Home /News /knowledge /

आखिर आजादी के 20 सालों बाद नोटों पर क्यों आया गांधीजी का चित्र

आखिर आजादी के 20 सालों बाद नोटों पर क्यों आया गांधीजी का चित्र

गांधीजी का चित्र भारतीय नोटों पर काफी बाद में जाकर अंकित हुआ

गांधीजी का चित्र भारतीय नोटों पर काफी बाद में जाकर अंकित हुआ

अक्सर भारतीय नोटों में गांधीजी की फोटो छपने पर सवाल खड़े किये जाते हैं. वैसे ये सवाल भी है कि 1947 में आजाद हुए भारत में आखिर कब से गांधीजी का चित्र भारतीय नोटों पर आना शुरू हुआ. हालांकि ये बहुत बाद में हुआ. वो भी पूरे तरीके से नहीं. 90 के दशक में पहली बार गांधी सभी नोटों पर छपने शुरू हुए.

अधिक पढ़ें ...
    भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता सुब्रमण्यम स्वामी (BJP leader subrahmanya swami) के ये कहने के बाद कि रुपये की सेहत सुधारने के लिए उस पर लक्ष्मी का चित्र लगा देना चाहिए, एक नया विवाद खड़ा हो गया है. ये माना जा रहा है कि इस बहाने स्वामी भारतीय नोटों से गांधीजी (Gandhi image on india currency notes) के चित्र को हटाने की मांग कर रहे हैं. बहुत कम लोगों को सही मायनों में ये मालूम होगा कि आखिर गांधीजी कब भारतीय करेंसी पर आए.


    हालांकि ये बात हैरानी वाली है कि आजादी के काफी समय बाद गांधीजी का चित्र भारतीय नोटों यानी कागज पर मुद्रित भारतीय करेंसी पर आया. ये काम 22 साल बाद जाकर हो पाया. वो भी केवल एक रुपये के नोट पर. भारतीय रिज़र्व बैंक की वेबसाइट के मुताबिक़ भारत सरकार ने पहली बार 1949 में एक रुपये के नोट का नया डिज़ाइन तैयार किया. अब आज़ाद भारत के लिए चिह्न को चुना जाना था.


    शुरुआत में माना जा रहा था कि ब्रितानी महाराजा की जगह नोट पर महात्मा गांधी की तस्वीर लगेगी और इसके लिए डिज़ाइन भी तैयार कर लिए गए थे. लेकिन आख़िर में सहमति इस बात पर बनी कि महात्मा गांधी की तस्वीर के बजाय करेंसी नोट पर अशोक स्तंभ छापा जाना चाहिए. तब इस पर सहमति नहीं बन पाई थी कि गांधीजी के चित्र को भारतीय नोटों पर छापा जाना चाहिए.


    इसके अलावा करेंसी नोट के डिज़ाइन में बहुत अधिक बदलाव नहीं किए गए थे. साल 1950 में भारतीय गणराज्य में पहली बार दो, पांच, 10 और 100 रुपये के नोट जारी किए गए. उस पर गांधीजी का चित्र नहीं था.



    पहली बार गांधीजी का चित्र एक रुपये के नोट पर आया था लेकिन उन पर नोटों की पूरी सीरीज आजादी के 49 साल बाद जारी हुईपहली बार कब नोट पर आए गांधी 
    गांधीजी पहली बार 1969 में नोट पर आए. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने 1969 में एक रुपये का नोट महात्मा गांधी की फोटो के साथ जारी किया. ये काम आरबीआई ने गांधीजी की 100वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में किया था. इसमें महात्मा गांधी को बैठे हुए दिखाया गया था और पृष्ठभूमि में था सेवाग्राम आश्रम.

    बंद हो गया गांधीजी के चित्र के साथ निकला 500 का नोट
    18 साल बाद फिर आरबीआई ने एक और नोट पर महात्मा गांधी की फोटो पेश की. ये 1987 में आया 500 रुपये का नोट था. हालांकि ये नोट 1996 में बंद कर दिया गया.

    रिजर्व बैंक ने 1987 में 500 रुपये का नोट गांधीजी के चित्र के साथ जारी किया लेकिन ये नौ सालों में ही बंंद हो गया


    आजादी के 49 साल बाद पहली बार छपी पूरी गांधी सीरीज
    1996 में रिजर्व बैंक ने गांधी के चित्र के साथ नोटों की नई सीरीज छापी. इसमें सभी नोटों पर गांधी की छवि अंकित थी. ये गांधी सीरीज के नोट नए सुरक्षा फीचर्स के साथ छापे गए थे. इसके वाटरमार्क भी बदल गए थे. ऐसे फीचर शामिल किए गए कि दृष्ठिहीन लोग भी इसकी पहचान आसानी से कर लें.

    रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा छापे जाने वाले नोटों में जो गांधीजी का चित्र छापा जाता है, वो 1946 में राष्ट्रपति भवन के बाहर का है


    नोटों पर गांधीजी के चित्र पर क्या था जेटली का जवाब
    वर्ष 2014 में भी महात्मा गांधी को नोटों से हटाने की बात उठी थी. तब तत्कालीन वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा को संबोधित करते हुए कहा था, रिजर्व बैंक पैनल ने तय किया है कि बैंक नोटों में गांधीजी के अलावा किसी अन्य नेता के तस्वीरें नहीं लगाई जा सकती है, क्योंकि इस देश को महात्मा गांधी के अलावा कोई अन्य शख्सियत बेहतर तरीके से प्रस्तुत नहीं करती.

    कहां से लिया गया है गांधीजी का ये चित्र
    गांधीजी पर जो फोटो भारतीय मुद्रा में अंकित होता है, वो कोई कैरिकेचर नहीं है बल्कि एक मूल चित्र से लिया गया कटआउट है.  ये तस्वीर 1946 में राष्ट्रपति भवन (तब वाइसराय हाउस) के बाहर की है. उनके साथ इस चित्र में एक ब्रिटिश नेता लार्ड फ्रेडरिक विलियम पैटिक लारेंस थे.

    ये भी पढ़ें :-

    कौन था करीम लाला, जिससे इंदिरा के मिलने का दावा कर संजय राउत ने मचा दी सनसनी
    जानिए क्यों 2000 के ही बन रहे हैं सबसे ज्यादा नकली नोट, कैसे करें पहचान
    अगर भारत ने खरीद लिया होता ये इलाका तो पाकिस्तान होता बेहद कमजोर!
    क्यों लगातार भारत का विरोध कर रहा है मलेशिया, बढ़ा रहा है पाकिस्तान से दोस्ती

    Tags: 1000-500 notes, Currency Note Press in Nashik, Gandhi, Laxmi puja, Mahatma gandhi, RBI, RBI Governor

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर