Home /News /knowledge /

इस साल देश में इतनी ज्यादा और असामान्य रूप ठंडी क्यों है सर्दी

इस साल देश में इतनी ज्यादा और असामान्य रूप ठंडी क्यों है सर्दी

उत्तर भारत में इस बार सर्दी (Winter) बहुत ही ज्यादा ठंडी और लंबी हो गई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Ayush Delhi / Shutterstock)

उत्तर भारत में इस बार सर्दी (Winter) बहुत ही ज्यादा ठंडी और लंबी हो गई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Ayush Delhi / Shutterstock)

भारत (India) में इस साल का सर्दियों (Winter) का मौसम सामान्य से बहुत ही अलग है. इस बार ठंड (Cold) ज्यादा हो रही है. कई जगह लगातार ठंडक बहुत ज्यादा, कई इलाकों में बार बार बारिश हो रही है. बादल लगातार छाए हुए हैं और अभी तक कोहरे जैसा मौसम (Fogless Weather) भी नहीं दिख रहा है. इसकी वजह उत्तर भारत में असामान्य मौसमी स्थितियां हैं जिसकी वजह से देश में, खास तौर पर उत्तर और मध्य भारत में मौसम की असामान्य मार झेलनी पड़ रही है.

अधिक पढ़ें ...

    इस साल भारत (India) के उत्तरी प्रदेशों में ठंड (Cold) का खासा कहर है. इतना ही नहीं इस बार का सर्दियों  (Winter) का मौसम पिछले सालों की तुलना में काफी असामान्य है. उत्तर भारत पिछले कई दिनों से लगातार ठिठुर रहा है. वहीं मध्य भारत में भी ठंडक के तीखे झोंकों के उतार चढ़ाव देखने को मिले हैं. लेकिन पिछले कुछ दिनों से तो जैसे ठंडक ने कपंकपाहट कुछ ज्यादा है फैला रखी है. मौसम विभाग के अनुमान भी राहत भरी खबर नहीं दे रहे हैं. भारतीय मौसम विभाग ने अगले दो दिन और ज्यादा ठंडक रहने का अनुमान लगाया है.

    अधिकतम तापमान में बहुत कम
    इस साल की सर्दी ज्यादा ठंडी और लंबी तो रही है. कोहरा भी देर से देखने को मिला. वहीं इस बार बादल भी ज्यादा छाए और कई बार बारिश भी हुई. राजधानी दिल्ली सहित उत्तर भारत में भी ठंड का प्रकोप है. दिल्ली में मंगलवार को अधिकतम तापमान 12.2 डिग्री सेल्सियस पाया गया. यह पिछले आठ दिन में सबसे कम था.

    2003 में थी दिल्ली में ऐसी ठंड
    इस तरह के ठंडे दिन दिल्ली में पिछली बार साल 2003 में देखे गए थे. उस साल 19 कोल्ड डे हुए थे. इसके बाद 2010 में 11 दिन, 2004 में 9 दिन कोल्ड डे थे. इस साल अभी तक 8 दिन से ज्यादा दिनों में लोगों को सूरज देखने को नहीं मिला है. मौसम विभाग का कहना है कि पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिम उत्तर प्रदेश में अगले दो दिन और भी ज्यादा ठंडक होगी.

    इन इलाकों में भी ऐसा ही हाल
    इस बार कोहरे की दस्तक अब शुरू हुई है. मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले दो दिन बहुत घना कोहरा भी देखने को मिलेगा. विभाग ने यह भी कहा है क गहरा कोहरा और ठंडक में तेजी राजस्थान, ओडिशा, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, महाराष्ट्र और गुजरात में भी देखने को मिलेगी.

    India, Weather, Indian winter, Winter, Winter Season, North India, Cold, Cold Days, Fogless winter,

    इस साल सर्दी (Winter) तो लंबी खिंच ही रही है. कोहरा भी देर से आया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Ayush Delhi / shutterstock)

    एक प्रमुख कारक
    भारत में सर्दी का मौसम पश्चिमी विक्षोभ से बहुत ज्यादा प्रभावित होता है. इसकी तीव्रता और आवृत्ती बार बार उत्तर भारत में सर्दी में तेजी लाने का काम करती है. इसकी वजह से हवाओं का चक्रवाती प्रवाह पश्चिम से उत्तर भारत में प्रवेश करता है. जिससे बारिश, हिमपात, और ठंडक पाकिस्तान और उत्तर भारत में होने लगते हैं.

    यह भी पढ़ें: Climate change: बदलते हालात के मुताबिक खुद ढाल रहे हैं इंसान, पर तेजी से नहीं

    ला निया का प्रभाव
    मौसम विभाग के अनुसार 11 से 20 जनवरी तक लागातार दो पश्चिमी विक्षोभों के कारण जम्मू कश्मीर, पंजाब हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और बिहार में लगातर ज्यादा ठंडक महसूस की गई.  इसकी वजह ला निया प्रभाव था जो इस असर में ज्यादा तीव्रता दिखाई दे रही है.

    India, Weather, Indian winter, Winter, Winter Season, North India, Cold, Cold Days, Fogless winter,

    पहले ही पूर्वानुमान लगा लिया गया था कि इस साल सर्दी (Winter) का मौसम ज्यादा लंबा चलेगा. (तस्वीर: Wikimedia commons)

    पहले ही लगाया जा चुका था अनुमान
    ला निया की वजह से प्रशांत भूमध्यरेखीय इलाकों में समुद्र की सतह का तापमान सामान्य से ठंडा हो जाता है. विशेषज्ञों का कहना है कि इस बार यह अब तक का सबसे लंबा और सबसे तीव्र ठंड का मौसम देखने को मिला है.  उल्लेखनीय है कि सर्दी का मौसम शुरू होने से पहले ही मौसम विभाग ने अनुमान लगाया था कि ला निया की वजह से इस साल उत्तर भारत में ज्यादा लंबा सर्दी का मौसम होगा.

    यह भी पढ़ें: NASA ने बताया कितना बड़ा और खतरनाक था टोंगा ज्वालामुखी

    इतना ही नहीं इस साल उत्तर भारत सर्दी के मौसम में सामान्य से ज्यादा बारिश देखने भी मिली. इसके अलावा दिल्ली और उत्तर भारत में जितना कोहरा देखने को मिलता है वह इस साल भी बहुत ही कम रहा. कई इलाकों में कोहरे का समय बहुत ही कम हो गया. दिल्ली में दो दिन पहले ही घना कोहरा देखने को मिला है. मौसम की ऐसी मार अगले दो दिन तक तो जारी ही रहेगी. यह असामान्यता भी जारी ही रहेगी.

    Tags: India, Research, Science, Weather

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर