सामने क्या विकल्प बने हैं और क्या वो एक मामूली अमेरिकी नागरिक बनकर रह जाएंगे?

    ये भी पढ़ें:- Explained : बेअंत सिंह हत्याकांड में दोषी बलवंत सिंह राजोआना कौन है?

    आगे क्या करने वाले हैं ट्रंप?
    ट्रंप अमेरिका के इकलौते राष्टप्रति रहे, जिनके खिलाफ दो बार महाभियाग की कार्रवाई ुई. वो भी पद से हटने के कुछ ही दिन पहले. इससे पले अपनी हार न मानने पर अड़े रहे ट्रंप ने अपने विदाई भाषण में साफ कहा कि अभी तो ‘यह शुरूआत’ है. यानी वो राजनीति में बने रहने के संकेत तो दे ही गए लेकिन हालात और जानकार क्या कहते हैं! वॉशिंगटन में सियासी गलियारों में यह प्रश्न चर्चाओं में है और दुनिया भर में इस बारे में अंदज़े लग रहे हैं.

    अपनी सियासी महत्वाकांक्षाओं के बावजूद सियासी संकट ट्रंप के सामने बड़ा है. अमेरिकी राष्टप्रति चुनाव में कई बार ट्रंप औन उनके वकीलों, बेटे और समर्थकों ने कहा कि डेामेक्रेट पार्टी की सरकार बनने से रोकी जाए. उंगनियों पर गिनने लायक सांसदों ने ट्रंप के पक्ष में नई सरकार को ब्लॉक करने की कवायद की, लेकिन ट्रंप प्रशासन में रहे ज़्यादातर नेताओं ने ऐसा कोई कदम नहीं उठाया.

    donald trump news, america news, trump's business, trump speech, डोनाल्ड ट्रंप न्यूज़, अमेरिका न्यूज़, ट्रंप का बिज़नेस, ट्रंप का भाषण
    डोनाल्ड ट्रंप इलस्ट्रेशन.


    राजनीति से परे बिज़नेस है विकल्प?
    सभी जानते हैं कि राष्टप्रति बनने से हले भी ट्रंप अमेरिका के बड़े बिज़नेस खानदानों के वारिस रहे. इसलिए इस बारे में चर्चा हो ही रही है कि ट्रंप राजनीति के बरक्स बिज़नेस को ही चुन सकते हैं. अस्ल में, जानकार कह रहे हैं कि अभी भी अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी को ‘ट्रंप पार्टी’ के तौर पर ही देखा जा रहा है. इसका बड़ा कारण यह है कि 2016 की तुलना में इस बार इस पार्टी को कम से कम 60 लाख ज्त्रयादा वोट मिले. तो इस संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता कि 2024 में ट्रंप फिर राष्ट्रपति पद के लिए दवेदारी पेश करें और पार्टी भी करने दे.

    आंकड़े बताते हैं कि ट्रंप के लिए तकरीबन 7 करोड़ लोगों ने वोट किया यानी 2008 में जितने लोगों ने ओबामा के लिए वोट किया था, उससे भी ज़्यादा. तो एक तरफ कहा जा सकता है कि अपने समर्थकों के बीच ट्रंप की पकडत्र आी बनी हुई है. लेकिन दूसरी ओर, ट्रंप पर चुनावी गड़बड़ियों के आरोप भी रहे हैं. इसके अलावा, व्हाइट हाउस को छोड़ने में 1945 से सबसे कम अप्रूवल रेटिंग ट्रंप की रही.

    ये भी पढ़ें:- 10 महीने का वक्त प्लान के लिए था, तो क्यों कई देशों में गड़बड़ा गया वैक्सीनेशन?

    कहा जा रहा है कि ट्रंप की बेटी इवांका और बेटे डॉन जूनियर पर भी 2024 चुनाव के लिए रिपब्लिकन पार्टी की नज़रें हैं. अब समझने की बात यह है कि अगर ट्रंप राजनीति नहीं करेंगे, तो भी राजनीति में बिज़नेस कर सकते हैं. जानकारों का कहना है कि ट्रंप ने अपनी सियासत से एक ब्रांड तैयार किया है, जिसे वो दुनिया भर में भुना सकते हैं.

    ज़ाहिर है कि 2015 की तुलना में अब ट्रप की पहचान और छवि दुनिया भर में फैल चुकी है, जिसकाा फायदा उन्हें बिज़नेस में साफ तौर पर मिल सकता है. रूस में मॉस्को ट्रंप टावर और मिडिल ईस्ट में भी कुछ इसी तरह के बिल्डिंग प्रोजेक्ट ट्रंप की इमेज को प्रोजेक्ट कर सकते हैं. क्या राजनीति या बिज़नेस के अलावा भी ट्रंप के पास कोई विकल्प है?

    ये भी पढ़ें:- कम्युनिस्ट पुतिन ने क्यों -14 डिग्री तापमान में लगाईं तीन डुबकियां?

    क्या है ट्रंप टीवी का भविष्य?
    2016 में राष्टप्रति चुनाव से पहले ट्रप बतौर टीवी एंकर भी चर्चित रहे थे इसलिए इस विकल्प पर भी चर्चा जारी है. चूंकि ट्विटर और फेसबुक जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म ट्रंप को नकार चुके हैं, इसलिए उन्हें और कोई माध्यम खोजना ही है. माना जा रहा है कि ट्रंप के पुरज़ोर समर्थक रहे वन अमेरिकाा न्यूज़ नेटवर्क से ऐसी कोई राह निकल सकती है कि ट्रंप टीवी के साथ सीधे जुड़ सकें.

    donald trump news, america news, trump's business, trump speech, डोनाल्ड ट्रंप न्यूज़, अमेरिका न्यूज़, ट्रंप का बिज़नेस, ट्रंप का भाषण
    डोनाल्ड ट्रंप इलस्ट्रेशन.


    क्या हैं ट्रंप के खिलाफ कानूनी खतरे?
    ट्रंप के भविष्य में सबसे बहम पहलू यह है कि बाइडन प्रशासन उनके खिलाफ कितना सख्त रवैया अपनाएगा. टैक्स चोरी और रिटर्न्स में गड़बउि़यों के मामले में कानूनी कार्रवाई की आशंका बनी हुई है. दूसरी तरफ, यह भी कहा जा रहा है कि बतौर राष्ट्रपति ट्रंप ने खुद को ‘टैक्स माफी’ कैसे दी, इसकी जांच भी की जा सकती है. इसके अलावा कुछ और भी गंभीर मामलों में ट्रंप को कानूनी जोखिम हो सकते हैं.

    ये भी पढ़ें:- कमलम: अमेरिकी ड्रैगन फ्रूट के लिए संस्कृत नाम क्यों?

    रूसी चुनाव में दखलंदाज़ी के मामले में जांच ट्रंप के लिए सिरदर्द हो सकती है. वहीं, पूर्व पॉर्न स्टार स्टॉर्मी डैनियल्स को भारी रकम अदायगी के मामले में कैंपेन फाइनेंस कानून के उल्लंघन के सिलसिले में ट्रंप को कानूनी कार्रवाई झेलना पड सकती है. इनके अलावा, न्यूयॉर्क में ट्रंप के खिलाफ मुकदमों की बाढ़ आ सकती है. टैक्स के साथ ही, इंश्योरेंस फ्रॉड के मामले खासे सिरदर्द हो सकते हैं.

    ऐसे में ट्रंप राजनीति, बिज़नेस, टीवी या किसी भी तरह से सुरक्षित नहीं दिख रहे हैं. जानकार मान रहे हैं कि अगले कुछ समय के लिए ट्रंप एक मामूली नागरिक बनकर सिकुड़ सकते हैं अगर उनके खिलाफ जांचें सख्ती से जारी रहीं.

    Tags: Donald Trump, President of America, United States of America

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें