Coronavirus: जानें कब बदलें मास्क और कौन सा मास्क है बेहतर, ध्यान रखें ये जरूरी बातें

Coronavirus: जानें कब बदलें मास्क और कौन सा मास्क है बेहतर, ध्यान रखें ये जरूरी बातें
कपड़े और सर्जिकल मास्क को धोने के बाद उनका प्रभाव कम होता जाता है और यह संक्रमण की चेन को तोड़ने में नाकामयाब हो जाते हैं.

मास्क (Mask) की इलास्टिक को चेक कीजिए. इनके ढीले होने पर मास्क मुंह और नाक को अच्छे से कवर नहीं कर पाएगा. अगर ऐसा होता है तो समझ जाइए नया मास्क खरीदना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated : November 29, 2020, 2:18 pm IST
  • Share this:

    'दो गज दूरी, मास्क है जरूरी' फोन पर सुनाई देने वाली यह रिंगटोन बता रही है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ फिलहाल 'फेस मास्क' (Face Mask) ही एक बड़ी ढाल है. वायरस के चलते मास्क के बड़े बाजार ने जन्म लिया है. अब तो आपके पास भी मास्क का भंडार जमा हो गया होगा, लेकिन क्या आपको मालूम हैं कि आपको अपना मास्क कितने समय बाद बदल देना चाहिए और कौन सा मास्क आपको पहनना चाहिए जो आपका संक्रमण (Infection) से पूरी तरह बचाव करें, क्योंकि यह जानना इसलिए भी जरूरी हो गया क्योंकि इन महामारी ने एक बार अपने पैर पसारने शुरू कर दिए हैं.

    कौन सा मास्क है सबसे ज्यादा प्रभावी
    बाजारों में तरह-तरह के कपड़े, सर्जिकल और एन-95 मास्क उपलब्ध हैं. हालिया अध्ययन के मुताबिक, सर्जिकल और कपड़े के मास्क 70 फीसदी तक प्रभावी हैं. मेडिकल गाइडलाइन के मुताबिक, थ्री प्लाई मास्क और फिटिड मास्क पहनना ही कोरोना से बचाव में सबसे ज्यादा प्रभावी है. आपको बता दें कि कपड़े और सर्जिकल मास्क को धोने के बाद उनका प्रभाव कम होता जाता है और यह संक्रमण की चेन को तोड़ने में नाकामयाब हो जाते हैं.

    ये भी पढ़ें - जानिए क्या है कीगल एक्सरसाइज, यौन संबंधों को बेहतर बनाने में है फायदेमंद



    मास्क को कैसे साफ और स्टोर करें
    पिछले एक साल से लोग कोरोना वायरस के साए में जी रहे हैं और विश्व स्वास्थ्य संगठन के आदेशानुसार, सार्वजनिक रूप से मास्क पहनना अनिवार्य है. यहां जरूरी है कि इनको कैसै साफ-सुथरा रखा जाए. ध्यान रहें कि मास्क को साफ जगह पर ही रखा जाए. मास्क का हाइजेनिक होना आपके स्वास्थ्य के लिहाज से बहुत जरूरी है. मास्क को घर में कहीं भी न फेंकें. रूम में एक ऐसी जगह चुनें, जहां मास्क पर गंदगी न जमें. इन्हें ज्यादा केमिकल से न धोएं.

    कब बदलें मास्क
    आप अपने मास्क को नियमित रूप से धोकर लंबे समय से बार-बार इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन याद रहें उनकी भी एक एक्सपायरी डेट होती है. हालांकि यह निश्चित नहीं है, लेकिन यह मास्क के कपड़े की क्वालिटी पर निर्भर करता है. यह इस बात पर भी निर्भर करता है आप इसे कितने समय से पहन रहे हैं. उदाहरण से समझिए, अगर आप रोजाना सफर के दौरान ज्यादा से ज्यादा लोगों के संपर्क में आते हैं तो आपको जल्द से जल्द मास्क बदलने की जरूरत है. मास्क के फटने, कपड़ा धीला होने पर इसे तुरंद बदल दें.

    कचरे के डिब्बे में कब डालें मास्क
    -मास्क को बदलने के लिए ऊपर दिए गए कुछ कारणों के अलावा आप अपना मास्क इन वजहों से भी कचरे के डिब्बे में डाल सकते हैं.

    -यदि आप अपना मास्क मुंह और नाक पर बार-बार एडजस्ट करते हैं तो वक्त आ गया है इसे बाय-बाय कह दें.

    -मास्क की इलास्टिक को चेक कीजिए. इनके ढीले होने पर मास्क मुंह और नाक को अच्छे से कवर नहीं कर पाएगा. अगर ऐसा होता है तो समझ जाइए नया मास्क खरीदना है.

    -मास्क के बार-बार धोने पर वह झरझरा गया है या पतला हो गया है तो तुरंत डस्टबीन में डाल दें.

    -यदि आपके मास्क में कोई छेद हो गया है तो इसे दोबारा पहनने की गलती कतई न करें. छेद छोटा हो या बड़ा भलाई इसी में है कि उसे तुरंत डिस्पॉज कर दें.

    इसे भी पढ़ेंः वजन कम करने के लिए अपनी डाइट में कुछ इस तरह शामिल करें ये भारतीय डिशेज

    आपके पास होने चाहिए कितने मास्क
    अगर आप अभी भी अपने सबसे पहले मास्क को पहन रहे हैं तो यह आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है. कोशिश करें कि आपके पास दो से तीन मास्क जरूर हों. सफर के दौरान एक से ज्यादा मास्क रखना आपके स्वास्थ्य से लाभदायक होगा. पसीने आने की स्थिति में मास्क पूरी तरह गीला हो जाता है. गीला मास्क आपको सांस लेने में तकलीफ पैदा करेगा. इसलिए जरूरी है कि आप दो से तीन मास्क अपने पास जरूर रखें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)