लाइव टीवी

सितंबर महीने में क्यों हो रही है इतनी बारिश?

News18Hindi
Updated: September 30, 2019, 12:12 PM IST
सितंबर महीने में क्यों हो रही है इतनी बारिश?
सितंबर में हुई बारिश ने 102 साल का रिकॉर्ड तोड़ डाला है

इस बार सितंबर (september) महीने में बारिश (rainfall) ने 102 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. आखिर सितंबर महीने में इतनी बारिश क्यों हो रही है कि बिहार और यूपी जैसे राज्यों में ये कहर बनकर टूट पड़ा है...

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 30, 2019, 12:12 PM IST
  • Share this:
बारिश (rainfall) ने सारे रिकॉर्ड तोड़ डाले हैं. इस बार सितंबर (september) महीने में सबसे ज्यादा बारिश हो रही है. सितंबर में बारिश ने 102 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. जून से सितंबर महीने तक औसत से 9 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है. मानसून में ज्यादा बारिश का आंकड़ा सिर्फ एक पॉइंट से कम रह गया है.

बारिश ने बिहार और यूपी में कहर बरपा रखा है. यूपी में बारिश की चपेट में आकर 80 लोगों की मौत हुई है. बिहार में 29 लोगों ने जान गंवाई है. बिहार की राजधानी पटना झील में तब्दील हो चुकी है. पूरा शहर पानी में डूबा है. मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है कि अगले 24 घंटे दोनों राज्यों पर भारी पड़ सकते हैं. दोनों राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है.

इस बार देर से लौट रहा है मानसून

आमतौर पर सितंबर महीने में इतनी बारिश नहीं देखी जाती. ये मानसून के लौटने का वक्त होता है. लेकिन इस बार सितंबर महीने में जोरदार बारिश हो रही है. मौसम विभाग ने कहा है कि इस बार मानसून देरी से लौट रहा है. मानसून 15 अक्टूबर तक लौट सकता है. 60 साल में पहली बार मानसून के देरी से लौटने का अनुमान है. 1960 के बाद ये पहली बार होगा कि मानसून इतनी देरी से विदा होगा.

मौसम विभाग के रिकॉर्ड के मुताबिक 1901 के बाद ऐसा तीसरी बार हुआ है, जब सितंबर महीने में इतनी बारिश हुई है. सितंबर महीने में एक दिन रहते 247.1 एमएम की बारिश हो चुकी है. ये औसत बारिश से 48 फीसदी ज्यादा है. 1983 में सितंबर महीने में 255.8 एमएम की बारिश हुई थी. सोमवार की बारिश में इस रिकॉर्ड के टूटने की संभावना है. बिहार और गुजरात में बारिश का रेड अलर्ट जारी हो चुका है.

1901 के बाद 1917 में सितंबर महीने में सबसे ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई थी. 1917 में सिर्फ सितंबर महीने में 285.6 एमएम की बारिश हुई थी.

why heavy rainfall in september month in india
बिहार में बाढ़ की स्थिति

Loading...

शुरुआत से ही छका रहा है मानसून

इस बार मानसून शुरुआत से ही छका रहा है. पहली बात कि इस बार मानसून देरी से आया. उस पर जून महीने में बारिश में 33 फीसदी की कमी रही. बिहार के जिन इलाकों में सितंबर के आखिरी हफ्ते में भारी बारिश हुई है, वहां जून महीने में काफी कम बारिश हुई. मध्य बिहार के कुछ इलाकों में इतनी कम बारिश हुई थी कि धान की रोपनी बमुश्किल हो पाई. आज वो इलाके पानी में डूबे हैं. मानसून ने जाते-जाते पूरे बिहार को अपनी आगोश में ले लिया है.

28 सितंबर तक देश के 25 राज्यों में भारी बारिश रिकॉर्ड की गई. बिहार के 16 जिले बाढ़ की चपेट में हैं. यूपी और मध्य प्रदेश में बारिश ने कहर बरपाया हुआ है. उत्तराखंड मे भी भारी बारिश दर्ज की गई है. रविवार तक देश में 956.1 एमएम की बारिश रिकॉर्ड की गई. ये औसत से 9 फीसदी ज्यादा था.

सितंबर में भारी बारिश के पीछे 3 वजहें

मौसम विभाग ने सितंबर महीने में तेज बारिश के पीछे 3 वजहें बताई हैं. पहली- पैसिफिक ओसन के ऊपर बना अल नीनो का इफेक्ट. जिसने मानसून को दबाया और जुलाई में कम बारिश हुई. ठीक उसी वक्त इंडियन ओशन में मानसून के अनुकूल वातावरण तैयार हुआ. तीसरा फैक्टर है- बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाब का क्षेत्र. इसके लगातार बनने की वजह से लंबे वक्त तक भारी बारिश होती है, जो हमने सितंबर महीने में देखी.

why heavy rainfall in september month in india
इस बार मानसून देरी से लौट रहा है


मौसम विभाग के मुताबिक लो प्रेशर वाला एक सिस्टम 10 दिनों तक एक्टिव होता है. इसके लगातार बनने की वजह से अगस्त और सितंबर महीने में बारिश हुई. कई ऐसे इलाके जहां कम बारिश हुई थी, सीजन के खत्म होते-होते वहां भारी बारिश हो चुकी थी. जिन इलाकों में 20 फीसदी कम बारिश हुई थी, वहां सीजन खत्म होते वक्त 28 फीसदी की सरप्लस बारिश हो चुकी थी.

खासकर दक्षिण भारत में मानसून ने खूब छकाया. 19 जुलाई तक दक्षिण भारत के कई हिस्सों में 30 फीसदी कम बारिश हुई थी. वहां सुखाड़ जैसी स्थिति बन गई थी. सितंबर खत्म होते-होते वहां 16 फीसदी सरप्लस बारिश दर्ज की गई. मानसून जाते-जाते सितंबर को सराबोर कर गया.

ये भी पढ़ें: जब अयोध्या में विवादित परिसर को 3 हिस्सों में बांटा गया था...

बापू के चश्मे से पहले ही नज़र आ चुका था सिंगल यूज़ प्लास्टिक का खतरा?

 लव मैरिज, तलाक और मैरिटल रिलेशन को लेकर फेमिनिस्ट थे गांधीजी?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 30, 2019, 12:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...