पार्टनर की आलोचना करना पड़ सकता है महंगा

News18Hindi
Updated: August 16, 2019, 4:46 PM IST
पार्टनर की आलोचना करना पड़ सकता है महंगा
हम लगातार अपने पार्टनर की आलोचना कर रहे होते हैं और वह हमारी बातों को हंसकर टाल देता है. लेकिन एक व़क्त आता है जब पानी सर के ऊपर चला जाता है और आपका पार्टनर आपकी इस आदत से चिढ़ चुका होता है

हम लगातार अपने पार्टनर की आलोचना कर रहे होते हैं और वह हमारी बातों को हंसकर टाल देता है. लेकिन एक व़क्त आता है जब पानी सर के ऊपर चला जाता है और आपका पार्टनर आपकी इस आदत से चिढ़ चुका होता है

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 16, 2019, 4:46 PM IST
  • Share this:
आदतन आलोचना करने की आदत आपके रिश्ते की नींव को नष्ट कर सकता है. यह ज़रूरत से ज्यादा बोला गया कथ्य नहीं है, बल्कि रिलेशनशिप एक्सपर्ट और रिसर्चर जॉन गॉटमैन का मानना है कि तलाक के शिर्ष कारणों में से एक यह भी है. हालांकि वैसे कपल जिनकी शादी नहीं हुई है, उनके रिश्ते पर भी आलोचना का बुरा असर पड़ सकता है.

हम जानते हैं कि कोई भी शख्स परफेक्ट नहीं होता. शुरुआत में आप एक दूसरे को उतने करीब से नहीं जानते, उनकी आदतों का पता नहीं होता. लेकिन जब आप साथ रहने लगते हैं तो अच्छी-बुरी सभी आदतों के साक्षी बनते हैं. इस बीच आपको हर बात पर टोकने और निंदा करने की आदत हो जाती है. कभी-कभी यह अनजाने में हो रहा होता है. हम लगातार अपने पार्टनर की आलोचना कर रहे होते हैं और वह हमारी बातों को हंसकर टाल देता है. लेकिन एक व़क्त आता है जब पानी सर के ऊपर चला जाता है और आपका पार्टनर आपकी इस आदत से चिढ़ चुका होता है. यहीं से रिश्ते खराब होना शुरू हो जाते हैं क्योंकि आप अपनी इस आदत पर एक या दो दिन ही नियंत्रण कर सकते हैं. कुछ दिनों बाद आप फिर वही चीजें दोहराएंगे.

आपको समझना होगा कि आप शिकायत कर रहे हैं या आलोचना

आलोचना करना बुरी बात नहीं है. आपको यह भी समझना होगा की आलोचना करना और आदतन आलोचना करने में अंतर है. जैसे लड़कियों को ज्यादार पुरुषों के मिसमैनेज्ड तरीके से रहने की आदत परेशान करती है. वह उन्हें अक्सर इस बात के लिए टोकती हैं. बार-बार टोकती हैं. एक वक्त आता है जब ऑफिस जाते या ऑफिस से आने के साथ ही वो शुरू हो जाती हैं. यही आदत आपको बदलनी पड़ेगी.

ये बात समझिए कि हर चीज को कहने- सुनने का एक वक्त होता है. कभी-कभी आप समझ नहीं पाते की आप अपने पार्टनर से शिकायत कर रहे हैं या उसकी आलोचना. ऐसे में आप इस दौरान अपनी भाषा पर ध्यान दें. क्या आपने 'तुम हमेशा ऐसे करते हो' जैसी चीज़ों का इस्तेमाल किया? अगर हां, तो यह शिकायत है. 'तुम कभी नहीं सुधर सकते' अगर ऐसे शब्दों का प्रयोग किया गया है तो आप अपने पार्टनर की अनजाने में ही सही पर आलोचना कर रहे हैं.

पार्टनर के लिए कठोर शब्दों का प्रयोग करना, उस पर चीखना चिल्लाना, उसके कैरेक्टर पर सवाल उठाना, उसकी आदतों पर हमेशा चिक-चिक करना जैसी सारी आदतें आलोचना के अंतर्गत आती हैं.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रिश्ते से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 16, 2019, 4:46 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...