लाइव टीवी

ब्लड टेस्ट से मिलेगी बायोप्सी से मुक्ति

News18Hindi
Updated: December 15, 2019, 10:42 AM IST
ब्लड टेस्ट से मिलेगी बायोप्सी से मुक्ति
ब्लड टेस्ट से मिलेगी बायोप्सी से मुक्ति

एम्स के गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी विभाग के डॉक्टर गोविंद मखारिया ने कहा कि सीलिएक में ग्लूटेन से छोटी आंत की प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया सक्रिय हो जाती है....

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 15, 2019, 10:42 AM IST
  • Share this:
कई बार शरीर में गंभीर बीमारियों के लक्षण दिखने, सिस्ट या कोई गांठ सीटी स्कैन में सामने आने पर डॉक्टर्स कोशिका (सेल) का नमूना लेकर उसकी जांच करते हैं, इसे ही बायोप्सी कहते हैं. एम्स ने ऐसे दो बायोमार्कर की पहचान की है, जिससे सीलिएक बीमारी से ग्रस्त लोगों की आंत में होने वाले नुकसान का पता लगाना संभव होगा. आइए जानते हैं इसके बारे में

सीलिएक बीमारी:
सीलिएक एक ऐसी बीमारी है जिसमें गेंहू में पाए जाने वाले प्रोटीन ग्लूटेन का सेवन करने से शरीर में प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया (immune response) होने लगता है जिस वजह से छोटी आंत को नुकसान पहुंचता है.

बायोप्सी से होने वाले नुकसान:

अभी तक इस बीमारी में आंत के अंदर मौजूद विलस को पहुंचे नुकसान का अनुमान लगाने के लिए बायोप्सी करानी पड़ती है, जिसमें मरीज को बहुत ज्यादा दर्द होता है और समय भी काफी लगता है. अब सिर्फ दो रक्त परीक्षण से ही आंत को होने वाले नुकसान का पता चल जाएगा. मरीज का इलाज जल्द और आसानी से संभव होगा.

इसे भी पढ़ें: TikTok Video: सांप ने इस तरह उतारी केंचुली, वीडियो को देखकर दंग रह जाएंगे आप

विलस खाना पचाने में मदद करता है : आंत में विलस ऐसी कार्यप्रणाली होती है जो खाने को पचाने में मदद करती है. एम्स के गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी विभाग के डॉक्टर गोविंद मखारिया ने कहा कि सीलिएक में ग्लूटेन से छोटी आंत की प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया सक्रिय हो जाती है. इस बीमारी की वजह से आंत में विलस को नुकसान पहुंचता है और इस बारे में पता नहीं चल पता, क्योंकि विलस को पहुंचे नुकसान का पता तभी लगता है जब मरीज बायोप्सी कराता है.इसे भी पढ़ें: सेक्स के लिए ही नहीं है Sexting! क्या आप जानते हैं इन मैसेज के जरिए पार्टनर बताना चाहता है आपको ये बात

(एजेंसी- भाषा)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 15, 2019, 7:58 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर