Home /News /lifestyle /

बेबी के लिए दूध नहीं उतर रहा तो इस तरह बढ़ाएं ब्रेस्ट मिल्क

बेबी के लिए दूध नहीं उतर रहा तो इस तरह बढ़ाएं ब्रेस्ट मिल्क

पंपकीन या कदूद का शेक दूध बढ़ाने का सबसे आसान उपाय है. (Image: Shutterstock)

पंपकीन या कदूद का शेक दूध बढ़ाने का सबसे आसान उपाय है. (Image: Shutterstock)

how to increase breast milk production: नवजात शिशु (Baby) के लिए मां का दूध (Breast milk) ही सबसे बड़ा आहार है. मेडिकल साइंस के अनुसार पहले छह महीने तक शिशु को मां का दूध ही पिलाना चाहिए. लेकिन कभी-कभी हार्मोन में असंतुलन के कारण दूध पर्याप्त मात्रा में नहीं बनता है. इन समस्याओं से निजात पाने के लिए कुछ चीजें हैं जिनका सेवन करने से दूध पर्याप्त मात्रा में बनने लगता है. पंपकीन या कदूद का शेक दूध बढ़ाने का सबसे आसान उपाय है. इसका सेवन करने से मेमरी ग्लैंड में दूध तेजी से बनने लगता.

अधिक पढ़ें ...

    How to increase breast milk production: नई-नई मां बनने वाली कई महिलाओं को दूध (Milk) नहीं बनने की शिकायत रहती है. मां का दूध शिशुओं (Baby) के लिए पहला आधार है. मेडिकल साइंस के मुताबकि शिशु के जन्म के छह महीने तक मां के दूध (Breast milk) के अलावा बच्चे को कुछ भी फीड कराने की जरूरत नहीं है. यह बच्चों के पोषक तत्व का पहला स्रोत है. प्रोलेक्टिन और ऑक्सिटोसिन (prolactin and oxytocin) हार्मोन के कारण मां के शरीर में दूध बनता है जिससे शिशुओं को पोषक तत्व की प्राप्ति होती है. हर मां को दिन में 8 से 10 बार अपने शिशु को दूध पिलाना (breastfeed) पड़ता है लेकिन कभी-कभी हार्मोन में असंतुलन के कारण दूध पर्याप्त मात्रा में नहीं बन पाता है. इन समस्याओं से निजात पाने के लिए कुछ चीजें हैं जिनका सेवन करने से दूध पर्याप्त मात्रा में बनने लगता है. तो आइए उन चीजों के बारे में बताते हैं जिनसे मां का दूध पर्याप्त मात्रा में बनेगा.

    दूध बढ़ाने वाले फूड्स

    इसे भी पढ़ेंः Health news: सर्दी में बॉडी को गर्म रखती है हरी मिर्च, और भी हैं कई फायदे

    जीरा पंजीरी

    इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक अपने देश में बहुत पहले से नई-नई मां बनी महिलाओं को जीरा पंजीरी पीने के लिए दी जाती है. डिलीवर के पांच छह दिनों बाद गुड़, जीरा और ड्राई फ्रूट को एक साथ मिलाकर नई बनी मां को दिया जाता है. जीरा दूध प्रोडक्शन में मदद करता है.

    लहसुन

    जिन मांओं को दूध के फ्लो में दिक्कत होती है, उन्हें लहसुन का सेवन करना चाहिए. सुबह खाली पेट लहसुन की एक कली को कद्दूस कर इसका सेवन करना चाहिए. इससे दूध का फ्लो तेज होता है. लहसुन खाने के 15-20 मिनट बाद बादाम का सेवन भी करना चाहिए.

    इसे भी पढ़ेंः Health News: दो सप्ताह के अंदर लिवर को इस तरह बनाएं शुद्ध, डिटॉक्स के लिए अपनाएं ये तरीका

    ओट्स

    ओट्स और साबुत अनाज दूध बढ़ाने में काफी फायदेमंद होते हैं. इनमें बीटा ग्लूकेन (beta glucan) पाया जाता है जो प्रोलेक्टिन हार्मोन का बढ़ाता है जिससे दूध के प्रोडक्शन में बढ़ोतरी होती है.

    भुने हुए तिल

    भुने हुए तिल और सौंफ का सेवन भी दूध बढ़ाने में मददगार है.

    कद्दू का शेक

    पंपकीन या कदूद का शेक दूध बढ़ाने का सबसे आसान उपाय है. इसमें दूध, गाजर, वनीला, दालचीनी, जायफल, अदरक, शहद आदि मिलाकर शेक शेक बनाया जाता है. इसका सेवन करने से मेमरी ग्लैंड में दूध तेजी से बनने लगता. दरअसल इस शेक को पंपकीन स्पाइक लेक्टेशन शेक कहा जाता है. इसमें पंपकीन के साथ-साथ कोकनट मिल्क, मैंगो, गाजर, दालचीनी और शहद मिलाया जाता है.

    Tags: Health, Lifestyle, Milk

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर