• Home
  • »
  • News
  • »
  • knowledge
  • »
  • किन देशों के पास है एंटी सैटेलाइट हथियार तकनीक

किन देशों के पास है एंटी सैटेलाइट हथियार तकनीक

एंटी सेटेलाइट वेपन

एंटी सेटेलाइट वेपन

चीन आखिरी देश था, जिसने आठ साल पहले ये तकनीक हासिल की थी, उसके बाद भारत ने इस दिशा में काम करना शुरू किया था

  • Share this:
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संदेश में लो अर्थ आरबिट यानि निचली धरती की कक्षा में एंटी सैटेलाइट तकनीक में सफल होने की बात कही है. उन्होंने इसे बहुत बड़ी उपलब्धि बताया है. इस तकनीक में पृथ्वी से बैठकर अंतरिक्ष में घूम रही सैटेलाइट को मार गिराते हैं. ये तकनीक अब तक केवल तीन देशों के पास थी. भारत इस मामले में चौथा देश है.

    भारत ने वर्ष 2012 में इस पर काम करना शुरू किया था. अब भारत ने इसमें सफलता हासिल कर ली है. माना जा रहा है कि आने वाले समय में चौथा विश्व युद्ध अंतरिक्ष में लड़ा जाएगा. जिस देश के पास एंटी सैटेलाइट तकनीक होगी, वो ऐसी लड़ाई में बाजी मार ले जाएगा. जानते हैं किन तीन देशों के पास पहले ये ताकत है

    ये तीन देश हैं अमेरिका, चीन और रूस. अब भारत इस मामले में चौथा देश बना है. चीन ने वर्ष 2010 में ऐसी तकनीक का सफलता से परीक्षण किया था. तब चीन ने अपनी अपनी एक इंटरसेप्ट एंटी बैलिस्टिक मिसाइल (एबीएम) से अंतरिक्ष में घूम रहे सैटेलाइट पर निशाना साधा था. इसे ही एंटी सैटेलाइट (एएसएटी) सिस्टम कहा जाता है. इसी सिस्टम का इस्तेमाल कर ये तीन उन्नत देश अपनी खराब हो चुकी सैटेलाइट को सीधे निशाना लगाकर नष्ट करती हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज