टॉयलेट सीट पर बैठने से पहले 10 बार सोच लें, कहीं आपको न हो जाए ये गंभीर बीमारी

पब्लिक टॉयलेट की सीट पर बैठने से पहले आपको 10 बार सोच लेना चाहिए कि कहीं आप अपने साथ कोई गंभीर बीमारी तो घर नहीं ले जा रहे.

टॉयलेट एक ऐसी जगह होती है जहां सबसे ज्यादा कीटाणु मौजूद होते हैं जिनसे आपको भयानक इंफेक्शन हो सकता है.

  • Share this:
    पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करना अगर आपके लिए कभी जरूरी हो जाए तो कुछ बातों को जरूर ध्यान रखें. टॉयलेट एक ऐसी जगह होती है जहां सबसे ज्यादा कीटाणु मौजूद होते हैं जिनसे आपको भयानक इंफेक्शन हो सकता है. पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल हजारों लोग करते हैं. ऐसे में गंभीर बीमारी होने का खतरा काफी हद तक बढ़ जाता है.

    कई बार तो इन बीमारियों का इलाज भी मुश्किलों भरा हो जाता है. ऐसे में पब्लिक टॉयलेट की सीट पर बैठने से पहले आपको 10 बार सोच लेना चाहिए कि कहीं आप अपने साथ कोई गंभीर बीमारी तो घर नहीं ले जा रहे. आइए आपको बताते हैं पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने से आपको किन बीमारियों से जूझना पड़ सकता है और आपको इससे बचाव के लिए क्या सावधानी बरतनी चाहिए.

    इसे भी पढ़ेंः क्या आप बार-बार आंख मसलते हैं? हो सकती है गंभीर बीमारी

    पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने से होने वाली बीमारियां

    स्ट्रेप्टोकोकस
    स्ट्रेप्टोकोकस बहुत ही भयानक बीमारी है जो गले में कई तरह के संक्रमण पैदा करती है. यह संक्रमण बहुत खतरनाक साबित हो सकता है. इससे लोगों की आवाज तक बदल जाती है. कई लोगों को तो गले का कैंसर तक हो जाता है.

    डायरिया
    पब्लिक टॉयलेट के इस्तेमाल से कई तरह के कीटाणु तथा जीवाणु शरीर पर हमला कर सकते हैं. इनके चलते लोग डायरिया से भी पीड़ित हो जाते हैं. वहीं पेट में मरोड़ तथा गैस की समस्या भी हो जाती है. कई लोगों को तो पब्लिक टॉयलेट के इस्तेमाल से लूज मोशन्स तक हो जाते हैं.

    निमोनिया
    पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने से निमोनिया की भी समस्या का सामना करना पड़ सकता है. पब्लिक टॉयलेट में कुछ ऐसे कीटाणु भी मौजूद होते हैं जो निमोनिया जैसे खतरनाक बीमारी को पैदा कर सकते हैं.

    स्किन इंफेक्शन
    पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने से इसका बुरा प्रभाव आपके स्किन पर भी पड़ सकता है. इससे आपको कई तरह की स्किन इंफेक्शन की समस्या हो सकती है. स्किन का लाल या काला हो जाना, त्वचा पर छाले पड़ जाना या फिर इचिंग और खुजली होने जैसी समस्याएं हो सकती हैं. स्किन इंफेक्शन को पूरी तरह से ठीक होने में भी काफी समय लग जाता है और इसके इलाज में भी काफी खर्चा होता है.

    पब्लिक टॉयलेट के इस्‍तेमाल में ऐसे बरतें सावधानी

    हाथों को अच्छे से धोएं
    पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने के बाद हमेशा अपने हाथों को अच्छे से धोएं. हाथों को सिर्फ पानी से नहीं बल्कि लिक्विड साबुन से कम से कम 20 सेकंड तक अच्छे से झाग लाकर, उंगलियों के कोने और नाखूनों के भीतर तक पहुंचाकर हाथ को धोएं. याद रखें कि गंदें हाथों के जरिए सबसे ज्यादा इंफेक्शन फैलता है. इसलिए हाथों को अच्छे से धोना बहुत जरूरी होता है.

    टिशू पेपर का करें इस्तेमाल
    हाथों को अच्छे से धोने के बाद, नल को टिश्यू पेपर से बंद करें और उसी टिश्यू पेपर का इस्तेमाल शौचालय का दरवाज़ा खोलने के लिए भी करें. हाथों को धोने के बाद उनसे टॉयलेट का कोई सामान न पकड़े नहीं तो हाथ फिर से गंदे हो जाएंगे.

    वाइप साथ रखें
    एंटीबैक्टीरियल वाइप अपने साथ जरूर रखें और बैठने से पहले टॉयलेट सीट को उस वाइप से पोंछ लें. इसके लिए आप सैनेटाइजर का इस्तेमाल भी कर सकती हैं. यही एक तरीका है जिससे आप स्टैफिलोकोकस और सिक्न इंफेक्शन के कीटाणुओं से बच सकते हैं.

    फ्लश को कभी हाथ न लगाएं
    पब्लिक टॉयलेट के फ्लश के हैंडल को कभी भी हाथ न लगाएं. इसके लिए टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें. पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल न जाने कितने लोग करते हैं और ऐसे में उसे पकड़ने से इंफेक्शन होने का खतरा सबसे अधिक होता है.

    फ्लश करने से पहले ढक्कन करें बंद
    फ्लश होते समय पॉट में से रोगाणु ऊपर की तरफ उड़ते हैं. इसलिए फ़्लश करते समय पॉट का ढक्कन हमेशा बंद कर दें. कुछ पब्लिक टॉयलेट में पॉट पर ढक्कन नहीं लगे होते हैं ऐसे में आप फ्लश करने से पहले दरवाजा खोल लें और फिर वहां से जल्द ही निकल जाएं.

    इसे भी पढ़ेंः हेल्दी रहने के लिए ऐसे करें इसबगोल का इस्तेमाल, कब्ज से लेकर बीपी तक की परेशानी होगी दूर

    जमीन पर न रखें सामान
    कभी भी अपने साथ कैरी कर रहे सामान को पब्लिक टॉयलेट की फर्श पर न रखें. आपको बता दें कि सार्वजनिक शौचालयों में फर्श ही वो जगह होती है जहां सबसे ज्यादा कीटाणु पाए जाते हैं.

    Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.