स्टीफन हॉकिंग को पीटती थी उनकी दूसरी बीवी!

हॉकिंग ने शक की बिना पर पहली बीवी जेन से अलगाव कर लिया लेकिन दूसरी बीवी ने उनकी जिंदगी दुश्वार करके रख दी.

News18Hindi
Updated: October 23, 2018, 1:14 PM IST
News18Hindi
Updated: October 23, 2018, 1:14 PM IST
स्टीफन हॉकिग का पारिवारिक जीवन सुखद नहीं था. उनकी दूसरी बीवी उनसे अच्छा व्यवहार नहीं करती थी. ये भी कहा जाता है कि वो उन्हें न केवल पीटती थी बल्कि तरह तरह से प्रताड़ित करती थी. लोगों से बात नहीं करने देती थी.

बीच के सालों में ये खबरें आने लगी थीं कि हॉकिंग के शरीर पर रोज चोट के निशान मिलते हैं. बाद में जब इसकी जांच की गई तो पता लगा कि ये निशान उनकी पिटाई के हैं. हालांकि हॉकिंग ने इसके बारे में कभी कुछ नहीं कहा. लेकिन दुनियाभर के मीडिया ने इसे लेकर काफी खबरें छापीं.

उस बीवी ने हॉकिंग को अपंग कहा. बहुत गर्म पानी में नहाने को मजबूर किया. जब वो गुस्से में होती थी तो स्टीफन बिस्तर पर फेंककर पीटती थी.  दूसरी बीवी का नाम ऐलेन हॉकिंग था. उसने यहां तक किया कि कंप्यूटर के माउस को बगीचे में छोड़ा ताकि स्टीफन किसी से बात न करे और किसी के लिए फोन न कर सके.

ये भी पढ़ें - हॉकिंग ने आखिरी किताब में लिखा- न भगवान है..न हमारी किस्मत किसी ने लिखी है

महिलाओं को रहस्य मानते थे हॉकिंग 
जब एक इंटरव्यू में उनसे पूर्ण रहस्य के बारे में पूछा गया तो जवाब दिया कि महिलाएं अभी भी पूर्ण रहस्य ही हैं. 1965 में हॉकिंग ने स्पैनिश भाषा की छात्रा जेन विल्ड से शादी की. दोनों के तीन बच्चे हुए लेकिन 1995 में तलाक भी हो गया. इसके बाद हॉकिंग ने दूसरी शादी की. हालाकिं दस साल बाद स्टीफन का एलेन से भी तलाक हो गया. प्रोफेसर स्टीफन हॉकिंग की देखभाल करने वाली एक नर्स ने कहा था कि उसने उनकी पत्नी एलेन को उनके साथ दुर्व्यवहार करते देखा.

स्टीफन हॉकिंग (फाइल फोटो)

Loading...

पहली पत्नी जेन विल्ड का भी यही कहना था कि स्टीफन उन्हें कभी समझ नहीं पाए. साल 2014 में रिलीज फिल्म 'द थ्योरी ऑफ एवरीथिंग' में स्टीफन की असल जिंदगी को पर्दे पर दर्शाया गया. उनके जन्म, पढ़ाई, कॉलेज के दिनों से लेकर मशहूर होने तक की कहानी को फिल्म ने बड़े पर्दे पर दिखाया. यह फिल्म जेन की किताब 'ट्रैवलिंग टू इनफिनिटी- माय लाइफ विद स्टीफन' पर आधारित थी.

 ये भी पढ़ें - इस भारतीय वैज्ञानिक ने स्टीफन हॉकिंग को गलत साबित किया

जेन से हुआ था पहला प्यार 
फिल्म में दिखाया गया है कि उन्हें कॉलेज के दिनों में जेन से प्यार होता है. 1963 में स्टीफन जब महज 21 साल के थे, तब उन्हें Amyotrophic Lateral Sclerosis (ALS) नाम की बीमारी हो गई थी. इसके चलते उनके अधिकतर अंगों ने धीरे-धीरे काम करना बंद कर दिया था. इस बीमारी से पीड़ित लोग आमतौर पर 2 से 5 साल तक ही जिंदा रह पाते हैं, लेकिन स्टीफन ने अपनी मौत को हराया. 21 साल की उम्र में स्टीफन की जिंदगी में आए इस भयंकर तूफान के बावजूद जेन उनके साथ चट्टान की तरह खड़ी रहती हैं.

स्टीफन हॉकिंग (फाइल फोटो)


यूं हुई पहली शादी 
डॉक्टर ने स्टीफन को बताया था कि बीमारी उनके विचारों को प्रभावित नहीं करेगी. स्टीफन एकांत में अपना काम जारी रखते थे और जेन लगातार उनके साथ बनी रहती थीं. स्टीफन की हालत लगातार बिगड़ती देख जेन ने स्टीफन से शादी का फैसला ले लिया. शादी के बाद दोनों का पहला बेटा पैदा हुआ. व्यस्त स्टीफन के परिवार को जेन ने पूरी शिद्दत से संभाला. हालांकि जेन स्पेनिश म्युजिक में पीएचडी करना चाहती थीं लेकिन स्टीफन से उन्हें कोई मदद नहीं मिली.

 ये भी पढ़ें - व्हीलचेयर को कार की तरह भगाते थे स्टीफन हॉकिंग

जब स्टीफन को ब्लैक होल थ्योरी के बाद करियर में नई ऊंचाई मिली, तभी उन्हें पता चला कि वो अब चल भी नहीं सकते. लिहाजा उन्होंने व्हीलचेयर का उपयोग करना शुरू किया.

जेन के साथ उभरे मतभेद
इसी बीच जेन एक पियानो सिखना शुरू करती हैं. जेन और जोनाथन की करीबियां तो बढ़ती हैं लेकिन वे ये भी खयाल रखते हैं कि उनके अपने अलग परिवार भी हैं. हालांकि इन नजदीकियों को लेकर जेन और हॉकिंग में कुछ मतभेद भी उभरते हैं. जब उनका तीसरा बच्चा होता है तो हॉकिंग को यही लगता है कि जेन का ये बच्चा उनका नहीं है बल्कि जोनाथन का है.

स्टीफन हॉकिंग (फाइल फोटो)


नई बीवी अच्छी नहीं थी 
अगर स्टीफन हॉकिंग के मतभेद अपनी पत्नी जेन से बढ़ रहे थे तो अपनी नई नर्स एलेन से नजदीकियां बढ़ रही थीं. कुछ समय बाद वो एलेन को एक पुरस्कार स्वीकार करने के लिए अपने साथ अमेरिका भी ले गए. ये हालत देखकर जेन खुद ही हॉकिंग की जिंदगी से निकल गईं. स्टीफन ने एलेन से शादी कर ली. लेकिन ये शादी कभी हॉकिंग के लिए अच्छी नहीं रही. कुछ समय बाद ही उन्होंने हॉकिंग से गलत व्यवहार शुरू कर दिया. वो उन्हें पीटती भी थीं. आखिरकार इस रिश्ते का खात्मा भी तलाक के साथ हुआ.

 ये भी पढ़ें - जो बातें हमें सिखा गए स्टीफन हॉकिंग
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->