दुनिया का सबसे बड़ा प्लेन, अंतरिक्ष में लॉन्च करेगा रॉकेट

दुनिया का सबसे बड़ा प्लेन, अंतरिक्ष में लॉन्च करेगा रॉकेट
माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर पॉल ऐलन और स्ट्रैटोलॉन्च सिस्टम ने मिलकर दुनिया का सबसे बड़ा कैरियर एयरक्राफ्ट बनाया है, जो अंतरिक्ष में जाकर रॉकेट लॉन्च करेगा. पढ़िए क्यों हैं खास?

माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर पॉल ऐलन और स्ट्रैटोलॉन्च सिस्टम ने मिलकर दुनिया का सबसे बड़ा कैरियर एयरक्राफ्ट बनाया है, जो अंतरिक्ष में जाकर रॉकेट लॉन्च करेगा. पढ़िए क्यों हैं खास?

  • Last Updated: May 17, 2018, 11:23 AM IST
  • Share this:
आगामी कुछ महीनों में माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर पॉल ऐलन और स्ट्रैटोलॉन्च सिस्टम का मिलकर बनाया गया दुनिया का सबसे बड़ा कैरियर एयरक्राफ्ट उड़ान भरेगा.

6 इंजन वाला ये एयरक्राफ्ट ऐसा लगता है, जैसे दो जहाजों को मिलकर बनाया गया है. इसको बनाने वाली कंपनी कैलिफॉर्निया की स्केल्ड कंपोजिट है. जानिए स्पेस ऑर्बिट में सैटेलाइट लॉन्च करने के लिए बनाए गए इस जहाज की क्या हैं खूबियां और कैसे करता है ये काम?

रॉकेट लॉन्चिंग का सस्ता तरीका
ये एयरक्राफ्ट रॉकेट लॉन्च करने के परंपरागत तरीके को चुनौती देता है. क्योंकि न सिर्फ इसके इस्तेमाल से खर्च कम होगा बल्कि सैटेलाइट सही और बेहतर तरीके से स्थापित हो सकेगी.
हालांकि अभी एयरक्राफ्ट को आखिरी और फाइनल मंजूरी से पहले 2 टेस्टों से गुजरना होगा. जो मोजेव एयर और स्पेस पोर्ट कैलिफॉर्निया में होंगे. अगर आगामी तीनों टेस्ट मजूंर होंगे तो ये रॉकेट लॉन्चिंग के पूरे तरीके को बदलकर रख देगा.





रग्बी के मैदान से बड़ा
इसके साइज का अंदाजा कुछ ऐसे लगाइए कि ये अमेरिकन फुटबॉल यानि रग्बी खेल के मैदान से भी बड़ा है. रग्बी का मैदान 110 मीटर लंबा और 48.76 मीटर चौड़ा होता है.

इस बड़े एयरक्राफ्ट को उड़ान भरने के लिए भी 3800 मीटर लंबे रनवे की जरूरत होती है. एक बार में ये विमान 3700 किमी का सफर तय कर सकता है.



क्यों खास है एयरक्राफ्ट?
- बोइंग 747 एयरलाइनर्स के 6 इंजान मौजूद
- विमान की बॉडी कार्बन फाइबर से तैयार
- स्केल्ड कंपोजिट कंपनी ने किया निर्माण
- दाएं वाले ढांचे में 3 क्रू सदस्य बैठने में सक्षम
- बाएं वाले में सिर्फ फ्लाइट डेटा सिस्टम मौजूद
- 230 टन से ज्यादा वजन ले जाने में सक्षम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज