ईरान में क्यों जमकर डांस वीडियो अपलोड कर रही हैं लड़कियां

ईरान में इंस्टाग्राम पर डांस का वीडियो अपलोड करने वाली किशोरी की गिरफ्तारी के बाद किस तरह ईरान में हो रहा है अजीबोगरीब विरोध

News18Hindi
Updated: July 11, 2018, 11:26 PM IST
ईरान में क्यों जमकर डांस वीडियो अपलोड कर रही हैं लड़कियां
ईरान में इंस्टाग्राम पर डांस का वीडियो अपलोड करने वाली किशोरी की गिरफ्तारी के बाद किस तरह ईरान में हो रहा है अजीबोगरीब विरोध
News18Hindi
Updated: July 11, 2018, 11:26 PM IST
ईरान में पिछले एक हफ्ते से अजीब वाकया हो रहा है. वहां की लड़कियों ने बड़े पैमाने पर अपने डांस के वीडियो इंटरनेट पर अपलोड करना शुरू कर दिया है. ये लड़कियां इंस्टाग्राम पर डालने वाली एक लड़की की गिरफ्तारी के विरोध में ऐसा कर रही हैं. ईरान में जोर पकड़ता या अजीबोगरीब विरोध वहां की सरकार के लिए मुसीबत बन गया है.

पिछले दिनों मेदेह होजाब्री नाम की एक युवती ने ईरानी और पश्चिमी संगीत पर डांस करते हुए कई वीडियो इंस्टाग्राम पर अपलोड किए थे. इन वीडियोज में होजाब्री बगैर हिजाब या स्कॉर्फ के नजर आ रही हैं. ईरान में महिलाओं के कपड़ों को लेकर भी कड़े नियम हैं. वीडियो में उसने टाइट पश्चिमी कपड़े पहने हैं. संस्कृति का हवाला देकर उस लड़की को गिरफ्तार कर लिया गया.

डांस के जरिए विरोध 
अब ईरान में हिजाब का विरोध कर रही महिलाओं ने प्रदर्शन का नया तरीका निकाला है. ये महिलाएं सड़कों पर उतर आईं हैं, वो डांस कर रही हैं. साथ ही अपने डांस के वीडियो को अपलोड भी कर रही हैं. ईरानी महिलाओं के सार्वजनिक जगहों पर डांस के वीडियो वायरल भी हो रहे हैं. कोई सड़क के बीचों-बीच तो कोई ट्रैफिक लाइट के पास डांस कर रही हैं.

बढ़ रही है मेदेह की लोकप्रियता 
ये महिलाएं अच्छी तरह वाकिफ हैं कि ईरानी कानून के मुताबिक वहां ऐसा करने की मनाही है, लेकिन इसके बावजूद वो डांस के जरिए सरकारी कानूनों का विरोध कर रही हैं. साथ ही डांस वीडियो के मामले में टीनएजर लड़की की गिरफ्तारी का विरोध भी कर रही हैं.  डांस करने वाली लड़की मेदेह की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है. देखते ही देखते उसके फॉलोअर्स की संख्या हजारों में पहुंच चुकी है. सोशल मीडिया पर उसे भारी समर्थन मिल रहा है.  #dancing_isn't_a_crime नाम का हैशटैग पॉपुलर हो रहा है.

ईरान में मेदेह की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है
Loading...
एक ट्विटर यूज़र ने लिखा, "मैं डांस कर रही हूं ताकि अधिकारी देख सकें कि वो होजाब्री जैसी युवा महिलाओं को गिरफ़्तार करके हमारी खुशी और उम्मीद नहीं छीन सकते."

पिछले शुक्रवार को इस 18 वर्षीय युवती का बयान सरकारी चैनल पर प्रसारित किया गया, जिसमें उसने नियम तोड़ने की बात मानी है. उसने सफाई दी है कि उसका मकसद सिर्फ इंस्टाग्राम पर फॉलोअर्स की संख्या को बढ़ाने का था. हालांकि ये स्पष्ट नहीं हुआ कि उसने उससे ये बयान जबरदस्ती दिलाया गया है कि उसने खुद ये बात कही है. मेदेह के इंस्टाग्राम पर करीब 43,000 फॉलोअर्स हैं. इस मामले में पुलिस ने कहा कि उसने इंटाग्राम पर ऐसे ही कई अकाउंट बंद करने का फैसला लिया है.



300 डांस के वीडियो अपलोड
स्थानीय वेबसाइट शाबूनेह के मुताबिक, होजाब्री और तीन अन्य को डांस करने के कारण गिरफ्तार किया गया. किशोरी ने करीब 300 वीडियो अपलोड किए हैं जिसमें वह ईरानी और वेस्टर्न स्टाइल के गानों पर डांस करती हुई दिख रही है. वैसे ये पहला मामला नहीं है जब ईरान में डांस वीडियो की वजह से गिरफ्तारी हुई हो. 2014 में छह ईरानी नागरिकों ने अंग्रेजी गानों पर डांस का वीडियो शेयर किया था. इस पर उन्हें एक साल की कैद और 91 कोड़ों की सज़ा सुनाई गई थी.



ईरान में सोशल मीडिया ब्लॉक
ईरान में फेसबुक, ट्विटर या यूट्यूब जैसे सोशल मीडिया साइट्स ब्लॉक हैं. यहां के लाखों यूजर्स वीपीएन या प्रॉक्सी सर्वर का सहारा लेकर वेबसाइट्स तक पहुंचते हैं. वहीं कोर्ट भी इन साइट्स को ब्लॉक करने के लिए योजना बना रही है.

ईरान में महिलाओं को लेकर कैसे हैं कानून
ईरान में महिलाओं को लेकर कानून खासे सख्त हैं. इस क्रांति के बाद महिलाओं के मूलभूत अधिकारों का हनन भी कर दिया गया. इसमें महिलाओं के लिए सिर ढंकना और सार्वजनिक जगहों पर लंबे और पूरे शरीर को ढकने वाले कपड़े पहनना अनिवार्य कर दिया गया. इसके इलावा कई और प्रतिबंध महिलाओं पर लगा दिए गए. इसके विरोध में 1979 में एक लाख ईरानी महिलाएं सड़कों पर उतर आईं थीं, लेकिन सरकार ने इस विरोध को कुचल दिया.

ईरान में महिलाओं की वेशभूषा को लेकर काफी पाबंदियां हैं


कैसा था इस्लामी क्रांति से पहले ईरान
ईरान में 40 साल पहले स्कूलों में डांस सिखाया जाता था लेकिन वर्ष 1979 में हुई इस्लामी क्रांति के बाद डांस पर पाबंदी लग गई. अब इसे वहां अपराध समझा जाता है. अगर कोई महिला नियमों का उल्लंघन करती है, तो उसे जुर्माने से लेकर जेल तक की सजा सुनाई जाती है. कई महिलाओं को जेल भी जाना पड़ा है.
बता दें कि आज का ईरान महिलाओं के प्रति जितना कट्टर है, पहले वह इससे एकदम उलट था। 1979 से पहले ईरान में महिलाएं वेस्टर्न ड्रेस पहना करती थीं। उनका पहनावा काफी फैशनेबल हुआ करता था.
उन्हें पसंद के कपड़े पहनने से लेकर मेकअप करने, बालों को कलर करने, सब चीज की आजादी थी. उनपर कोई प्रतिबंध नहीं था. अब वक्त बदल चुका है. ईरान में महिलाओं को साइकिल चलाने से लेकर सेल्फी लेने तक और अपने पसंद के कपड़े पहनने का भी अधिकार नहीं है.

बगैर पुरुष के इजाजत ये नहीं कर सकती महिला
ईरान सरकार द्वारा पास किए गए कानून के तहत वहां की कोई भी महिला बिना पुरुष की इजाजत के देश से बाहर नहीं जा सकती है. जो महिलाएं सिंगल हैं, उन्हें इसके लिए अपने पिता से लिखित इजाजत की जरूरत पड़ती है. जो महिलाएं शादी-शुदा होती हैं, उन्हें अपने पति की इजाजत लेनी पड़ती है. ईरान में बिना बुर्के के कोई भी महिला घर से बाहर नहीं निकल सकती.
Loading...

और भी देखें

Updated: November 18, 2018 04:55 AM ISTअब 1000 ग्राम का नहीं रहा एक किलो! जानिए क्या होगा आप पर असर?
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर