Home /News /lifestyle /

आयुर्वेद के अनुसार हेल्दी रहने के लिए इस समय पिएं दूध, जानें पीने का सही तरीका

आयुर्वेद के अनुसार हेल्दी रहने के लिए इस समय पिएं दूध, जानें पीने का सही तरीका

नमकीन चीजों के साथ भूलकर भी दूध का सेवन न करें.

नमकीन चीजों के साथ भूलकर भी दूध का सेवन न करें.

Right Time To Drink Milk: दूध में कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन बी1, बी2, बी12, विटामिन डी, मैग्नीशियम, पोटेशियम जैसे कई जरूरी तत्व पाए जाते हैं. लेकिन दूध का पीने का एक सही समय होता है. किसी भी समय दूध पी लेने से उसका सही प्रभाव शरीर पर नहीं पड़ पाता है. आयुर्वेद के अनुसार शरीर को स्वस्थ रखने और बीमारियों से बचाने के लिए रात में खाना खाने के बाद और सोने से आधे घंटे पहले ही दूध का सेवन करें.

अधिक पढ़ें ...

    Right Time To Drink Milk: बच्चों को बचपन से सिखाया जाता है कि दूध का सेवन करने से वह तेज और बुद्धिमान बनेंगे. काफी हद तक ये बात सच भी है. बच्चों के विकास के लिए उन्हें दूध का सेवन कराना बहुत ही जरूरी है. सिर्फ बच्चे ही नहीं बड़ों को भी एक सीमित मात्रा में दूध जरूर पीना चाहिए. दूध पीने से शरीर में कैल्शियम की कमी पूरी होती है. दूध हड्डियों को मजबूत बनाता है और मेमोरी को तेज करता है. लोग अक्सर भूख लगने पर दूध पी लेते हैं. एनडीटीवी की खबर के अनुसार दूध में कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन बी1, बी2, बी12, विटामिन डी, मैग्नीशियम, पोटेशियम जैसे कई जरूरी तत्व पाए जाते हैं. लेकिन दूध का पीने का एक सही समय होता है. किसी भी समय दूध पी लेने से उसका सही प्रभाव शरीर पर नहीं पड़ पाता है. आइए आपको बताते हैं कि किस समय दूध पीने से आपके शरीर को लाभ मिल सकता है.

    दूध पीने का यह है सही तरीका

    -दूध का पूरा फायदा लेना है तो इसके सेवन करने का सही समय और तरीका जानना होगा.

    -आयुर्वेद के अनुसार कभी भी दूध का सेवन खट्टे फलों के साथ नहीं करना चाहिए. यही कारण है कि आयुर्वेद में मिल्क शेक पीने के लिए मना किया जाता है.

    यह भी पढ़ें- डायबिटीज रोगियों को जरूर पीने चाहिए ये हेल्दी ड्रिंक्स, करें अपनी डाइट में शामिल

    -आयुर्वेद के मुताबिक आम, केले, खरबूजे और अन्य खट्टे फलों के साथ दूध या दही का सेवन नहीं करना चाहिए.

    -आयुर्वेद के अनुसार दूध के साथ केले का सेवन नहीं करना चाहिए. केला जब दूध के साथ मिल जाता है तब उसमें गैस्ट्रिक अम्ल बनने लगते हैं जो आंतों में जाकर समस्या उत्पन्न कर सकते हैं. दूध के साथ केला खाने से सर्दी, खांसी, एलर्जी, शरीर पर लाल चकत्ते पड़ने की संभावना हो सकती है.

    दूध पीने का सही समय

    -आयुर्वेद के अनुसार अगर आप अपनी मांसपेशियों को मजबूत बनाना चाहते हैं तो आपको दूध का सेवन सुबह के समय करना चाहिए.

    – अगर आपको नींद न आने की समस्या है तो रात में सोने से पहले अश्वगंधा के साथ दूध का सेवन करें. आयुर्वेद के अनुसार इससे मेमोरी बढ़ती है और नींद भी अच्छी आती है.

    -आयुर्वेद के मुताबिक हर व्यक्ति को दूध जरूर पीना चाहिए. हालांकि अगर आपको दूध से एलर्जी है तो इसका सेवन न करें. आयुर्वेद के अनुसार रात में खाना खाने के बाद और सोने से आधा घंटा पहले ही दूध का सेवन करें. इससे शरीर स्वस्थ रहता है.

    -जिन लोगों को दूध पीना अच्छा नहीं लगता उन्हें सुबह दूध कभी नहीं पीना चाहिए. सुबह दूध पीने से उसे पचाने में समस्या उत्पन्न हो सकती है. ऐसा करने से आप पूरे दिन सुस्त महसूस कर सकते हैं और शरीर थका हुआ रह सकता है.

    -आयुर्वेद के अनुसार 5 साल से अधिक उम्र के लोगों को सुबह खाली पेट दूध नहीं पीना चाहिए क्योंकि यह एसिडिटी की समस्या पैदा कर सकता है.

    -इसके अलावा नमकीन चीजों के साथ भूलकर भी दूध का सेवन न करें.

    इसे भी पढ़ेंः क्या आपको पसंद है सर्दियों में अदरक की चाय पीना? जानें इसके गंभीर नुकसान

    रात में दूध पीने के फायदे
    आयुर्वेद में दूध पीने का सबसे उचित समय रात में बताया गया है. आयुर्वेद के अनुसार शरीर को स्वस्थ रखने और बीमारियों से बचाने के लिए रात में खाना खाने के बाद और सोने से आधे घंटे पहले ही दूध का सेवन करें. दरअसल सोते वक्त आपकी पाचन क्रिया तेजी से काम करती है, जो दूध को अच्छी तरह से पचाने में मदद करती है. दूध में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो अच्छी नींद के लिए भी फायदेमंद साबित हो सकते हैं. वहीं रात में दूध पीने से शरीर अपने अंदर के कैल्शियम को ज्यादा बेहतर तरीके से स्टोर कर पाता है. रात को सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर जरूर पिएं. इससे इम्यूनिटी बूस्ट होती है और पाचन क्रिया में भी सुधार होता है.

    Tags: Health, Health tips, Healthy Foods, Lifestyle

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर