Home /News /lifestyle /

ब्रिटेन में खानपान की आदतें क्यों बदल रहे हैं लोग? जानें क्या है नया फूड ट्रेंड '5:2 डाइट'

ब्रिटेन में खानपान की आदतें क्यों बदल रहे हैं लोग? जानें क्या है नया फूड ट्रेंड '5:2 डाइट'

ब्रिटेन में अब बाहर खाने जाने कि बजाय घर पर ही छोटी-मोटी पार्टियों का चलन बढ़ने लगा है. (प्रतीकात्मक फोटो-pexels.com)

ब्रिटेन में अब बाहर खाने जाने कि बजाय घर पर ही छोटी-मोटी पार्टियों का चलन बढ़ने लगा है. (प्रतीकात्मक फोटो-pexels.com)

Britain's New Food Trend '5:2 Diet' : ब्रिटिश लोगों (British people) के बदले खानपान पर तैयार की गई सुपरमार्केट स्टोर वेटरोज (Waitrose) की हाल में जारी फूड एंड ड्रिंक रिपोर्ट (food and drink report) में बताया गया है कि ब्रिटिश लोग अब पैकेज्ड फूड के बजाय घर का बना खाना पसंद कर रहे हैं. बाहर खाने के शौकीन ब्रिटेन के लोग कोरोना के कारण लंबे समय तक घरों में रहे. इसलिए उन्हें घर पर ही बढ़िया डिश बनाने में मजा आने लगा. यहां तक कि ज्यादातर लोगों ने अपने पसंदीदा सैंडविच को भी दुकान से मंगाना बंद कर दिया है.

अधिक पढ़ें ...

    Britain’s New Food Trend ‘5:2 Diet’ : ब्रिटेन (Britain) में इन दिनों खाने-पीने नया ट्रेंड देखने को मिला है. इस नए ट्रेंड को ‘5:2 डाइट (5:2 Diet)’ नाम दिया गया है. यानी सप्ताह में 5 दिन शाकाहारी खाना ( पर्यावरण को नुकसान ना पहुंचाने वाला) दो दिन नॉनवेज खाना, डाइट में लेना है. दैनिक भास्कर अखबार में छपी न्यूज रिपोर्ट के अनुसार, यह खुलासा ब्रिटिश लोगों (British people) के बदले खानपान पर तैयार की गई सुपरमार्केट स्टोर वेटरोज (Waitrose) की हाल में जारी फूड एंड ड्रिंक रिपोर्ट (food and drink report) में किया गया है. इस रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि ब्रिटिश लोग अब पैकेज्ड फूड के बजाय घर का बना खाना पसंद कर रहे हैं. पिछले साल भर में खानपान में आए बदलाव को खंगालती इस रिपोर्ट में कहा गया है बाहर खाने के शौकीन ब्रिटेन के लोग कोरोना के कारण लंबे समय तक घरों में रहे. इसलिए उन्हें घर पर ही बढ़िया डिश बनाने में मजा आने लगा. यहां तक कि लोगों ने अपने पसंदीदा सैंडविच भी मंगाना बंद कर दिए.

    शैंपेन और एयर फ्रायर्स की सेल में बंपर बढोतरी
    इस रिपोर्ट में बताया गया है कि ब्रिटेन में अब बाहर खाने जाने के बजाय अब घर पर ही छोटी-मोटी पार्टियों का चलन बढ़ने लगा है. इसलिए शैंपेन (champagne) की सेल पिछले साल की तुलना में 40% बढ़ गई है. टिकटॉक और इंस्टाग्राम जैसे प्लेटफॉर्म्स ने भी लोगों को घर के बनी डिश खाने के लिए प्रोत्साहित किया है. घर पर ही पास्ता चिप्स बनाने के टिकटॉक ट्रेंड ने एयर फ्रायर्स (air fryers) की बिक्री 400% तक बढ़ा दी है. वहीं ये भी देखने में आया है कि फूड डिलीवरी ऐप के जरिए भी लोग ऐसी ही चीजें मंगाने लगे हैं, जिन्हें घर पर ही बनाया जा सके. इसके साथ ही लोग कुकिंग टिप्स के लिए टिकटॉक और यूट्यूब की मदद ले रहे हैं.

    यह भी पढ़ें- डेंगू से ठीक होने के बाद भी लंबे समय तक रह सकते हैं ये 5 साइड इफेक्ट

    ब्रिटेन में 31 अक्टूबर से जलवायु परिवर्तन (Climate change) को लेकर बड़ा सम्मेलन होने जा रहा है. ऐसे में रिपोर्ट के नतीजे महत्वपूर्ण है.

    प्रिंस चार्ल्स की अपील का असर
    हाल ही में ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स (Prince Charles) ने पर्यावरण से जुड़ी समस्याओं को कम करने के लिए देशवासियों से अपील की थी कि हफ्ते के कुछ दिन नॉनवेज और डेयरी प्रॉडक्ट्स न खाएं. पर ब्रिटेन के लोग कोरोना काल से ही इस मुद्दे को गंभीरता से लेने लगे थे. खानपान का ये नया ट्रेंड इसी का नतीजा है. पर्यावरण सुरक्षा के लिए लोग अब और भी तरीकों पर काम करने लगे हैं. इसमें अतिरिक्त बचा खाना दान करके इसकी बर्बादी रोकना और पैकज्ड ग्रोसरी आइटम्स न खरीदना शामिल हैं.

    हेल्दी फूड के ऑप्शंस की सर्च में लगे लोग
    इस रिपोर्ट में कहा गया है कि ऑनलाइन सर्चिंग के दौरान भी लोग खाने के हेल्दी ऑप्शंस तलाश रहे हैं. वेटरोज की साइट पर बारबेक्यू पर बने तरबूज के व्यंजनों की सर्चिंग में 65% की बढ़ोतरी देखने को मिली. वहीं नाइकरबॉकर ग्लोरी (आइस्क्रीम) की डिश की खोज में 171% वृद्धि देखी गई.

    यह भी पढ़ें- बैक्टीरिया से होगा स्किन इंफेक्शन का इलाज, चूहों पर सफल रहा प्रयोग – रिसर्च

    इसके अलावा चावल और सिरके से बनी जापानी डिश सुशी (Japanese dish sushi) की बिक्री में 54% का इजाफा हुआ. वहीं सब्जियों और मसालों की बिक्री 41% ज्यादा देखने को मिली. वहीं स्टोर के रेडिमेड उत्पादों (readymade products) की मांग कम हुई है. इसमें सैंडविच और सॉस जैसे रेडी टू ईट जैसे प्रोडक्ट्स शामिल हैं.

    Tags: Food, Health, Health News

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर