लाइव टीवी

ज़्यादा चीनी से करें परहेज, बढ़ जाता है जल्दी मौत का खतरा: शोध


Updated: March 23, 2020, 6:55 AM IST
ज़्यादा चीनी से करें परहेज, बढ़ जाता है जल्दी मौत का खतरा: शोध
ज्यादा चीनी से जल्द मौत का खतरा

सेल मेटाबॉलिज्म जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार अतिरिक्त चीनी के सेवन से शरीर में यूरिक एसिड जैसे अपशिष्ट पदार्थ जमा हो जाते हैं.

  • Share this:
चीनी का ज्यादा सेवन करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है. एक हालिया शोध ने यह दावा किया है कि चीनी युक्त पदार्थ के ज्यादा सेवन से मानव शरीर पर नकारात्मक असर पड़ता है.

शोधकर्ताओं का कहना है कि जरूरी नहीं कि यह सिर्फ आपके वजन को ही प्रभावित करे. इससे अनेक तरह की बीमारियां भी हो सकती हैं. इससे जल्द मौत का खतरा भी बढ़ जाता है.

मेटाबॉलिस्म सिंड्रोम होने का खतरा :
लंदन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस के शोधकर्ता बताते हैं कि मोटोपे के अलावा भी चीनी का ज्यादा सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है. मक्खियों पर किए एक शोध के आधार पर उन्होंने बताया कि चीनी युक्त आहार का ज्यादा सेवन करने से मक्खियों में मधुमेह और मेटाबॉलिस्म संबंधी समस्याएं होने लगती हैं.



सेल मेटाबॉलिज्म जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार अतिरिक्त चीनी के सेवन से शरीर में यूरिक एसिड जैसे अपशिष्ट पदार्थ जमा हो जाते हैं. जिससे जल्दी मौत का खतरा बढ़ जाता है. हम सभी जानते हैं कि बहुत अधिक चीनी का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है. यह हमारे शीरीर में मोटापे और मधुमेह जैसी बीमारियों को जन्म देती है. इससे मेटाबॉलिस्म संबंधी विकारों के विकास से हमारा जीवन काल भी कम हो जाता है. फलों पर बैठने वाली मक्खियों पर किए गए शोध से पता चलता है कि ये सारी परेशानियां चयापाचय संबंधी बीमारियों के कारण होती हैं. शोधकर्ता डॉ हेलेना कोकेम ने कहा कि इस शोध में इंसानों की तरह, मक्खियों को उच्च-चीनी आहार खिलाया गया था.

अधिक चीनी के सेवन की वजह से मक्खियां ज्यादा मोटी हो गईं और वे इंसुलिन प्रतिरोधी भी हो गई हैं. इस शोध की मदद से आगे कई बीमारियों के उपचार का रास्ता खुलेगा.

इसे भी पढ़ें: बढ़ते बच्चों के मानसिक विकास पर बुरा असर डालते हैं जंक फूड: स्टडी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हेल्थ & फिटनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 23, 2020, 6:53 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर