Home /News /lifestyle /

जान बचाकर भागी अफगानी पॉप गायिका ने सुनाई दहशत और खौफ की दास्तां

जान बचाकर भागी अफगानी पॉप गायिका ने सुनाई दहशत और खौफ की दास्तां

अफगानी पॉप सिंगर अर्याना सईद. (Image: twitter.com)

अफगानी पॉप सिंगर अर्याना सईद. (Image: twitter.com)

Afghan Pop Star Breaks Down: खौफ के साये में काबुल से भागने में सफल रहीं अफगानी महिला पॉप सिंगर ने सुनाई दर्द की दास्तान.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    Afghan Pop Star: 15 अगस्त को काबुल को अपने कब्जे में कर लेने के बाद खूंखार तालिबान का खौफ ही इतना था कि सीधे-साधे लोग हर हाल में देश छोड़कर भागना चाहते थे लेकिन सब इतने खुशनसीब नहीं रहे. कुछ ही लोग अफगानिस्तान छोड़कर बाहर जाने में सफल हो सके. इनमें से एक हैं अफगानिस्तान की पॉप स्टार अर्याना सईद (Aryana Sayeed). अर्याना पॉप जगत में काफी प्रसिद्धि पा चुकी हैं लेकिन जिस दिन तालिबान का बिना बंदूक चलाए काबुल पर कब्जा हुआ था, उसी दिन वह इतना डर गईं कि सब कुछ छोड़छाड़ कर किसी तरह वहां से भागने में सफल रहीं. तालिबान के शासन में किसी महिला का घर की चारदीवारी से बाहर निकलना मुश्किल है, ऐसे में किसी महिला पॉप गायिका को तालिबान बर्दाश्त कर ले, यह मुमकिन ही नहीं था. यही कारण था कि वह किसी तरह काबुल से जान बचाकर भाग निकलीं लेकिन जिस दर्द की दास्ता उन्होंने सुनाई, उस जानकर किसी का भी कलेजा पसीज सकता है.

    इसे भी पढ़ेंः corona vaccine news: पिछले 19 दिन में लगीं 10 करोड़ वैक्‍सीन की डोज, जानें कब तक छू पाएंगे 100 करोड़ आंकड़ा

    एक मां ने बच्चे को सौंपकर कहा, किसी तरह इसे यहां से ले जाओ

    एनडीटीवी डॉट कॉम में छपी खबर के मुताबिक अर्याना कहती हैं कि तालिबान के कब्जे के बाद वहां लोग खौफ और दहशत में जी रहे हैं. हर कोई काबुल से भागने की कोशिश कर रहा है. काबुल हवाई अड्डे पर महिलाओं और बच्चों का ऐसा हाल है कि हर किसी को रोना आ जाए. आर्याना ने बताया, ‘जिस दिन मैं काबुल हवाई अड्डे पर पहुंची, अफरा-तफरी और दहशत का माहौल था. लोग एक-दूसरे पर गिर रहे थे. यह दृश्य पूरी दुनिया ने देखा है.’ उन्होंन कहा, ‘कई लोग जबरदस्ती प्लेन में घुसने की कोशिश कर रहे थे. मैं जब भीड़ में जद्दोजहद करते हुए एयरपोर्ट पहुंची तो गेट पर ही एक महिला ने मुझे अपना बच्चा दे दिया और कहा कम से कम इसे आप अपने साथ ले जाओ. उसका रोते-रोते बुरा हाल था.’ आर्याना कहती हैं, कैसे मैं किसी बच्चे को उसकी मां से अलग कर सकती हूं.

    इसे भी पढ़ेः क्या चावल खाने के बाद आपको भी नींद आती है, जानिए क्या है कारण

    मेरा दिल टूट गया                                                                                                                आर्याना ने कहा, मैंने अमेरिकी जवानों से गुहार लगाई कि अगर किसी तरह हो सके तो क्या मैं इस बच्चे को उसकी मां के साथ ले जा सकती हूं लेकिन जवान ने मना कर दिया. मेरा दिल टूट गया. उन्होंने कहा कि मेरा दिल अफगानिस्तान की महिलाओं और लड़कियों के लिए धड़कता है. मैं उनके लिए आवज जरूर उठाती रहूंगी. उन्होंने कहा कि मैं लकी हूं कि मेरे पास ब्रिटिश पासपोर्ट है इसलिए निकल गई लेकिन उन हजारों लोगों का क्या, जो निकलना चाहते हैं लेकिन उनके पास कोई पासपोर्ट नहीं है.

    अगर अफगानिस्तान को कोई अच्छा दोस्त है तो वह है भारत                                                 

    इससे पहले एएनआई के साथ एक इंटरव्यू में पाकिस्तान को खरी-खोटी सुनाते हुए आर्याना ने कहा कि तालिबान को मजबूत करने और फंडिंग देने में पाकिस्तान की सबसे बड़ी भूमिका है. उन्होंने भारत का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि भारत अफगानिस्तान के लोगों का बहुत सम्मान करता है और हजारों शरणार्थियों को शरण दिए हुए है. अर्याना ने कहा कि बीते कई सालों में उनको यह एहसास हो चुका है कि अगर पड़ोस में कोई अच्छा दोस्त है तो वो भारत है.

    Tags: Afganistan, Afghanistan news, Afghanistan Taliban conflict, Afghanistan taliban news, Women

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर