Buddha Purnima 2019: आज है बुद्ध पूर्णिमा, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्‍व

Buddha Purnima 2019: हिन्दू पंचांग के मुताबिक, वैशाख माह की पूर्णिमा के दिन ही गौतम बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति हुई थी..

News18Hindi
Updated: May 18, 2019, 5:45 AM IST
Buddha Purnima 2019: आज है बुद्ध पूर्णिमा, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्‍व
Buddha Purnima 2019: हिन्दू पंचांग के मुताबिक, वैशाख माह की पूर्णिमा के दिन ही गौतम बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति हुई थी..
News18Hindi
Updated: May 18, 2019, 5:45 AM IST
बुद्ध पूर्णिमा आज 18 मई शनिवार को वैशाख पूर्णिमा के दिन मनाई जा रही है. बौद्ध और हिंदू दोनों ही धर्म के लोग इस दिन भगवान बुद्ध के जन्मोत्सव की खुशी में जश्न मनाते हैं. इस दिन बौद्ध धर्म की आधारशिला रखने वाले महात्‍मा बुद्ध (Mahatma Buddha) का जन्म हुआ था. हिंदू धर्म की मान्यता है कि महत्मा बुद्ध भगवान विष्णु के अवतार हैं. इसलिए हिंदू भी इस त्योहार को पूरे धूमधाम के साथ मनाते हैं. इसी दिन गौतम बुद्ध को बोधि वृक्ष के नीचे महाज्ञान की प्राप्ति हुई थी. इसलिए इसी दिन उनका निर्वाण दिवस भी होता है.

बुद्ध पूर्णिमा:


हिन्दू पंचांग के मुताबिक, वैशाख माह की पूर्णिमा के दिन ही गौतम बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति हुई थी. इस साल बुद्ध पूर्णिमा 18 मई को मनाई जाएगी. बुद्ध पूर्णिमा 18 मई 2019 को सुबह 04 बजकर 10 मिनट से शुरू हो जाएगी. वहीं 19 मई 2019 को सुबह 02 बजकर 41 मिनट तक पूर्णिमा समाप्त हो जाएगी.

Opinion- प्यार की तलाश में हैं लोग! क्या शादी से उठ गया है विश्वास?

धार्मिक मान्यता के अनुसार, वैशाख माह की पूर्णिमा के रात ही गौतम बुद्ध का जन्म हुआ था. उन्हें भगवान विष्णु का 9वां अवतार माना जाता है.

वैशाख पूर्णिमा के दिन ही भगवान विष्णु के बचपन के मित्र सुदामा उनसे मिलने द्वारका पहुंचे थे. बातचीत के दौरान सुदामा ने कृष्ण से अपनी खराब आर्थिक दशा का जिक्र किया. जिस पर कृष्ण ने सुदामा को सत्यविनायक उपवास पूरे मन से करने की सलाह दी. मित्र की सलाह मानते हुए गरीब सुदामा ने ये व्रत किया और उनकी आर्थिक तंगी दूर हो गई.

बुद्ध पूर्णिमा के दिन करें ये काम:
Loading...

- इस दिन स्नान के बाद पूजाघर में भगवान विष्णु के सामने घी का दिया जलाकर पूजा-अर्चना करें. हाथ में फूल लेकर व्रत का संकल्प करें.

गर्मियों में लू से बचने के लिए ऐसे पिएं सत्तू, गर्भवती महिलाओं के लिए भी है अमृत

- पूरे घर में गंगाजल से पवित्रीकरण करें. इसके बाद मेनगेट पर हल्दी, रोली और आटे की सहायता से स्वास्तिक बनाएं.

-शाम के समय बोधिवृक्ष के नीचे दिए जलाएं. इसके बाद पेड़ की जड़ों में दूध में फूल मिलाकर अर्पित करें.

लाइफस्टाइल, खानपान, रिश्ते और धर्म से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार