Home /News /lifestyle /

डेंगू से ठीक होने के बाद भी लंबे समय तक रह सकते हैं ये 5 साइड इफेक्ट

डेंगू से ठीक होने के बाद भी लंबे समय तक रह सकते हैं ये 5 साइड इफेक्ट

डेंगू में गलती से भी पेन किलर का सेवन नहीं करना चाहिए.

डेंगू में गलती से भी पेन किलर का सेवन नहीं करना चाहिए.

Be Alert After Recovering From Dengue : डेंगू के खिलाफ जंग केवल इससे बचाव या इस संक्रमण से ठीक होने तक ही सीमित नहीं है. क्योंकि साधारण बुखार आता है और चला जाता है, लेकिन डेंगू के ठीक होने बाद भी लंबे समय तक समस्या बनी रहती है. वैसे तो इस जानलेवा बीमारी से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या अभी तक अच्छी है, लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि डेंगू से उबरने के बाद भी ऐसे लोगों को सेहत के प्रति सतर्क रहने की जरूरत है.

अधिक पढ़ें ...

    Be Alert After Recovering From Dengue : उत्तर और मध्य भारत में तेजी से पांव पसारने वाला मौसमी बुखार डेंगू (Dengue) इस बार पिछले साल के मुकाबले ज्यादा आक्रमक दिख रहा है. यूपी, हरियाणा, दिल्ली और मध्य प्रदेश तक इसके मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी दिख रही है. वैसे तो इस जानलेवा बीमारी से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या अभी तक अच्छी है, लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि डेंगू से उबरने के बाद भी ऐसे लोगों को सेहत के प्रति सतर्क रहने की जरूरत है.  हिंदुस्तान अखबार ने अपनी न्यूज रिपोर्ट में लिखा है कि डेंगू के खिलाफ जंग केवल इससे बचाव या इस संक्रमण से ठीक होने तक ही सीमित नहीं है. क्योंकि साधारण बुखार आता है और चला जाता है, लेकिन डेंगू के ठीक होने बाद भी लंबे समय तक समस्या बनी रहती है. जानकार इसकी वजह डेंगूं के कारण शरीर पर पड़ने वाले साइड इफेक्ट्स को मानते हैं, इसलिए लोगों को पौष्टिक आहार और नियमित दिनचर्या अपनाने पर ध्यान देना चाहिए.

    इस न्यूज रिपोर्ट में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल (Safdarjung Hospital) में कम्यूनिटी मेडिसिन विभाग (Department of Community Medicine) के प्रमुख, डॉ जुगल किशोर (Dr Jugal Kishore) ने बताया, “डेंगू से उबरने के बाद दो सप्ताह तक खुद को आराम देने की कोशिश करें. संतुलित आहार जरूर लें. पानी पर्याप्त मात्रा में पीएं. तनाव बिलकुल ना लें. पुराने लाइफस्टाइल में धीरे-धीरे लौटें. एकदम काम शुरू ना करें.”

    लंबे समय तक दिखने वाले 5 प्रमुख साइड इफेक्ट

    शरीद में दर्द होना
    डेंगू मरीजों की मांसपेशियों में दर्द सबसे आम बात है. लेकिन यह समस्या ठीक होने के बाद भी लंबे समय तक बरकरार रह सकती है.

    बाल झड़ना
    डेंगू मरीज के रोम रोम को प्रभावित करता है. इससे कई मरीजों में बाल झड़ने की समस्या भी देखने को मिलती है.

    यह भी पढ़ें- तनाव दूर करने में सोशल मीडिया ‘Memes’ हैं असरदार, मेंटल हेल्थ से जुड़े वैज्ञानिकों का दावा

    विटामिन-मिनरल्स की कमी
    डेंगू के मरीजों में विटामिन ए, डी, बी 12, ई समेत कई विटामिन और मिनरल्स की कमी हो जाती है. इससे जोड़ों का दर्द और बढ़ जाता है. कुछ लोगों में त्वचा संबंधी समस्याएं भी देखने को मिलती है.

    कमजोरी
    मरीजों को प्लेट्लेट्स की कमी के कारण ठीक होने के बावजूद भी कमजोरी महसूस होती है. इन लोगों को ज्यादा कमजोरी का सामना करना पड़ा है जिनकी इम्यूनिटी कम है. खासतौर पर बच्चों और बुजुर्गों को ठीक होने के बाद काफी समय तक दिक्कत हो सकती है.

    यह भी पढ़ें- क्या है ब्रेन फॉग? एक्सपर्ट से जानें इसके लक्षण और सावधानियां

    अवसाद/डिप्रेशन
    इंटरनेशनल जर्नल ऑफ मेंटल हेल्थ सिस्टम्स में प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार, डेंगू बुखार से पीड़ित लोगों में तनाव (Stress), अवसाद (Depression)  और चिंता (anxiety) का लेवल बढ़ जाता है. ये प्रॉब्लम ठीक होने के बाद भी कुछ समय तक बरकरार रह सकती है.

    डेंगू से ठीक होने पर क्या करें

    – बैलेंस डाइट के साथ नींबू पानी और ओआरएस घोल कुछ दिन तक लेते रहें
    – अनार, संतरा और गन्ने का रस पीना खून की मात्रा बढ़ाने के लिए जरूरी है.
    – अंडा, चिकन और मछली खाना फायदेमंद है.

    क्या ना करें

    – मच्छरदानी लगाए बिना न सोएं, इससे संक्रमण रोकने में मदद मिलेगी.
    – ऐसा ना सोचें कि दोबारा डेंगू नहीं हो सकता है, ये केवल भ्रम है.
    – हैवी एक्सरसाइज या हैवी काम न करें. जंक फूड बिल्कुल ना खाएं.

    Tags: Dengue, Health, Health News

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर