होम /न्यूज /जीवन शैली /रोजाना 45 मिनट की एक्सरसाइज कम कर देगी कैंसर का रिस्क: स्टडी

रोजाना 45 मिनट की एक्सरसाइज कम कर देगी कैंसर का रिस्क: स्टडी

स्टडी में में आया है कि अमेरिका में कैंसर के 3 प्रतिशत मामले सीधे तौर पर शारीरिक निष्क्रियता से जुड़े होते हैं. (प्रतीकात्मक फोटो-shutterstock.com)

स्टडी में में आया है कि अमेरिका में कैंसर के 3 प्रतिशत मामले सीधे तौर पर शारीरिक निष्क्रियता से जुड़े होते हैं. (प्रतीकात्मक फोटो-shutterstock.com)

Daily Exercise Reduces The Risk Of Cancer : अमेरिका में हुई एक स्टडी में सामने आया है क रोजाना कम से कम 45 मिनट (सप्ताह ...अधिक पढ़ें

    Daily Exercise Reduces The Risk Of Cancer : महामारी के बाद से लोगों के लाइफस्टाइल में बड़ा परिवर्तन आया है, जिसका असर उनकी सेहत पर भी देखने को मिल रहा है. वर्क फ्रॉम होम, लॉन्ग वर्किंग आवर्स, काफी देर तक एक ही पॉजिशन में बैठे रहना, स्क्रीन पर ज्यादा देर तक समय देना. इन सबके चलते हमारी फिजिकल एक्टिविटी कम हो गई है. हम चलना फिरना, घूमना भूल गए हैं. या फिर यूं कहें कि काफी देर तक काम करने के बाद देह में वो ताकत नहीं रहती कि थोड़ा घूमने जाया जाए, एक लंबी वॉक ली जाए या कुछ एक्सरसाइज की जाए. लेकिन क्या आप जानते हैं कि हमारी ये शारीरिक निष्क्रियता (inactivity) हमारे शरीर पर कई तरह के बुरे परिणाम डाल रही है. जबकि फिजिकली एक्टिव रहने से कई बीमारियों से बचा जा सकता है. अमेरिका में हुई एक स्टडी में सामने आया है क रोजाना कम से कम 45 मिनट (सप्ताह में 300 मिनट) की एक्सरसाइज से कैंसर का खतरा कम हो जाता है. इस स्टडी को मेडिसिन एंड साइंज इन स्पोर्ट्स एंड एक्सरसाइज (Medicine and science in sports and exercise) जर्नल में प्रकाशित किया गया है.

    कैंसर भारत सहित दुनियाभर में मौत का एक बड़ा कारण है. फिजिकल एक्टिविटी कम होना, एक्सरसाइज और कैंसर पर अमेरिका में की गई इस स्टडी में सामने आया है कि यदि लोग रोजाना कम से कम 45 मिनट पैदल चलें तो अकेले अमेरिका में ही हर साल कैंसर के 46,000 मामलों को रोका जा सकता है.

    इस तरह की गई स्टडी
    रिसर्चर्स ने इस स्टडी के लिए अमेरिका के सभी राज्यों के 6 लाख लोगों में कैंसर की आशंका और उनकी फिजिकल एक्टिविटी की आदतों का विश्लेषण किया. इस स्टडी में महिला और पुरुषों दोनों को शामिल किया गया. स्टडी में में आया है कि अमेरिका में कैंसर के 3 प्रतिशत मामले सीधे तौर पर शारीरिक निष्क्रियता (physical inactivity) से जुड़े होते हैं.

    फिजिकल एक्टिविटी के फायदे
    समाचार एजेंसी एएनआई (ANI) ने इस स्टडी को लेकर भारतीय डॉक्टरों से भी बात की है, उनका भी कहना है कि कैंसर के खतरे को रोकने में एक्सरसाइज अहम भूमिका निभाती हैं. नोएडा के सुपर स्पेशियलिटी पीडियाट्रिक हास्पिटल एंड पीजी टीचिंग इंस्टीट्यूट (SSHPGT) में पीडियाट्रिक हेमेटोलाजी-आंकोलॉजी (Pediatric Hematology-Oncology) विभाग की प्रमुख डॉ नीता राधाकृष्णन (Dr Nita Radhakrishnan) के मुताबिक, यह भले ही नई स्टडी हो, लेकिन इससे पहले भी यह बात सामने आ चुकी है कि फिजिकल एक्टिविटी कैंसर के खतरे को कम करने का काम करती है. फिजिकल एक्टिविटी मूल रूप से हमारे इम्यून सिस्टम को बेहतर करती हैं. हमारे शरीर में ट्यूमर निगरानी प्रणाली (tumor surveillance system) होती है. जब भी शरीर में कोई कैंसर विकसित होता है तो यह ट्यूमर निगरानी प्रणाली की विफलता के कारण ही होता है.

    यह भी पढ़ें- कैंसर से ठीक होने पर भी 45 साल की उम्र तक हार्ट डिजीज का 7 गुना ज्यादा रिस्क – स्टडी

    किस तरह एक्सरसाइज है फायदेमंद
    इस रिपोर्ट में डॉ नीता राधाकृष्णन (Dr Nita Radhakrishnan) ने आगे बताया, ‘एक्सरसाइज हमारे इम्यून स्टेटस (immune status) में सुधार से जुड़ा है और ये ब्रेस्ट, कोलन और गट कैंसर (Breast, colon and gut cancer) से जुड़ा है. एक्सरसाइज से हमारे शरीर में खाने के आंत के माध्यम से चलने में सुधार आता है. इस तरह यदि कोई व्यक्ति फिजिकली ज्यादा एक्टिव है, तो उसके शरीर का पूरा सिस्टम अच्छी तरह से काम करता है और कैंसर की आशंका कम होती है. आज के बिजी रूटीन में एक्सरसाइज बहुत मददगार साबित हो सकती है. अगर ये कहा जाए कि इससे कैंसर के मामले एक या दो पर्सेंट कम हो सकते हैं ,तो यह भी एक बड़ा अंक है.’

    यह भी पढ़ें-  कॉफी पीने के नुकसान और फायदे जानते हैं? स्टडी में सामने आए चौंकाने वाले नतीजे

    कैंसर में इम्यून सिस्टम की भूमिका
    एमडी, एफएएमएस (MD, FAMS) और मैक्स आंकोलॉजी (Max Oncology) के प्रिंसिपल डायरेक्टर डॉ. पीके जुल्का (Dr. PK Julka) के अनुसार, ‘कैंसर से हमारा इम्यून सिस्टम ही लड़ता है. ये ही कैंसर कोशिकाओं (Cells) को बढ़ने से रोकता है. हमारे इम्यून सिस्टम को एक्सरसाइज से मजबूती मिलती है. इस तरह एक्सरसाइज सीधे तौर पर कैंसर को रोकने का काम करती है.’

    (इनपुट एजेंसी एएनआई से भी)

    Tags: Cancer, Health, Health tips, Lifestyle

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें