लॉकडाउन में दिमाग को शांत रखेंगे ये 5 फूड, स्ट्रेस भी होगा कम

लॉकडाउन में दिमाग को शांत रखेंगे ये 5 फूड, स्ट्रेस भी होगा कम
लॉकडाउन में दिमाग को शांत रखने के लिए कुछ चीजों का सेवन जरूरी है.

स्ट्रेस को कम करने के लिए योग, एक्सरसाइज के अलावा कुछ फूड्स को भी खाने में शामिल किया जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2020, 1:58 PM IST
  • Share this:
कोरोना वायरस (Corona virus) के कारण देश पूरी तरह से लॉकडाउन (Lockdown) है. लॉकडाउन के कारण लोगों के जीवन में कई तरह के बदलाव आए हैं. इस बदलाव के कारण लोगों के दिमाग में कई तरह के नेगेटिव ख्याल आ रहे हैं. लोगों में स्ट्रेस का स्तर बढ़ रहा है. स्ट्रेस को कम करने के लिए लोग कई तरह के काम कर रहे हैं.

स्ट्रेस को कम करने के लिए कुछ लोग योग, कुछ एक्सरसाइज तो कुछ लोग किताबों का सहारा ले रहे हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं इन चीजों के साथ अगर, खान पान में कुछ चीजों को शामिल किया जाए तो भी स्ट्रेस का स्तर कम हो सकता है. आइए जानते हैं उन फूड्स के बारे में जो स्ट्रेस को कम करने में सहायक साबित हो सकते हैं.

दही (Yogurt)



हेल्थलाइन पर प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, दही कोर्टिसोल के स्तर को कम करने में मददगार साबित हो सकता है. अध्ययनों से पता चला है कि दही जैसे प्रोबायोटिक खाद्य पदार्थ मुक्त कणों और न्यूरोटॉक्सिन को रोककर मानसिक स्वास्थ्य और मस्तिष्क के कार्य को बढ़ावा दे सकते हैं.
कैमोमाइल टी

कैमोमाइल टी में शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट (Anti-Oxidant) होते हैं जो शरीर को बीमारियों से बचाते हैं. एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि कैमोमाइल टी के एंटीऑक्सिडेंट तत्व चिंता के स्तर को कम करते हैं.

ओटमील (Oats Meal)

शहरी क्षेत्रों में अक्सर ओटमील का इस्तेमाल नाश्ते के तौर पर किया जाता है. ओटमील में मौजूद कॉम्प्लैक्स कार्बोहाइड्रेट दिमाग में सेरोटोनिन रिलीज करने में मदद करते हैं. ओटमील में कुछ ऐसे तत्व भी पाए जाते है, जो इंसान को अच्छा महसूस करवा सकते हैं.

ग्रीन टी (Green Tea)

कई अध्ययनों में ग्रीन टी को स्ट्रेस बूस्टर कहा गया है. ग्रीन टी में थीनिन नामक एक एमिनो एसिड पाया जाता है, जो दिमाग के फंक्शन को फ्रेश रखने में मददगार साबित हो सकता है.

डार्क चॉकलेट (Dark chocolate)

डार्क चॉकलेट किसको खाना पसंद नहीं होता है. डॉर्क चॉकलेट सिर्फ जुबान का स्वाद नहीं बढ़ाती है बल्कि सेहत के लिए बहुत फायदेमंद मानी जाती है. एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि डार्क चॉकलेट में पॉलीफेनोल पाए जाते हैं जो कोर्टिसोल के स्तर को कम करते हैं. डार्क चॉकलेट खाने से भी न्यूरोट्रांसमीटर सेरोटोनिन का स्तर बढ़ता है, जो चिंता को कम करने में मददगार साबित हो सकती है.

 

इसे भी पढ़ें : 

लॉकडाउन खत्‍म होते ही तुरंत न करें ये सारे काम, इन कामों को करने से बचें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading