Home /News /knowledge /

बिना डार्क मैटर वाली गैलेक्सी की खोज से क्यों है वैज्ञानिकों में हैरानी

बिना डार्क मैटर वाली गैलेक्सी की खोज से क्यों है वैज्ञानिकों में हैरानी

यह पहली बार है कि किसी गैलेक्सी में डार्क मैटर (Dark Matter) वैज्ञानिकों को मिला ही नहीं है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

यह पहली बार है कि किसी गैलेक्सी में डार्क मैटर (Dark Matter) वैज्ञानिकों को मिला ही नहीं है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

डार्क मैटर (Dark Matter) शायद ब्रह्माण्ड (Universe)की सबसे रहस्यमयी चीज है. इसे ब्रह्माण्ड की सबसे प्रचुर पदार्थ के रूप में उपस्थित माना जाता है. दिन ब दिन इसकी मौजूदगी की सहायता से बहुत सी नई खोगलीय प्रक्रियाएं और पिंडों की भी व्याख्या की जा रही है. लेकिन हाल ही में वैज्ञानिकों को ऐसी गैलेक्सी दिखी है जिसमें किसी तरह से डार्क मैटर होने के संकेत नहीं मिले हैं. इस अनोखी खोज ने वैज्ञानिकों को पूरी तरह से चौंका दिया है.

अधिक पढ़ें ...

    हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में मौजूद बहुत सी जानकारी जुटाई है और लगातार सूचनाएं जमा करते जा रहे हैं जिससे कई कई रहस्यों का खुलासा हुआ है, लेकिन हमारे ब्रह्माण्ड (Universe) में बहुत से रहस्य हैं जिनका पता लगना बाकी है. कुछ खोजें या तो पूरी तरह से नई जानकारी देती हैं या फिर मौजूदा जानकारी में नया इजाफा करती है. लेकिन कई बार कोई खोज या नई जानकारी तो पूरी तरह से हैरान ही कर देती है. ऐसा ही हुआ जब वैज्ञानिकों को ऐसी गैलेक्सी (Galaxy) दिखाई दी जिसमें डार्क मैटर (Dark Matter) की मौजूदगी के वे संकेत ही नहीं मिले जो दूसरी गैलेक्सी में मिल जाते हैं.

    ब्रह्माण्ड में कितना डार्क मैटर
    ब्रह्माण्ड बहुत ही विशाल है जिसमें अरबों ग्रह और तारे मौजूद हैं. करीब 93 अरब प्रकाशवर्ष आकार के इस ब्रह्माण्ड के पदार्थ को तीन श्रेणी में रखा गया है. सामान्य पदार्थ, डार्क मैटर और डार्क ऊर्जा. पूरे ब्रह्माण्ड में सामान्य पदार्थ की 1 से लेकर 10 प्रतिशत तक की ही भागीदारी है. यानि बाकी का 90 प्रतिशत से अधिक पदार्थ डार्क मैटर है.

    डार्क मैटर की अहमियत
    डार्क मैटर के बारे में वैज्ञानिक अब भी बहुत कुछ नहीं जानते हैं. लेकिन फिर भी यह माना जाता है कि यह ब्रह्माण्ड का वह प्रमुख घटक है जो गैलेक्सी को एक साथ बांधे रखता है. ब्रह्माण्ड की संरचना से लेकर उसका कैसे विकास हुआ, इस में वैज्ञानिकों का मानना है कि डार्क मैटर की अहम भूमिका रही है.

    दोबारा की गई गणना
    यही वजह है कि ताजा खोज इतनी खास  हो जाता है. द रॉयल एस्ट्रोनॉमिकल सोसाइटी की रिपोर्ट के मुताबिक खगोलविदों की टीम ने एक ऐसी गैलेक्सी खोजी है जिसमें बिलकुल भी डार्क मैटर नहीं पाया गया है. पहली बार ऐसा पता लगने पर पावल मानसेरा पीना और उनकी टीम से एक बार फिर से गणना करने को कहा गया था, लेकिन न्यूमैक्सिको पर  इस गैलेक्सी का 40 घंटों से भी ज्यादा समय तक से अध्ययन करने पर भी नतीजा वही रहा, गैलेक्सी में डार्क मैटर नहीं है.

    Science, Research, Space, Galaxy, Universe, Dark Matter, Galaxy without Dark Matter

    अब तक माना जाता था कि गैलेक्सी का अस्तित्व बिना डार्क मैटर (Dark Matter) के संभव ही नहीं है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

    कितनी दूर है यह गैलेक्सी
    इस गैलेक्सी को नाम एजीसी 114905 है और यह पृथ्वी से 25 करोड़ प्रकाश वर्ष दूर स्थित है. इसका आकार हमारी गैलेक्सी मिल्की वे की ही तरह बताया जाता है.  इसमें कुछ  हजार तारे कम हैं, इस लिहाज से इसे ड्वार्फ गैलेक्सी की श्रेणी में रखा गया है. अभी तक माना जाता है कि हर गैलेक्सी को अपने आपको कायम रखने के लिए  डार्क मैटर की जरूरत होती है. ऐसा ड्वार्फ गैलेक्सी के लिए जरूरी होता है जिनमें दूसरी गैलेक्सी की तुलना में तारे बहुत ज्यादा नहीं होते हैं.

    जानिए खगोलीय धूल के पीछे वैज्ञानिकों ने कैसे खोजी दो अदृश्य गैलेक्सी

    क्या हो सकता है कारण
    AGC 114905 इसी वजह से बहुत विशेष तरह की गैलेक्सी हो गई है.  यह स्पष्ट रूप से बहुत ही कम तारों वाली गैलेक्सी है. कई बार परीक्षण करने पर भी वैज्ञानिकों को गैलेक्सी में डार्क मैटर नहीं मिला. एक संभावना यह बताई जा रही है कि होसकता है कि किसी पास की बड़ी गैलेक्सी ने इस AGC 114905 से डार्क मैटर खींच लिया हो. लेकिन ऐसा होना संभव नहीं दिख रहा है.

    Science, Research, Space, Galaxy, Universe, Dark Matter, Galaxy without Dark Matter

    अभी तक वैज्ञानिकों की गैलेक्सी में डार्क मैटर (Dark Matter) के ना होने की व्याख्या ही नहीं मिली है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

    कोई और संभावना भी नहीं
    मानसेरा पीना ने बताया कि AGC 114905 के पार किसी तरह की कोई गैलेक्सी नहीं है. और बहुत चर्चित कोल्ड डार्क मैटर मॉडल में भी ,सामान्य रेंज से बहुत ही असीम मानों को रखना होगा.  ऐसा भी हो सकता है कि AGC 114905 को जिस कोण से अवलोकित किया जा रहा है, उससे डार्क मैटर की अनुपस्थिति की व्याख्या कर सकता है. लेकिन उसकी संभावना कम ही है.

    Black Hole सोना भी बना सकते हैं, वैज्ञानिकों ने बताया कैसे

    कुल मिलाकर खगोलविद स्पष्ट रूप से समझ नहीं पा रहे हैं कि आखिर हो क्या रहा है. विज्ञान का कहना है कि गैलेक्सी और ब्रह्माण्ड के अस्तित्व के लिए डार्कमैटर का होना जरूरी  है. किसी वजह से इस गैलेक्सी में डार्क मैटर नहीं है. लेकिन इस तरह की खोजें कुछ समय लेती हैं. ये याद दिलाती हैं कि हमें अब भी बहुत कुछ जानना है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर