जानें सेहत और सौंदर्य दोनों को निखारने में किस तरह मदद करता है पुदीने का तेल

सेहत और सौंदर्य से जुड़ी कई दिक्कतों को दूर करता है पुदीने का तेल-Image/shutterstock

Benefits Of Peppermint Oil: पुदीने का तेल सिरदर्द (Headache) को दूर करने में सहायक है. इसका इस्तेमाल करने से चिंता और तनाव (Stress) की वजह से होने वाले सिरदर्द में काफी आराम मिलता है.

  • Share this:
    Benefits Of Peppermint Oil: पेट खराब हो जाने पर पुदीनहरा का इस्तेमाल तो आपने कई बार किया होगा. तो वहीं पुदीने की चटनी के ज़रिये खाने का स्वाद भी बढ़ाया होगा और इसका फेस पैक भी चेहरे पर लगाया होगा. लेकिन क्या कभी आपने पुदीने के तेल (Peppermint Oil) का इस्तेमाल सेहत और सौंदर्य (Beauty) को निखारने के लिए किया है? क्या आप इसके फायदों (Benefits) के बारे में जानते हैं? अगर नहीं तो आप यहां जान सकते हैं. आइये जानते हैं कि पुदीने का तेल सेहत और सुंदरता के लिए किस तरह से फायदेमंद है. इससे पहले ये बता दें कि पुदीने के तेल को मिंट ऑयल और पेपरमिंट ऑयल के नाम से भी जाना जाता है.

    सेहत के लिए पुदीने के तेल के फायदे 

    सिरदर्द कम करता है

    पुदीने का तेल सिरदर्द को दूर करने में सहायक है. इसका इस्तेमाल करने से चिंता और तनाव की वजह से होने वाले सिरदर्द में काफी आराम मिलता है. साथ ही तनाव को दूर करने में भी मदद मिलती है.

    ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है

    ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने में भी पुदीने का तेल काफी मदद करता है.इस तेल से स्किन पर सर्कुलेशन मोड में मसाज करने से इसमें मौजूद मेंथॉल स्किन में आसानी से अब्जॉर्ब हो जाता है और ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने में मदद करता है.

    साइनोसाइटिस से राहत देता है

    साइनोसाइटिस की दिक्कत से राहत देने में भी पुदीने का तेल मदद करता है. इस दिक्कत को दूर करने के लिए पुदीने के तेल की कुछ बूंदों को रूमाल पर डालकर सूंघा जा सकता है. साथ ही गर्म पानी में इसकी कुछ बूंदें डालकर भाप लेने से भी साइनस की दिक्कत में राहत मिलती है.

    ये भी पढ़ें: सरसों का तेल स्किन पर लाएगा निखार, जानें कैसे

    एलर्जी और इंफेक्शन दूर करता है

    पुदीने के तेल में एंटी-माइक्रोबियल, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं. ये इंफेक्शन फैलाने वाले बैक्टीरिया और फंगस को खत्म करने में मदद करते हैं और एलर्जी और इंफेक्शन को दूर करने में सहायता करते हैं. इसको रुई के ज़रिये प्रभावित जगह पर लगाने से आराम मिलता है.

    मांसपेशियों को आराम देता है

    पुदीने के तेल की मालिश करने से मांसपेशियों के दर्द में आराम मिलता है. इसमें मौजूद एंटी-स्पास्मोडिक और दर्दनिवारक गुण मांसपेशियों की ऐंठन और दर्द को दूर करते हैं. साथ ही थकान को भी दूर करने में मदद करते हैं.

    सौंदर्य के लिए पुदीने के तेल के फायदे

    मुंहासों को दूर करता है

    पुदीने के तेल का इस्तेमाल मुंहासों को दूर करने में मदद करता है. इसके लिए तेल को रुई के ज़रिये मुहांसों पर लगा सकते हैं. इसमें एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो मुंहासों के लिए ज़िम्मेदार बैक्टीरिया से लड़ते हैं और मुंहासों की वजह से चेहरे की सूजन को भी कम करते हैं.

    स्किन में ग्लो लाता है

    स्किन को ग्लोइंग बनाने के लिए भी आप पुदीने का तेल इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए आप मुल्तानी मिट्टी और खीरे का पैक बनाकर इसमें कुछ बूंदे पुदीने के तेल की मिला दें. फिर इसको बीस मिनट तक चेहरे पर लगाकर धो दें. इससे डेड स्किन निकल जाएगी और स्किन सॉफ्ट और ग्लोइंग बनेगी.

    ये भी पढ़ें: गर्मियों में निखारेंगे आपका चेहरा, पुदीने से बने ये फेस पैक

    बालों के लिए पुदीने के तेल के लिए फायदे

    बालों का टूटना-झड़ना रोकता है

    बालों का टूटना-झड़ना रोकने और बालों के विकास में भी पुदीने का तेल अच्छी भूमिका निभाता है. इसके लिए आप नारियल या जैतून का तेल लेकर इसमें कुछ बूंदें पुदीने के तेल की मिलाकर इस तेल से सिर और बालों की मसाज करें फिर एक-दो घंटे के बाद शैम्पू कर लें.

    बालों का रूखापन और रूसी दूर करता है

    बालों का रूखापन दूर करने के लिए और उनकी चमक बढ़ाने के लिए भी आप पुदीने के तेल की मदद ले सकते हैं. इसके लिए पुदीने के तेल की कुछ बूंदे आप नारियल, जोजोबा या जैतून के तेल में मिलाकर इस तेल से सिर और बालों की मसाज करें. फिर इसके एक-दो घंटे बाद शैम्पू कर लें. इससे बालों में मौजूद डैंड्रफ से भी छुटकारा मिल जायेगा.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
    Published by:Meenal Tingel
    First published: