दुनिया के सबसे ताकतवर नेता ट्रंप की बेटी इवांका को क्यों बदलना पड़ा था धर्म

दुनिया के सबसे ताकतवर नेता ट्रंप की बेटी इवांका को क्यों बदलना पड़ा था धर्म
डोनाल्ड ट्रंप अपने सभी बच्चों में इवांका से सबसे ज्यादा लगाव रखते हैं.

साल 2009 में इवांका ट्रंप ने ईसाई धर्म (Christianity) छोड़कर यहूदी धर्म (Judaism) अपना लिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2020, 3:18 PM IST
  • Share this:
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) जबसे पद पर बैठे हैं उनकी बेटी इवांका ट्रंप (Ivanka Trump) को लेकर दुनियाभर में चर्चा रही है. ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद इवांका ट्रंप ही पहले भारत आई थीं. अब जब डोनाल्ड ट्रंप भी इंडिया आए हैं तो उनके साथ इवांका ट्रंप भी भारत आई हैं. इवांका के साथ उनके पति जेरेड कुशनर भी हैं जो व्हाइट हाउस के सीनियर एडवाइजर हैं.

दिलचस्प है कि अमेरिका के अभी तक जितने भी राष्ट्रपति हुए हैं वो सभी प्रोटेस्टेंट क्रिस्चियन रहे हैं. सिर्फ एक रोमन कैथलिक राष्ट्रपति हुए हैं जिनका नाम था जॉन. एफ. कैनेडी. वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी प्रोटेस्टेंट क्रस्चियन ही हैं. लेकिन उनकी बेटी इवांका ट्रंप ने अपना धर्म बदल लिया है. लेकिन ऐसा क्यों हुआ?

इवांका के पति हैं यहूदी
दरअसल इवांका ट्रंप के पति जेरेड कुशनर यहूदी हैं. साल 2009 में दोनों की शादी हुई है. उसी समय इवांका ट्रंप ने अपना धर्म बदलकर ऑर्थोडॉक्स जुडाइजम अपना लिया था. प्रेसबिटेरियन प्रोटेस्टेंट ईसाई के तौर पर पली-बढ़ीं इवांका ने साल 2009 में यहूदी धर्म अपनाया था. धर्म बदलने के बाद उन्होंने अपना नाम भी बदला. उनका बदला हुआ नाम है येल कुशनर.



हालांकि धर्म बदलने को लेकर इवांका ने अलग बयान भी दिए हैं. उनके धर्म बदलने को लेकर एक रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि वो कारण को लेकर कन्फ्यूज हैं. इवांका ने कहा था कि 2009 में उन्होंने यहूदी धर्म के बारे में जानने की कोशिश की थी और फिस इस धर्म को अपनाया था. अपने धर्म परिवर्तन के बारे में इवांका का कहना है कि ये बेहद सुकूनदायक अनुभव रहा है.



डोनाल्ड ट्रंप का रहा है समर्थन
इवांका ने एक बार एक इंटरव्यू में बताया था कि पिता डोनाल्ड ट्रंप ने पहले दिन से उनके इस फैसले का समर्थन किया. 2015 में उन्होंने एक बार कहा था-'धर्म बदलने का फैसना शानदार रहा है. मेरा मानना है कि यहूदी धर्म आपका परिवार के साथ मेलजोल और ज्यादा बढ़ाता है. हम शुक्रवार, शनिवार को कोई काम नहीं करते. सिर्फ अपने परिवार के साथ बातें करते हैं. हम फोन भी साथ नहीं रखते.'

इवांका और उनके पति ने डोनाल्ड ट्रंप की अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में जीते के कुछ ही दिनों बाद यहूदियों के न्यू यॉर्क स्थित श्रद्धास्थल की यात्रा की थी. 2017 में दोनों डोनाल्ड ट्रंप के साथ इजरायल की आधिकारिक यात्रा पर भी गए थे. इवांका पहली यहूदी हैं जो किसी अमेरिकी राष्ट्रपति के परिवार का हिस्सा हैं.

कौन हैं इवांका के पति
इवांका के पति जेरेड कुशनर वर्तमान में व्हाइट हाउस के सीनियर एडवाइजर हैं. इसके अलावा वो इन्वेस्टमेंट, रियल इस्टेट और पब्लिशिंग से भी जुड़े हुए हैं. कुशनर के पिता चार्ल्स अमेरिका के बड़े बिल्डर रहे हैं. जेरेड विस्थापित यहूदियों के परिवार से ताल्लुक रखते हैं जो सोवियत से अमेरिका आया था.

2016 में डोनाल्ड ट्रंप के चुनाव प्रचार के दौरान ये जेरेड ही थे जिसने ट्रंप के लिए डिजिटल मीडिया रणनीति बनाई थी. इवांका और जेरेड भी बड़ी संपत्ति के मालिक हैं. दोनों को मिलाकर करीब 750 मिलियन डॉलर की संपत्ति है. इस समय दोनों ही पति-पत्नी डोनाल्ड ट्रंप सरकार के ताकतवर इनर सर्किल का हिस्सा हैं.

ट्रंप की सबसे प्रिय बेटी
डोनाल्ड ट्रंप अपने सभी बच्चों में इवांका से सबसे ज्यादा लगाव रखते हैं. ये बात कई बार परिवार के सदस्यों ने खुले तौर पर कही है. इवांका डोनाल्ड ट्रंप की पहली पत्नी से पैदा हुई औलाद हैं. इवांका की मां चेकोस्लोवाकिया की रहने वाली थीं. ट्रंप और इवाना की शादी 1977 से 1990 तक चली थी.
ये भी पढ़ें:

डोनाल्ड ट्रंप के अहमदाबाद में दिए भाषण से क्यों लगी पाकिस्तानी मीडिया को 'मिर्ची'
ट्रंप ने सचिन को कहा चैंपियन, मास्टर ब्लास्टर ने किया था आज ही ये बड़ा काम
आगरा की वो 5 जगहें जहांं घूमना चाहेगा हर टूरिस्ट
ट्रंप कर रहे ताज का दीदार, जानें कैसी है अमेरिकी प्रेसिडेंट की लव स्टोरी
राष्ट्रपति ट्रंप की वो खास टीम, जो भारत दौरे के लिए अमेरिका से आई
ट्रंप से शादी के पहले सक्सेसफुल मॉडल थीं मेलानिया, किए हैं कई बोल्ड फोटो शूट

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading