Home /News /lifestyle /

कम फिजिकल एक्टिविटी से बढ़े कैंसर के मामले, हफ्ते में 5 घंटे एक्सरसाइज है जरूरी: रिसर्च

कम फिजिकल एक्टिविटी से बढ़े कैंसर के मामले, हफ्ते में 5 घंटे एक्सरसाइज है जरूरी: रिसर्च

रिसर्च के दौरान 30 साल या इससे अधिक आयु के 3 फीसद सभी प्रकार के कैंसर मरीजों में फिजिकल एक्टिविटी की कमी पाई गई थी. (प्रतीकात्मक फोटो-shutterstock.com)

रिसर्च के दौरान 30 साल या इससे अधिक आयु के 3 फीसद सभी प्रकार के कैंसर मरीजों में फिजिकल एक्टिविटी की कमी पाई गई थी. (प्रतीकात्मक फोटो-shutterstock.com)

Cancer risk due to physical inactivity : अमेरिका में हुई एक नई रिसर्च में पाया गया है कि अगर अमेरिकी लोग हर हफ्ते 5 घंटे मध्यम से गहन स्तर (moderate to intense level) की शारीरिक गतिविधियां यानी फिजिकल एक्टिविटी करें तो, 46 हजार से अधिक कैंसर के मामलों से हर साल बचाया जा सकता है,

अधिक पढ़ें ...

    Cancer Risk Due To Physical Inactivity : आजकल के लाइफस्टाइल में अनियमित खानपान और कम फिजिकल एक्टिविटी मोटापा, डायबिटीज, हाई बीपी जैसी कई बीमारियों को न्योता देती है. लॉन्ग वर्किंग ऑवर के बाद, लॉन्ग ड्राइव करो, और इसके बाद देह में इतनी जान नहीं रहती कि व्यायाम के लिए थोड़ा समय निकालें. बस फिर तो हालत ये रहती है कि थोड़ी देर आराम करें, फिर उठें खाना खाएं और सो जाएं. बस यही दिनचर्या है जिसने हमारी लाइफ से फिजिकल एक्टिविटी को कम कर दिया है. हमने पैदल चलना छोड़ दिया है, सीढ़िया चढ़ना कम हो गया है, खाने में फ्रूट्स-ग्रीन वेजिटेबल्स खोजने से भी नहीं मिलेंगे. ऐसे में कुछ लोग तो स्ट्रेस को कम करने के लिए नशे के आदि भी हो चुके हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये सभी चीजें हमें कैसी-कैसी गंभीर बीमारियों की तरफ ले जा रही हैं. दैनिक जागरण की खबर के अनुसार अमेरिका में हुई एक नई रिसर्च में पाया गया है कि अगर अमेरिकी लोग हर हफ्ते 5 घंटे मध्यम से गहन स्तर (moderate to intense level) की शारीरिक गतिविधियां यानी फिजिकल एक्टिविटी करें तो,  46 हजार से अधिक कैंसर के मामलों से हर साल बचाया जा सकता है,

    इस रिसर्च को मेडिसिन एंड साइंस इन स्पो‌र्ट्स एंड एक्सरसाइज (Medicine & Science in Sports and Exercise’) जरनल में प्रकाशित किया गया है. इस रिसर्च से मिले डेटा अनुसार साल 2013 से 2016 के दौरान 30 साल या इससे अधिक आयु के 3 फीसद सभी प्रकार के कैंसर मरीजों में फिजिकल एक्टिविटी की कमी पाई गई थी. लेकिन महिलाओं (32,089 मामलों) में यह अनुपात पुरुषों (14,277 मामलों) के मुकाबले अधिक था.

    यह भी पढ़ें- डायबिटीज के मरीजों को इन खास फलों से करना चाहिए परहेज, नहीं तो हो सकता है नुकसान

    स्टडी में क्या निकला
    अमेरिका के दक्षिणी राज्यों जैसे केंटुकी (Kentucky), वेस्ट वर्जीनिया (West Virginia), लूसियाना (Louisiana), टेनिसी (Tennessee) और मिसीसिप्पी (Mississippi) में महिलाओं में शारीरिक गतिविधियों में कमी और कैंसर होने में अधिकाधिक समानता पाई गई. जबकि पर्वतीय राज्यों उताह (Utah), मोंटाना (Montana), व्योमिंग (Wyoming), वॉशिंगटन (Washington) और विनकानसिन (Winkansin) में महिलाओं में यह अनुपात कम पाया गया.

    यह भी पढ़ें- जानें किस तरह स्ट्रेस का पड़ता है फर्टिलिटी पर असर

    पेट के कैंसर का खतरा अधिक
    अमेरिकी कैंसर सोसाइटी (American Cancer Society) के मुताबिक यह पहला ऐसा शोध है जिसमें फिजिकल एक्टिविटी नहीं करने से कैंसर को जोड़ा गया है. उनका कहना है कि ऐसे कैंसरों में स्तन (Breast), गर्भाशय की परत (endometrial) का कैंसर, वृहदांत्र (colon) कैंसर, पेट का कैंसर, किडनी कैंसर आदि शामिल हैं. इसमें सबसे अधिक प्रतिशत 16.9 पेट के कैंसर का है. सबसे कम 3.9 यूरेनरी ब्लेडर का कैंसर शामिल है.

    Tags: Cancer, Health, Health tips, Lifestyle

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर