कौन हैं बाबा वेंगा, साल 2021 के बारे में जिनकी भविष्यवाणी डरा रही है?

बाबा वेंगा की 80 प्रतिशत से ज्यादा भविष्यवाणियां सच हो चुकी हैं (Photo- moneycontrol)

एक रहस्यमयी घटना में आंखें खो चुकी बाबा वेंगा की 80 प्रतिशत से ज्यादा भविष्यवाणियां (Baba Vanga predictions) सच हो चुकी हैं. साल 2021 के बारे में उनके अनुमान डराने वाले हैं.

  • Share this:
    साल 2020 कोरोना महामारी और कई आतंकी आपदाओं से दहला रहा. अब इस साल के खत्म होने में कुछ दिन ही बाकी हैं और लोग बेसब्री से नए साल के इंतजार में हैं. लेकिन आने वाला साल भी कुछ खास बेहतर नहीं होगा. ये भविष्यवाणी बाबा वेंगा की है, जिन्होंने 9/11, आतंकी संगठन ISIS और कई बड़ी भविष्यवाणियां कीं, जो सही साबित हुईं. इसी बाबा वेंगा के मुताबिक आने वाला साल ऐसी तबाही मचाने वाली प्राकृतिक आपदाएं लेकर आएगा.

    बाबा वेंगा का जन्म बुल्गेरिया के स्ट्रूमिका में 31 जनवरी, 1911 को हुआ था. वैसे उनका पूरा नाम Vangeliya Pandeva Gushterova था लेकिन लोग उन्हें प्यार से बाबा वेंगा पुकारते और फिर यही नाम चलन में आ गया. जन्म के कुछ ही समय बाद बाबा वेंगा की मां नहीं रही. वहीं पिता को संदिग्ध जासूस मानते हुए जेल में बंद कर दिया गया. इसके बाद से बाबा वेंगा के हालात बदल गए. वे पूरी तरह से अपने आसपास के लोगों की दया और संवेदना पर निर्भर हो गईं. वहीं उनके खाने-पीने की व्यवस्था करने लगे.

    baba vanga
    बाबा के पास लोग अपने जीने-मरने का अनुमान लगाने को लेकर आते और वे सच बतातीं (Photo- news18 Telugu)


    इसी बीच बाबा वेंगा के साथ एक रहस्यमयी घटना घटी. किसी को हादसे के बारे में कुछ नहीं पता लेकिन बाबा वेंगा खुद अपनी टेस्टिमोनी में इसका जिक्र करती थीं. उनके मुताबिक एक जोरदार तूफान में घिरने के बाद वे जाने कहां पटक दी गईं. लंबी खोजबीन के बाद वे मिलीं तो आंखों में रेत भरी हुई थी और बाबा वेंगा दर्द से चीख रही थीं. वक्त के साथ उनके दूसरे जख्म तो भर गए लेकिन आंखों की रोशनी चली गई.



    ये भी पढ़ें: जापान किससे डरा है, जो धड़ाधड़ बढ़ा रहा है अपना सैन्य बजट?

    इसके बाद से बाबा वेंगा के साथ अलग सी बात हुई. उनके पास कोई ताकत आ गई, जिससे वे छोटी-मोटी बीमारियों का हाथों से ही इलाज करने लगीं, साथ ही साथ वे पूर्वानुमान लगाती, जो ज्यादातर सच साबित होते थे. इसी दौरान एक सैनिक उनके पास अपने भाई के हत्यारों का पता लगाने को आया. बाबा वेंगा ने बुल्गेरिया के इस सैनिक Dimitar Gushterov को सच तो बताया लेकिन साथ ही वादा ले लिया कि वे कातिलों से बदले का ख्याल छोड़ दे. कुछ समय बाद यही सैनिक उनका जीवनसाथी बना.

    ये भी पढ़ें: PAK में पहाड़ों से घिरी वो रहस्यमयी आबादी, जिसका खुलापन दुनिया को हैरान कर रहा है 

    इधर बाबा वेंगा की जिंदगी तेजी से बदल रही थी. वे बार-बार बुरी तरह से बीमार होतीं. डॉक्टर उनके बच न पाने की बात कहते और वे चमत्कारिक ढंग से उबर जातीं. इसी दौरान बाबा वेंगा की भविष्यवाणियां और सटीक होती गईं. वो दूसरे विश्व युद्ध का दौर था. बाबा के पास लोग अपने जीने-मरने का अनुमान लगाने को लेकर आते और वे सच बतातीं.

    बुल्गेरिया में बाबा वेंगा का मकान


    साल 1996 में बाबा वेंगा की ब्रेस्ट कैंसर से मौत हुई, तब तक बड़े-बड़े राजनेताओं से लेकर आम लोग उनके मुरीद हो चुके थे. बाबा को खुद लिखना-पढ़ना ज्यादा नहीं आता था. वे कहतीं और लोग लिखा करते थे. इसी तरह से बाबा वेंगा की भविष्यवाणियां इकट्ठा हुईं. उनपर कई किताबें और फिल्में बनीं. वैसे वेंगा की भविष्यवाणियों के कंपाइलेशन में Vanga. A Look at Russia नाम की किताब सबसे विश्वसनीय मानी जाती है.

    ये भी पढ़ें: Explained: क्या अमेरिकी राष्ट्रपति के पास खुद को माफी देने की ताकत होती है? 

    बाबा वेंगा द्वारा की गई 80 फीसदी भविष्यवाणियां बिल्कुल सच साबित हुई हैं. बाबा वेंगा सोवियत यूनियन के विघटन, 9/11 आतंकी हमला, प्रिसेंस डायना की मौत जैसी कई बातों को लेकर भविष्यवाणी कर चुकी थीं, जो बिल्कुल सच साबित हुईं. उन्होंने अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के गंभीर रूप से बीमार होने की भी भविष्यवाणी की थी. अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप हैं. वेंगा की मानें तो वे बीमारी में सुनने की ताकत खो देंगे. और फिर उनपर कोई हमला भी होगा. साल 2021 के बारे में बाबा वेंगा ने बताया था कि ये साल मानवता के लिए काफी बुरा साल होगा.

    ये भी पढ़ें: दो डोज़ में दी जा रही है कोरोना वैक्सीन, क्या हो अगर दूसरा डोज़ समय पर न मिले? 

    बाबा वेंगा ने चूंकि खुद कोई किताब नहीं लिखी और जो लिखा गया, उनके हवाले से लिखा गया, इसलिए बहुत से लोग इन बातों को काल्पनिक कह रहे हैं. दूसरी ओर बाबा वेंगा के समर्थकों को यकीन है कि ये सारी उन्हीं की कही हुई हैं. वैसे बता दें कि इस रहस्यमयी बुल्गेरियन महिला ने ये भी कह रखा है कि 5079 ईस्वी में दुनिया खत्म हो जाएगी.