• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • CORONA INFECTION INCREASES MORE IN CAFES RESTAURANTS RELIGIOUS PLACES REVEALS STUDY PUR

कैफे, रेस्तरां, धार्मिक स्थलों पर ज्यादा बढ़ता है कोरोना संक्रमणः स्टडी

कम आय वाले पड़ोस में रहने वाले लोगों में संक्रमण के आसार ज्यादा होते हैं.

स्टडी में कुछ छोटी जगहों के बारे में बताया गया है जहां व्यक्ति ज्यादा जाते हैं और बड़े शहरों में कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित भी ज्यादा होते हैं.

  • Share this:
    कोरोना (Corona) महामारी के 10 महीनों के दौर में हम फेस मास्क (Face Mask), हैंड सैनिटाइजर (Hand Sanitizer) और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए कम या ज्यादा अभ्यस्त हुए हैं. हम बाहर जाने लगे हैं, छोटे व्यवसायों में भोजन कर रहे हैं, खुली हवा में मनोरंजन का आनंद ले रहे हैं और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जा रहे हैं लेकिन मामले अभी भी बढ़ रहे हैं, हर एक दिन अधिक से अधिक लोग संक्रमित हो रहे हैं. यह इसलिए भी हुआ है क्योंकि लोगों का एक-दूसरे से मेलजोल बढ़ गया है और अधिक लोग लॉकडाउन की तुलना में अब जरूरी कामों के लिए बाहर जा रहे हैं.

    Nature.Com में पब्लिश हुई एक रिसर्च रिपोर्ट में उन स्थानों के बारे में बताया गया है जहां कोरोना वायरस से आपको संक्रमण का ज्यादा खतरा रहता है. स्टडी में कुछ छोटी जगहों के बारे में बताया गया है जहां व्यक्ति ज्यादा जाते हैं और बड़े शहरों में कोरोना वायरस से संक्रमित भी ज्यादा होते हैं. इट्स मॉडलिंग रिसर्च के अनुसार जिम, कैफे, होटल और रेस्टोरेंट्स में बीमारी के प्रसार को धीमा किया जा सकता है. स्टडी के एक लेखक और स्टैनफॉर्ड यूनिवर्सिटी के एसोशिएट प्रोफेसर ज्यूरे लेसकोवेक का कहना है कि 20 फीसदी ओक्युपेंसी में 80 फीसदी से अधिक संक्रमण कम किया जा सकता है. पूरी तरह से रिओपन करने के बाद होने वाली अधिकतम ओक्युपेंसी की तुलना में हम 40 फीसदी विजिटर ही खोते हैं.

    इसे भी पढ़ेंः वेजिटेरियन डाइट के बारे में क्‍या हैं मिथक क्‍या है सच, आप भी जानिए

    अमेरिका में हुआ शोध
    शोधकर्ताओं ने संयुक्त राज्य अमेरिका के सबसे बड़े 10 महानगरीय क्षेत्रों के भीतर कोविड 19 के संभावित प्रसार को मॉडल करने के लिए सेफ ग्राफ से सेल फोन लोकेशन डाटा इस्तेमाल किया. शोधकर्ताओं ने कैफे, किराना स्टोर, जिम और होटल के साथ-साथ डॉक्टर के कार्यालयों और पूजा स्थलों जैसे स्थानों पर देखा.

    ये भी पढ़ें - सर्दियों में हाथों की ड्राईनेस होगी दूर, ट्राई करें रवीना टंडन के ये टिप्‍स

    कम आय वाले लोगों में संक्रमण का खतरा
    स्टडी के अनुसार मेट्रो क्षेत्रों में औसतन, पूर्ण-सेवा वाले रेस्तरां, जिम, होटल, कैफे, धार्मिक संगठन और सीमित-सेवा वाले रेस्तरां फिर से खोलने पर संक्रमण में सबसे बड़ी अनुमानित वृद्धि का उत्पादन करते हैं. स्टडी ने यह भी बताया है कि कम आय वाले पड़ोस में रहने वाले लोगों में संक्रमण के आसार ज्यादा होते हैं क्योंकि उनके पास जगह छोटी होने और भीड़ बढ़ने से डिस्टेंसिंग नहीं रहती. स्टडी में बताया गया कि किराना की दूकान में जाने वाले कम आय के व्यक्ति में ज्यादा आय वाले व्यक्ति की तुलना में संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है. हालांकि स्टडी में कमियां भी हैं क्योंकि कुछ शहरों के चुनिन्दा स्थानों से ही ये डेटा लिया गया है जो एक सिमुलेशन है. जेलों, घरों, नर्सिंग होम और स्कूलों को इसमें शामिल नहीं किया गया.
    Published by:Purnima Acharya
    First published: