ऑटो पर बनाया ऐसा घर, सभी सुविधा देखकर रह जाएंगे हैरान

ऑटो पर बनाया ऐसा घर, सभी सुविधा देखकर रह जाएंगे हैरान
ऑटो हाउस में हर सुविधा मौजूद है. (फोटो साभार: instagram/the.billboards.collective)

चेन्नई के अरुण प्रभु ने केवल 1 लाख रुपये में हर सुविधा से लैस यह घर बनाया है. उन्होंने इस घर का नाम रखा है- 'सोलो 0.1'.ख़ास बात यह है कि इसमें बेडरूम, लिविंग रूम, किचन, बाथटब, टॉयलेट, ऑफिस , सोलर पैनल, पानी का टैंक, दरवाजे, सीढ़ियां और कपड़े सुखाने की जगह भी है...

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 12, 2020, 4:53 PM IST
  • Share this:
हर किसी का सपना होता है एक अदद घर लेकिन कई लोग जीवन भर इसी सपने के पीछे भागते रहते हैं. लेकिन सोचिये अगर आप अपनी आमदनी कमाने के साथ ही अपना आशियाना भी बना लें तो कैसा रहे? एक व्यक्ति ने अपने आशियाने का सपना जिस तरह से साकार किया कि उसे देखकर दंग रह जाएंगे. इस व्यक्ति ने अपने ऑटो के ऊपर अपना छोटा सा आशियाना बनाया है. जी हां. यकीन नहीं हो रहा है न? लेकिन ये बात है बिल्कुल सच. इस व्यक्ति ने ऑटो रिक्शा की 36 वर्ग फुट की जगह पर बेहद खूबसूरत आशियाना बनाया है. इस आशियाने में बेडरूम, लिविंग रूम, किचन, बाथटब, टॉयलेट और ऑफिस भी है. सबसे ख़ास बात इस घर में 600 वॉट का सोलर पैनल, 250 लीटर पानी का टैंक, दरवाजे, सीढ़ियां और कपड़े सुखाने की जगह भी है. इस घर को बनाया है चेन्नई के 23 साल के अरुण प्रभु ने केवल 1 लाख रुपये में. उन्होंने इस घर का नाम रखा है- 'सोलो 0.1'.

इसे भी पढ़ें: 81 साल की दादी ने 85 फुट लंबे पोल पर किया पोल डांस, खुला रह गया सबका मुंह

इन्स्टाग्राम (instagram) पर the.billboards.collective पेज पर अरुण प्रभु का ये घर आप देख सकते हैं. दरअसल, अरुण प्रभु साल 2019 से मुंबई में झुग्गी बस्तियों में रिसर्च कर रहे हैं. रिसर्च में पता चला कि मुंबई में झोपड़ी बनाने में 5 लाख रुपये तक का खर्च आता है. इस झोपड़ी में शौचालय जैसी जरूरी सुविधाएं भी नहीं होती हैं. ऐसे में उन्होंने इस समस्या का हल निकालने का सोचा. 'सोलो 0.1' नाम के इस घर को केवल 1 लाख रुपये के खर्च में बनाया.
View this post on Instagram

Super stoked to finally reveal a project that has been in the works! SOLO 01. A stunning, utilitarian design of a portable housing system. This ingenious small space design transforms a customized THREE WHEELER into a comfy mobile home. We’ve maximized the total 6’x6’ to give you value that isn’t minimalist but fully utilitarian.The concept is the fruit of research into actual needs; we’ve outwitted complex challenges with simple solutions. Unveiling our first prototype ! As Clare Booth says “Simplicity is the ultimate sophistication” #thebillboardscollective #billboards #tinyarchitecture #portablehouse #autorickshawhouse #desicaravan #compactliving

A post shared by The BILLBOARDS® Collective. (@the.billboards.collective) on






अरुण प्रभु ने बेकार पड़ी चीजों से इस घर को बनाया है. अरुण के बनाए इस घर में केवल 2 लोग ही रह सकते हैं. इस घर को बनाने के पीछे अरुण प्रभु का उद्देश्य गरीब, मजदूर और कम आय वाले लोगों को घर की सुविधा कम बजट में उपलब्ध कराना था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज