लाइव टीवी

कैंसर के मरीजों के लिए बड़ी खबर, 5 साल पहले ही पता चल जाएगा बीमारी का कारण

News18Hindi
Updated: November 6, 2019, 5:08 PM IST
कैंसर के मरीजों के लिए बड़ी खबर, 5 साल पहले ही पता चल जाएगा बीमारी का कारण
कैंसर की पहचान

शोधकर्ताओं ने 180 लोगों के ब्लड सैंपल लिए. इसमें से 90 का सन्सर का इलाज चल रहा था और 90 पूरी तरह से सेहतमंद थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2019, 5:08 PM IST
  • Share this:
कैंसर के मरीजों के लिए ये खबर वाकई राहत वाली साबित हो सकती है. दरअसल, यूके के ब्रेस्ट कैंसर शोध से जुड़े शोधकर्ताओं न कहा कि अगर फंड्स की प्रॉब्लम नहीं आई तो आने वाले समय में जल्दी ही एक ऐसा ब्लड टेस्ट हो पाएगा जिसके जरिए बॉडी चेकअप के 5 साल पहली ही बॉडी में कैंसर होने की संभावना का पता लगाया जा सकेगा. इसके साथ ही बॉडी में कैंसर के लक्षण भी पता चल सकेंगे. लाइव हिंदुस्तान ने छापा है कि शोधकर्ताओं ने ये बात अबतक शोध में प्राप्त नतीजों के आधार पर कही है.

इसके लिए शोधकर्ताओं ने 180 लोगों के ब्लड सैंपल लिए. इसमें से 90 का सन्सर का इलाज चल रहा था और 90 पूरी तरह से सेहतमंद थे. लेकिन इसके बावजूद शोधकर्ता फिर से 800 मरीजों के ब्लड सैंपल लेकर अलग अलग फैक्टर्स पर आधारित टेस्ट कर रहे हैं जिससे कि यह बात सामने आ सके कि पहले किया गया शोध किस हद तक सटीक था. शोधकर्ता इसके हर पहलू की जांच कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः प्रदूषण से बचने के लिए लगाया जाने वाला मास्क भी हो सकता है खतरनाक- साइंटिस्ट

इस सिलसिले में नॉटिंघम विश्वविद्यालय के पीएचडी छात्र ने जानकारी देते हुए कहा कि जो देश कम और मीडियम कमाई वाले हैं उनके लिए रक्त की जांच जरिए स्तन कैंसर का पता शुरुआती चरण में लगने से काफी फायदा होगा.

इसे भी पढ़ेंः दिल्ली एनसीआर प्रदूषण: Pollution के असर से बचाएगा ये पानी, बनाएं ऐसे

लाइव हिंदुस्तान ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट का हवाला देते हुए लिखा कि प्रतिवर्ष तकरीबन 21 लाख महिलाएं स्तन कैंसर से पीड़ित पायी जाती हैं. साल 2018 में ब्रेस्ट कैंसर की वजह से विश्व भर में छह लाख 27 हजार महिलाओं की मृत्यु हुई. बाकी अन्य प्रकार के कैंसर की वजह से करीब 15 फीसदी महिलाओं की मौत हुई है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 3:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...