कोविड-19 के बीच देश में बढ़ रहा बर्ड फ्लू का खतरा, ये लक्षण दिखें तो हो जाएं सावधान

बर्ड फ्लू इंफेक्शन मुर्गियों के अलावा मोर, बत्तख आदि से भी फैल सकता है. फोटो साभार/AFP

बर्ड फ्लू इंफेक्शन मुर्गियों के अलावा मोर, बत्तख आदि से भी फैल सकता है. फोटो साभार/AFP

बर्ड फ्लू अब इंसानों में भी तेजी से फैल रहा है. इसकी वजह यह है कि अक्‍सर घर में पाली जाने वाली मुर्गियों आदि से यह बीमारी इंसानों को लग जाती है, क्‍योंकि वे उसके पास होते हैं. बर्ड फ्लू का वायरस इंसानों के पक्षियों के संपर्क में रहने से फैलता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 8, 2021, 12:23 PM IST
  • Share this:
बीते साल कोरोना वायरस के डर के साए में गुजरा. इसकी वजह से लाखों लोग इसकी चपेट में आए और हजारों जानें गईं. जहां अभी तक कोरोना का खतरा टला नहीं है, वहीं अब बर्ड फ्लू फैलने की आशंका जताई जा रही है. दरअसल, इससे डर की वजह यह भी है कि बर्ड फ्लू का वायरस संक्रामक होता है. बर्ड फ्लू वायरस इंसानों के साथ पक्षियों को भी अपना शिकार बनाता है. यह एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस H5N1 की वजह से फैलता है. इसके संक्रमण के लक्षण कुछ ही दिन में दिखाई देने लगते हैं. बर्ड फ्लू इंफेक्शन मुर्गियों के अलावा मोर, बत्तख आदि से भी फैल सकता है. तेजी से फैलते इस वायरस की वजह से संक्रमित की मौत भी हो सकती है.

इस तरह पक्षियों से इंसानों में फैलता है संक्रमण

बर्ड फ्लू (Bird Flu) इंसानों में भी तेजी से फैल रहा है. इसकी वजह यह है कि अक्‍सर घर में पाली जाने वाली मुर्गियों आदि से यह बीमारी इंसानों को लग जाती है, क्‍योंकि वे उसके पास होते हैं. बर्ड फ्लू का वायरस इंसानों के पक्षियों के संपर्क में रहने से फैलता है. यह आंख, नाक और मुंह के माध्‍यम से शरीर में प्रवेश कर जाता है.

बर्ड फ्लू के लक्षण
बर्ड फ्लू के लक्षण कई तरह से सामने आ सकते हैं. इसे समझना थोड़ा मुश्किल हो सकता है, क्‍योंकि इसके लक्षण भी कुछ अलग नहीं होते. इसमें मरीज को कफ की शिकायत रहती है. साथ ही सिर दर्द के साथ नाक बहना, गले में सूजन, मांसपेशियों के अलावा पेट में दर्द, दस्त के अलावा उल्‍टी महसूस होना और थकान लगना इसके लक्षण हैं. वहीं आंखों में जलन आदि भी इसके लक्षण हो सकते हैं. गंभीर स्थिति में इसका असर हृदय गति पर भी पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें - Kidney Care Tips: किडनी की देखभाल के लिए जरूरी है वजन पर काबू

बर्ड फ्लू संक्रमण कोरोना संक्रमण से कम तकलीफदेह नहीं है. ऐसे में इससे बचने को कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए. सबसे जरूरी है कि साफ सफाई का पूरा ध्‍यान रखें, ताकि यह फैल न पाए.



-इसके संक्रमण से बचाव का बेहतर तरीका है कि हाथों को अच्‍छी तरह धोया जाए.

-पक्षियों के संपर्क में आने से बचा जाए. इसलिए जरूरी है कि अपने घर में मुर्गी, बत्तख आदि पक्षियों को न रखें.

-मांस आदि से दूरी बना लें या फिर सुरक्षित जगह से ही खरीदें.

-बर्ड फ्लू के लक्षण नजर आते ही तुरंत डाक्टर को दिखाएं.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज