बदलते मौसम में सर्दी, खांसी, जुकाम ने कर दिया परेशान ? ऐसे रखें सेहत का ख्याल

बदलते मौसम में सर्दी, खांसी, जुकाम ने कर दिया परेशान ? ऐसे रखें सेहत का ख्याल
ठंडे पदार्थों का सेवन भी कई बार बदलते मौसम में वायरल बुखार का कारण बन जाता है.

मौसम बदलते समय खांसी और फेफड़ों से संबंधित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. इससे पीडि़त मरीज को रोजाना भाप लेने के साथ नमक मिले गुनगुने पानी से गरारे करें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 18, 2020, 12:07 PM IST
  • Share this:
दिल्ली, नोएडा, कानपुर, पटना समेत पूरे उत्तर भारत में गर्मी ने दस्तक दे दी है. रात के समय हवाओं में बेशक से ठंडक का एहसास लेकिन दिन के समय कुछ लोगों को पसीना तक आ रहा है. बदलते मौसम के इस दौर में सेहत पर असर पड़ना लाजिमी है. सर्द-गर्म के इस मौसम में अगर, थोड़ी सी सावधानियां बरती जाएं तो सेहत के बुरे दौर से बचा जा सकता है.

अक्सर जब मौसम बदलता है तो लोगों को सर्दी, खांसी, बुखार, गले में खराश, उल्टी, बुखार जैसी समस्या होती है. अमूमन आम सी नजर आने वाली ये बीमारियां कब बढ़ जाती हैं और सेहत के लिए हानिकारक हो जाती है पता ही नहीं चलता है. इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ खास टिप्स. जिन्हें अपनाकर आप बदलते मौसम में बीमार होने से बच सकते हैं.

बदलते मौसम में शरीर का इम्यून सिस्टम सबसे ज्यादा प्रभावित होता है.
बदलते मौसम में शरीर का इम्यून सिस्टम सबसे ज्यादा प्रभावित होता है.




इम्यून सिस्टम होती है कमजोर



डॉक्टरों के अनुसार, बदलते मौसम में शरीर का इम्यून सिस्टम सबसे ज्यादा प्रभावित होता है. मौसम में होने वाले बदलाव के कारण इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है, जिसकी वजह से बीमारियां होती हैं. जब-जब मौसम में बदलाव होता है, तब-तब अलग-अलग तरह के बैक्टीरिया, वायरस आदि तापमान के अनुसार सक्रिय हो जाते हैं, जो हमारे शरीर पर आक्रमण करते हैं. ऐसे में यदि हमारे शरीर का इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) कमजोर होगी तो बैक्टीरिया शरीर में आसानी से जगह बनाकर उसे कमजोर करना शुरू कर देंगे.

 

इसे भी पढ़ें : हमेशा पैरों को दिखाना है खूबसूरत? बस फॉलो करिए ये 5 खास टिप्स

बदलते मौसम में शरीर को संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है.
बदलते मौसम में शरीर को संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है.


बरतनी चाहिए ये सावधानियां

- बदलते मौसम में शरीर को संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है. इसलिए इस दौरान सूती कपड़े ही पहनने चाहिए.

- बदलते मौसम में खान-पान का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है. इम्यून सिस्टम सही तरीके से काम करे,इसके लिए खाने में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन को शामिल करें.

- हमारा शरीर 75% पानी से बना हुआ है, इसलिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना बहुत जरूरी है.

- ठंडे पदार्थों का सेवन भी कई बार बदलते मौसम में वायरल बुखार का कारण बन जाता है.

- मौसम बदलने के कारण सर्दी, बुखार, खांसी या सिर दर्द जैसे लक्षण दिखाई देते हैं तो डॉक्टर की सलाह लें. बिना डॉक्टर की सलाह लिए किसी भी दवा का सेवन न करें. इससे सेहत पर नकारात्मक असर पड़ सकता है.

- मौसम बदलते समय खांसी और फेफड़ों से संबंधित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. इससे पीडि़त मरीज को रोजाना भाप लेने के साथ नमक मिले गुनगुने पानी से गरारे करें.

 

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading