Home /News /lifestyle /

Health Tips: बच्चों को इन 3 वजहों से हो सकता है टाइफाइड, बचाव के लिए अपनाएं ये तरीके

Health Tips: बच्चों को इन 3 वजहों से हो सकता है टाइफाइड, बचाव के लिए अपनाएं ये तरीके

ये लक्षण 10 महीने से 15 साल की उम्र के बच्चों में दिख रहे हैं.  (प्रतीकात्मक तस्वीर)

ये लक्षण 10 महीने से 15 साल की उम्र के बच्चों में दिख रहे हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

टाइफाइड (Typhoid)साल्मोनेला एन्ट्रिका सेरोटाइप टाइफी और साल्मोनेला पैराटाइफी नाम के बैक्टीरिया (Bacteria)के कारण फैलता है. यह संक्रमण (Infection) गंदगी के कारण फैलता है. टाइफाइड हर उम्र के लोगों को हो सकता है. बच्चों को इससे कैसे बचाना है इसके बारे में हम आज जानेंगे...

अधिक पढ़ें ...
    टाइफाइड (Typhoid)एक बैक्टीरियल इंफेक्शन(Bacterial infection) है. इसे साल्मोनेला एन्ट्रिका और सेरोटाइप टाइफी नाम के दो बैक्टीरिया फैलाते हैं. टाइफाइड शरीर (Body)में घुसने के बाद कई अंगों को प्रभावित करता है. संक्रमण से होने वाली यह बीमारी (Disease) गंदगी के कारण या किसी गंदे व्यक्ति के संपर्क में आने से होती है. टाइफाइड रोग छूने से नहीं फैलता. यह बीमारी से किसी भी उम्र के लोगों को हो सकती है. आज के लेख में हम आपको बच्चों को टाइफाइड से कैसे बचाएं इसके बारे में बता रहे हैं...

    इन कारणों से बच्चों में फैलता है टाइफाइड

    1. दूषित भोजन करने से बच्चों में टाइफाइड रोग फैलने का खतरा होता है. अगर अनजाने में कोई बच्चा एस टाइफी बैक्टीरिया से संक्रमित चीजों का सेवन करता है तो टाइफाइड होने का खतरा बढ़ जाता है.

    2. दूषित पानी पीने भी बच्चे को टाइफाइड होने का खतरा होता है. बारिश के मौसम में जब बच्चे बिना फिल्टर या उबला हुआ डायरेक्ट पानी पीते हैं तो टाइफाइड होने का खतरा रहता है.

    3. अगर कोई बच्चा टाइफाइड बीमारी से जूझ रहे व्यक्ति के संपर्क में आ जाता है, तो उसके भी टाइफाइड होने का खतरा बढ़ जाता है. क्योंकि टाइफाइड एक संक्रमण रोग है. जो आम व्यक्ति में संक्रमित व्यक्ति के खासंने, छींकने या झूठा खाने से फैलता है.

    बच्चों में ऐसे दिखते हैं टाइफाइड के लक्षण

    मेडिकल न्यूज टुडे बच्चे में टाइफाइड के लक्षण 1 से 2 हफ्ते पहले दिखने लगते हैं. यह लक्षण हल्के और गंभीर दोनों हो सकते हैं. आइए जानते हैं बच्चों में टाइफाइड के मुख्य लक्षणों के बारे में....

    - 100.4 डिग्री फैहरनहाइट बुखार होना.
    - शरीर में दाने निकलना.
    - भूख में कमी आना.
    - सिर और पेट में दर्द होना.
    - थकान के साथ कमजोरी महसूस होना.
    - खांसी और गले में खराश.
    - कब्ज या डायरिया, आदि.

    नहाते समय ना करें ये 5 गलतियां, आपकी स्किन को हो सकता है नुकसान

    लक्षण दिखने पर क्या करें

    अगर किसी भी बच्चे में टाइफाइड के लक्षण दिखते हैं बिना देरी किए डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. डॉक्टर दवा के साथ ही ब्लड टेस्ट, यूरिन टेस्ट और इंजेक्शन देगा. टाइफाइड में आप इन चीजों को अपनाकर भी फायदा ले सकते हैं.

    1. बच्चो को टाइफाइड की शिकायत होने पर ज्यादा से ज्यादा लिक्विड दें. हर आधे घंटे में बच्चों को कुछ न कुछ तरल पदार्थ देते रहें. डॉक्टर ओरल रीहाइड्रेशन सोल्यूशन (ओआरएस) भी दे सकते हैं. इससे बच्चे के शरीर में पानी की कमी नहीं होगी.

    2. टाइफाइड होने पर इस बच्चों को बिल्कुल भी बाहर न जाने दें. ऐसी स्थिति में उनको ज्यादा से ज्यादा आराम करने की जरूरत होती है. आराम करने से उनको कमजोरी नहीं महसूस होगी और संक्रमण से लड़ने के लिए शरीर में ताकत रहेगी.

    3. टाइफाइड होने पर तेज बुखार आता है इसलिए बच्चे नहाते नहीं है. लेकिन इस बीमारी में साफ-सफाई रखना बहुत जरूरी है. इसलिए उन्हें स्पंज बॉथ कराएं. या फिर सूती कपड़े को गीला करके बच्चों के बदन साफ करें.

    Tags: Child Care, Health, Lifestyle

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर