बच्चों में बढ़ता मोटापा सेहत के लिए है खतरनाक, बरतें ये सावधानियां

बच्‍चों को जंक और फास्ट फूड खिलाने से बचें.  Image/shutterstock

बच्‍चों को जंक और फास्ट फूड खिलाने से बचें. Image/shutterstock

बच्‍चों के बढ़ते वजन (Weight) की वजह शारीरिक सक्रियता (Physical Activity) में कमी के अलावा खान-पान में तेल-मसालों वाली और वसायुक्त चीजों का सेवन भी है. वहीं दिन भर कुछ न कुछ खाते रहने की आदत से भी मोटापा बढ़ता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 8:52 AM IST
  • Share this:
बढ़ते वजन की समस्‍या से न सिर्फ बड़े ही परेशान हैं, बल्कि अब बच्‍चे भी इससे जूझ रहे हैं. छोटी उम्र में बच्‍चों के भारी होते शरीर (Child Obesity) की वजह से जहां उन्‍हें खेलने, चलने में दिक्‍कत आती है, वहीं उनके लिए कोई काम करना भी मुश्किल हो जाता है. दरअसल, इसकी वजह जहां जीवनशैली (Lifestyle) में बदलाव है, वहीं खान-पान में तेल-मसालों वाली चीजों का सेवन, चॉकलेट, पिज्‍जा, फ्रेंच फ्राइज और मीठी चीजें भी वजन (Weight) को बढ़ा रही हैं. फिर आज कल बच्‍चे आउटडोर खेलों की बजाय इंडोर गेम खेलने लगे हैं. इससे भी उनकी शारीरिक सक्रियता में कमी आई है. हालांकि अगर समय पर बच्‍चों पर ध्यान दिया जाए और उनकी कुछ आदतों में बदलाव किया जाए तो मोटापे की समस्‍या को बढ़ने से रोका जा सकता है.

अगर आपके बच्‍चे का वजन भी तेजी से बढ़ रहा है, तो इसके लिए आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. ताकि उसके बढ़ते वजन की वजह को जाना जा सके और इसका इलाज किया जा सके. इसके अलावा आप कुछ अन्‍य अहम कदम उठा कर भी अपने बच्‍चे के बढ़ते वजन को नियंत्रित करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं. इसके लिए कुछ टिप्‍स को फॉलो कर सकते हैं-

जंक और फास्ट फूड से बनाएं दूरी

इस बात का ध्‍यान रखें कि आपके बच्‍चे का आहार संतुलित हो. वह पोषक तत्‍वों से युक्‍त होना चाहिए मगर उनके आहार से वसायुक्त आहार कम करें. साथ ही उन्‍हें जंक और फास्ट फूड खिलाने से भी बचें. इससे वजन बढ़ सकता है.
ये भी पढ़ें - गर्मियों में बच्‍चों की डाइट में जरूर शामिल करें ये चीजें, नहीं पड़ेंगे बीमार

पर्याप्‍त मात्रा में पिएं पानी

डोलस्‍टाउन हेल्थ की एक रिपोर्ट के मुताबिक दिन भर हाइड्रेटेड रहना महत्वपूर्ण है. पर्याप्‍त पानी पीने से जहां सेहत बेहतर बनाए रखने में मदद मिलेगी, वहीं इससे पेट भरा हुआ लगेगा. ऐसे में बच्‍चों का मन शक्कर और वसायुक्त स्नैक को खाने को नहीं करेगा. साथ ही उनकी बार बार खाने की आदत में सुधार होगा.



वॉकिंग और एक्‍सरसाइज है जरूरी

अपने बच्‍चों की शारीरिक गतिविधियों को बढ़ाने पर जोर दें. इसके लिए उनके रूटीन में वॉकिंग और अन्‍य जरूरी एक्‍सरसाइज के अलावा घूमना और साइकिल चलाना शामिल करें.

बदल दें उनकी यह आदत

मोटापे की समस्‍या से बचाव के लिए जरूरी है कि कुछ आदतों में भी बदलाव किया जाए. अक्‍सर बच्‍चों की आदत होती है कि वे कुछ न कुछ खाते रहते हैं. इसलिए उनकी बार बार खाते रहने की आदत में सुधार लाएं.

आउटडोर गेम हैं बेहतर

आज कल ज्‍यादातर बच्‍चे घर पर बैठ कर मोबाइल गेम खेलते रहते हैं. या फिर वे टीवी पर कार्टून या अन्‍य चीजें देखते हैं. ऐसे में उनके स्क्रीन टाइम को सीमित करें. साथ ही उन्‍हें आउटडोर गेम खेलने को प्रोत्‍साहित करें.

ये भी पढ़ें - ये 4 टिप्‍स घर में आपके बच्‍चे की सेफ्टी के लिए हैं जरूरी

तेल-मसालों वाली चीजों से बचें

सबसे जरूरी है कि आप अपने बच्‍चे की डाइट पर पूरा ध्‍यान दें. अगर वह ज्‍यादा कैलोरी वाली चीजें ले रहा है तो उसके आहार से कैलोरीज कम करें. यानी तेल मसालों वाली चीजें और बिस्‍कुट, चिप्‍स, मिठाई और चॉकलेट से दूरी बनाएं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज