लाइव टीवी

COVID-19 : खाने में ज्यादा नमक इम्यून सिस्टम को कर सकता है कमजोरः शोध


Updated: March 29, 2020, 9:26 AM IST
COVID-19 : खाने में ज्यादा नमक इम्यून सिस्टम को कर सकता है कमजोरः शोध
ज्यादा नमक खाने से रोग प्रतिरोधी क्षमता कमजोर होती है.

Coronavirus: शोध में पाया गया कि नमक की उच्च मात्रा के कारण ये कोशिकाएं बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में कम प्रभावकारी साबित हो रही थीं.

  • Share this:
कोरोना वायरस से लड़ने के लिए शरीर की प्रतिरोधी क्षमता को बेहतर करना जरूरी है. अगर आप अपनी प्रतिरोधी क्षमता को मजबूत करना चाहते हैं तो खाने में नमक का प्रयोग कम करें. उच्च नमक वाला आहार सिर्फ ब्लड प्रेशर को ही नहीं बढ़ाता बल्कि रोग प्रतिरोधी क्षमता को भी कमजोर करता है. यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल बोन में किए गए एक हालिया शोध में ये खुलासा हुआ है.

शोधकर्ताओं ने चूहों पर अध्ययन किया. उन्होंने देखा कि जिन चूहों को उच्च नमक वाला आहार दिया गया उनमें बैक्टीरियल और वायरल इंफेक्शन ज्यादा हुआ. वहीं, शोध में शामिल किए गए जिन इंसानी प्रतिभागियों ने हर दिन छह ग्राम अतिरिक्त नमक का सेवन किया उनकी भी रोग प्रतिरोधी क्षमता कमजोर पाई गई. दिन में दो बार फास्ट फूड का सेवन करने से इंसान छह ग्राम अतिरिक्त नमक का सेवन कर लेते हैं. इस शोध को पत्रिका साइंस ट्रांसलेशन मेडिसिन में प्रकाशित किया गया.
खून में जांची गई ग्रैनुलोसाइट की मात्रा

सोडियम क्लोराइड इंसानों की रोग प्रतिरोधी क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव डालता है. शोधकर्ताओं ने कुछ प्रतिभागियों को हर दिन छह ग्राम अतिरिक्त नमक का सेवन कराया. ये नमक दो फास्ट फूड में मौजूद थे जैसे दो बर्गर और दो फ्रेंच फ्राई के पैकेट. एक हफ्ते बाद शोधकर्ताओं ने प्रतिभागियों के खून के नमूने लिए और उनमें मौजूद ग्रैनुलोसाइट की मात्रा को देखा. ग्रैनुलोसाइट प्रतिरोधी कोशिकाएं होती हैं जो रक्त में मौजूद होती हैं.



ज्यादा नमक खाने वालों पर दिखा ये असर



नमक की उच्च मात्रा के कारण ये कोशिकाएं बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में कम प्रभावकारी साबित हो रही थीं. ज्यादा नमक खाने से रक्त में ग्लूकोकोरटिसोइड का स्तर भी बढ़ गया. ये पदार्थ प्रतिरोधी क्षमता पर हावी होकर उसे कमजोर कर देता ह. नमक का ज्यादा सेवन करने से प्रतिरोधी क्षमता कमजोर हो सकती है.

ज्यादा नमक खाने के नुकसान

- रोजाना में नमक का सेवन ज्यादा करने से हार्ट प्रॉब्लम का खतरा बढ़ सकता है.

- एक निश्चित मात्रा से ज्यादा नमक का सेवन करने से ब्लड प्रेशर बढ़ता है.

- शरीर में ज्यादा नमक की मात्रा से डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है.

- शरीर में ज्यादा नमक होने पर पानी जरूरत से ज्यादा जमा हो सकता है, यह स्थिति वाटर रिटेंशन या फ्लूड रिटेंशन कहलाती है.
First published: March 29, 2020, 9:16 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading